ज्वाला गुट्टा की नई एकेडमी में पहुंची बैडमिंटन स्टार पीवी सिंधु

भारतीय बैडमिंटन स्टार जो कि थाईलैंड में टूर्नामेंट खेल कर तीन हफ्ते बाद घर लौटी हैं, वह ज्वाला गुट्टा के ट्रेनिंग सेंटर में सुविधाओं का जायजा लेने पहुंची।

लेखक लक्ष्य शर्मा ·

भारतीय बैडमिंटन स्टार पीवी सिंधु (PV Sindhu) बुधवार को भारत की पूर्व शटलर ज्वाला गुट्टा (Jwala Gutta) की हैदराबाद स्थित नई एकेडमी में सुविधाओं का जायजा लेने पहुंची और उन्होंने वहां ट्रेनिंग भी की।

ज्वाला गुट्टा की एकेडमी I‘ज्वाला गुट्टा एकेडमी ऑफ एक्सीलेंस’  का उद्घाटन पिछले साल ही नवंबर में हुआ था। इस एकेडमी का मकसद देश को ज्यादा से ज्यादा प्रोफेशनल बैडमिंटन खिलाड़ी देना है।

पीवी सिंधु, जो कई मौकों पर भारतीय बैडमिंटन टीम के लिए ज्वाला गुट्टा के साथ खेल चुकी हैं, एकेडमी में नहीं जा पाई थीं क्योंकि वह पिछले साल के अंत में इंग्लैंड में ट्रेनिंग ले रही थीं

वर्ल्ड नंबर 7 सिंधु ने साल 2020 की शुरुआत थाईलैंड में एशियाई बीडब्ल्यूएफ विश्व टूर के एशियाई चरण में खेलने के साथ की। इस दौरान उन्होंने जो योनेक्स थाईलैंड ओपन (Yonex Thailand Open), टोयटा थाईलैंड ओपन (Toyota Thailand Open) और बीडब्ल्यूएफ वर्ल्ड टूर फाइनल्स (BWF World Tour Finals) में हिस्सा लिया

हालांकि भारतीय स्टार की कोर्ट में वापसी ज्यादा अच्छी नहीं रही और तीनों ही टूर्नामेंट्स में उन्हें जल्दी बाहर होना पड़ा। सिंधु हाल ही में अपने घर हैदराबाद पहुंची है।i

अब जब वह अपने घर पहुंची तो अपनी पूर्व साथी के ट्रेनिंग सेंटर में जाना नहीं भूली।

‘ज्वाला गुट्टा एकेडमी ऑफ एक्सीलेंस’ के आधिकारिक प्रवक्ता ने बताया कि "पीवी सिंधु ने सुबह के सत्र में ट्रेनिंग कर सुविधाओं का जायजा लिया।" उन्होंने अपनी बात आगे बढ़ाते हुए कहा, "वह चाहती हैं कि खिलाड़ी के लिए हमेशा अच्छा होता है अलग अलग अंतर्राष्ट्रीय स्तर के वेन्यू पर अभ्यास करें, इसको ध्यान में रखते हुए कि BWF टूर्नामेंट्स के लिए अलग अलग जगह यात्रा करनी होती है और हर तरह के माहौल में खेलना होता है।"

ज्वाला गुट्टा एकेडमी ऑफ एक्सीलेंस में खिलाड़ियों को कई कोर्ट पर खेलने की सुविधा मिलती है, उन्हें उसी तरह की सुविधा वहां मिलती है जो कि प्रोफेशनल शटलर को कोर्ट पर मिलनी चाहिए।

एकेडमी में विशेष ब्लोअर का उपयोग किया जाता है, जिसका अनुभव भारतीय खिलाड़ियों को टोक्यो ओलंपिक के अलावा दुनिया के अलग अलग कोर्ट में करना पड़ सकता है।

पुलेला गोपीचंद (Pullela Gopichand) और प्रकाश पादुकोण (Prakash Padukone) के बाद ज्वाला गुट्टा भी उन खिलाड़ियों की लिस्ट में शामिल हो गई है जिन्होंने संन्यास के बाद अपनी एकेडमी शुरू की। इस लिस्ट में भारत की ओलंपिक पदक विजेता साइना नेहवाल (Saina Nehwal) का नाम भी शामिल हो सकता है, जिन्हें हाल ही में धर्मशाला में एकेडमी शुरू करनी की इजाज़त मिल गई है।