कोरोना को देखते हुए पीवी सिंधु के डेनमार्क ओपन में खेलने पर सस्पेंस बरक़रार

थॉमस और उबेर कप के स्थगित होने के बाद अगले महीने होने वाला डेनमार्क ओपन अप्रैल के बाद पहला अंतर्राष्ट्रीय बैडमिंटन टूर्नामेंट होगा।

लेखक सैयद हुसैन ·

कोरोना वायरस (COVID-19) महामारी की वजह से भारतीय महिला बैडमिंटन स्टार पीवी सिंधु (PV Sindhu) डेनमार्क ओपन में खेलने को लेकर भी संशय में हैं। सिंधु फ़िलहाल किसी तरह का जोखिम नहीं उठाना चाहतीं लिहाज़ा ऑडेन्स में 13 अक्टूबर से शुरू होने वाले सुपर 750 इवेंट के लिए वह अभी फ़ैसला नहीं कर पा रहीं हैं।

इससे पहले थॉमस और उबेर कप को 2021 तक के लिए स्थगित कर दिया गया है। यानी अगर डेनमार्क ओपन अपने प्रस्तावित समय पर खेला जाता है तो फिर COVID-19 की वजह से खेल गतिविधियां थमने के बाद ये पहला अंतर्राष्ट्रीय बैडमिंटन टूर्नामेंट होगा।

पीवी सिंधु के पिता पीनी रमन (PV Ramana) ने इंडियन एक्सप्रेस के साथ बातचीत में कहा कि, “हम अभी हालातों पर नज़र बनाए हुए हैं और 27 सितंबर तक कोई फ़ैसला लेंगे।“

“टूर्नामेंट की तारीख़ जैसे जैसे नज़दीक आएगी हमारी नज़र ऑडेन्स में कोरोना की स्थिति पर रहेगी। साथ ही साथ हम ये भी देख रहे हैं कि और कौन कौन डेनमार्क ओपन में खेल रहे हैं, हम लगातार कोच और बैडमिंटन एसोसिएशन ऑफ़ इंडिया के साथ संपर्क में हैं।“

भारतीय स्टार शटलर पीवी सिंधु इस महीने के अंत तक फ़ैसला करेंगी कि डेनमार्क ओपन में वह खेलेंगी या नहीं।

हालांकि इस इवेंट के अर्जित अंक या हार-जीत का असर टोक्यो 2020 के क्वालिफ़िकेशन पर नहीं पड़ने वाला है। लेकिन इससे रियो 2016 की रजत पदक विजेता के लिए वर्ल्ड टूर फ़ाइनल के क्वालिफ़िकेशन और उनकी सीडिंग ज़रूर प्रभावित होगी।

“हमें परेशान होने की कोई ज़रूरत नहीं है, क्योंकि हमारे लिए अगले साल होने वाला ओलंपिक अहम है। वहां एक बड़ा पदक दांव पर रहेगा।“

भारतीय शटलरों की मिली जुली प्रतिक्रियाएं

पीवी सिंधु इकलौती भारतीय शटलर नहीं हैं जो डेनमार्क ओपन में खेलने का फैसला नहीं कर पा रही हैं।

2012 लंदन ओलंपिक की कांस्य पदक विजेता साइना नेहवाल (Saina Nehwal) और उनके पति पारुपल्ली कश्यप (Parupalli Kashyap) भी ऑडेन्स में होनी वाली इस चैंपियनशिप को लेकर दुविधा में हैं।

साथ ही साथ युगल विशेषज्ञ एन सिक्की रेड्डी (N Sikki Reddy) ने भी डेनमार्क ओपन में खेलने को लेकर आख़िरी फ़ैसला नहीं किया है। लेकिन युवा लक्ष्य शर्मा (Lakshya Sharma) अगले महीने होने वाले टूर्नामेंट में जाने के लिए तैयार हैं।

डेनमार्क मास्टर्स जो 20 से 25 अक्टूबर के बीच प्रस्तावित था, उसे भी रद्द कर दिया गया है। जबकि इससे पहले थॉमस और उबेर कप जो 3 से 11 अक्टूबर के बीच डेनमार्क के आर्हस में आयोजित होने वाला था, उसे भी अगले साल तक के लिए टाल दिया गया है।

एशियन लेग के इस साल नवंबर तक होने की उम्मीद है। अप्रैल में खेली गई ऑल इंग्लैंड चैंपियनशिप के बाद से डेनमार्क पहला अंतर्राष्ट्रीय बैडमिंटन टूर्नामेंट होगा जो महामारी के बाद खेला जाएगा।