बैडमिंटन

डेनमार्क में अपने बैडमिंटन करियर को ट्रैक पर लाने पर होंगी शुभंकर डे की निगाहें

यूरोप से बाहर डेनमार्क ओपन में भाग लेने के लिए जा रहे भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी सुभंकर डे उस दौरान डेनिश लीग में भी खेलने का इरादा रख रहे हैं।

लेखक Utathya Nag ·

कोरोना वायरस (COVID-19) महामारी के विराम के बाद अंतरराष्ट्रीय बैडमिंटन सीज़न एक बार फिर डेनमार्क से शुरू होगा, जिसमें हिस्सा लेने के लिए भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी पूरी तरह से तैयार हैं।

ओडेंस शहर में 13 से 18 अक्टूबर, 2020 तक आयोजित होने वाला सुपर 750 डेनमार्क ओपन BWF वर्ल्ड टूर की वापसी का गवाह बनेगा। इसी के साथ करीब सात महीने के लंबे विराम के बाद शुभंकर डे (Subhankar Dey) भी कोर्ट पर वापसी करेंगे।

सुभंकर डे ने इंडियन एक्सप्रेस को बताया, “मैं फुटबॉल और टेनिस के फिर से शुरू होने के बाद इसके लिए यात्रा करने को प्रेरित हुआ। इसके अलावा डेनिश बैडमिंटन लीग भी अब दो महीने के लिए हो रही है।”

टूर्नामेंट की तैयारी और सीज़न को फिर से शुरू करने के लिए डे अपने कोच अनूप श्रीधर के नेतृत्व में बेंगलुरु में अभ्यास कर रहे हैं।

डेनमार्क ओपन के शुरुआती दौर में कनाडाई जेसन एंथनी हो-शू के खिलाफ ड्रॉ हासिल करने वाले शुभंकर डे ने कहा, “उनके सानिध्य में एक महीने ट्रेनिंग करने के बाद मैं टूर्नामेंट के लिए खुद को तैयार महसूस करता हूं।"

भारत में लॉकडाउन के दौरान उन्होंने नवी मुंबई के अपने अपार्टमेंट में अपना वक्त बिताया। हालांकि, डे मानते हैं कि इस दौरान फिट रहना आसान नहीं रहा।

भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी सुभंकर डे अपनी यूरोपीय यात्रा के दौरान सबसे अधिक लाभ उठाने का इरादा रखते हैं।

भारतीय शटलर ने आगे कहा, "मैं कभी-कभी बाहर दौड़ने चला जाता जाता, लेकिन यह पर्याप्त नहीं था। मेरा वजन बढ़ गया और मुझे नहीं लग रहा था कि मैं थॉमस कप में अपना सर्वश्रेष्ठ दे पाऊंगा। लेकिन बाद में इसे रद्द कर दिया गया।”

पीवी सिंधु और साइना नेहवाल जैसे बड़े नामों ने पहले ही सुरक्षा चिंताओं के कारण डेनमार्क ओपन से अपना नाम वापस ले लिया है। लेकिन अगर डे की बात करें तो वास्तव में उसके लिए कोई दूसरा विकल्प नहीं था।

सुभंकर डे डेनिश बैडमिंटन लीग में एक पेशेवर खिलाड़ी रहे हैं, पहले 2015 में इकास्ट FS बैडमिंटन क्लब और फिर ग्रेव स्ट्रैंड्स BK 2016 से 2019 तक उनका करियर शानदार रहा है।

वह अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट के लिए यात्रा और खर्चों की फंडिंग के लिए लीग से होने वाली कमाई पर निर्भर करते हैं।

डे सारलोरलक्स ओपन में भाग लेने के लिए भी तैयार हैं, जो उन्होंने 2018 में फाइनल में दिग्गज लिन डैन को हराकर जीता था। यह टूर्नामेंट 27 अक्टूबर से 1 नवंबर तक जर्मनी के सारब्रुकेन में आयोजित किया जाना है।

उन्होंने टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया, “हालांकि, डेनमार्क में सीज़न फिर से शुरू हो रहा है, मुझे सरलोरलक्स ओपन के बाद किसी एक टीम के लिए दो मैच खेलने को मिल सकते हैं। मैं कुछ क्लबों के संपर्क में हूं और बाकी सीज़न के लिए खेलने की संभावनाएं भी उज्ज्वल हैं।