पीवी सिंधु ने थाईलैंड बैडमिंटन इवेंट्स में प्रतिस्पर्धा करने का जताया भरोसा

अपनी ट्रेनिंग के लिए UK में रह रही भारतीय शटलर, वहां से उड़ानों पर लगाए गए यात्रा प्रतिबंधों से बचने के लिए दोहा के माध्यम से यात्रा करने की योजना बना रही है।

लेखक विवेक कुमार सिंह ·

भारतीय शटलर क्वीन पीवी सिंधु (PV Sindhu) ने अगले महीने थाईलैंड इवेंट्स के साथ शुरू होने वाले अंतरराष्ट्रीय बैडमिंटन में प्रतिस्पर्धा करने का भरोसा जताया है।

सिंधु ने आखिरी बार इसी साल मार्च में ऑल इंग्लैंड चैंपियनशिप में भाग लिया था। अब वो यूके से आने वाली उड़ानों पर यात्रा प्रतिबंध से बचने के लिए दोहा के माध्यम से BWF वर्ल्ड टूर फाइनल के अलावा दो सुपर 1000 इवेंट्स के लिए बैंकॉक जाने की योजना बना रही है।

भारतीय शटलर ने पीटीआई को बताया, “मेरी योजना जनवरी के पहले सप्ताह में बैंकॉक जाने की है। थाईलैंड में यूके से आने वाली उड़ानों को प्रतिबंधित नहीं किया गया है, इसलिए मैं दोहा से यात्रा कर सकती हूं। ये सिर्फ थाईलैंड तक पहुंचने के लिए एक योजना है।”

2016 रियो ओलंपिक की रजत पदक विजेता इंग्लैंड में अक्टूबर से मिल्टन कीन्स में नेशनल बैडमिंटन सेंटर में ट्रेनिंग कर रही हैं और अपने डाइट्स और तैयारियों पर गेटोरेड स्पोर्ट्स साइंस इंस्टीट्यूट की रेबेका रेंडल के साथ काम कर रही हैं।

कोरोना वायरस के एक नए संकट के कारण पिछले कुछ हफ्तों से यूके ने COVID-19 मामलों को काबू में रखने के लिए केंद्र सरकार ने लंदन और मिल्टन कीनेस सहित ईस्ट इंग्लैंड के कई क्षेत्रों में टियर फोर लॉकडाउन की घोषणा की है।

नया वाला 'लॉकडाउन' लोगों को केवल शिक्षा, कार्य, व्यायाम या चाइल्डकेअर के लिए यात्रा करने की अनुमति देता है। लेकिन कठोर नियमों के बावजूद, सिंधु ने कहा कि उनकी ट्रेनिंग बिना किसी रुकावट के आगे बढ़ रही है।

ब्रिटिश शटलर टोबी पेंटी (Toby Penty) और राजीव ओसेफ (Rajiv Ouseph) के साथ ट्रेनिंग कर रही भारतीय शटलर ने ईएसपीएन इंडिया से कहा, "सच कहूं तो, मैं बहुत सावधान रही हूं।"

“मैं अपना ज्यादातर समय ट्रेनिंग में बिता रही हूं। इसलिए मुझे खुशी है कि नेशनल सेंटर खुला है और मैं ट्रेनिंग करने में सक्षम हूं। यहां का जीवन हैदराबाद से बहुत अलग है, लेकिन मेरे पास बहुत अच्छा समय है।”

“ये मेरे लिए नया है और मैं इस बदलाव का पूरा आनंद ले रही हूं। मैंने ट्रेनिंग के विभिन्न पहलुओं पर भी ध्यान केंद्रित किया है और ये मेरे लिए बहुत ही अच्छा है। यहां मैं पोषण और आगे की तैयारियों पर भी अच्छे से फोकस कर रही हूं।”

थाईलैंड में होने वाले इवेंट्स ओलंपिक क्वालिफाइंग विंडो से पहले होते हैं, जो मार्च में स्विस ओपन के साथ खेले जाते हैं। हालांकि पीवी सिंधु ने अगले साल ओलंपिक के लिए पहले ही क्वालिफाई कर लिया है। लेकिन भारतीय दिग्गज शटलर जुलाई-अगस्त में टोक्यो खेलों के लिए अपनी तैयारी को और बेहतर करने के लिए उत्सुक हैं।