सारलोरलक्स को बीच में छोड़कर अपने देश लौटे भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी

सेन के पिता के COVID-19 टेस्ट में पॉजिटिव पाए जाने पर लक्ष्य सेन, अजय जयराम और शुभंकर डे को सारलोरलक्स बैडमिंटन इवेंट से बाहर होना पड़ा था।

लेखक रितेश जायसवाल ·

भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी लक्ष्य सेन (Lakshya Sen), अजय जयराम (Ajay Jayaram) और सुभंकर डे (Subhankar Dey), दो दिन पहले COVID टेस्ट में नेगेटिव पाए जाने के बाद मंगलवार सुबह भारत वापस लौट आए हैं। पिछले हफ्ते टूर्नामेंट शुरू होने से एक दिन पहले मौजूदा चैंपियन लक्ष्य सेन के पिता और कोच डीके सेन (DK Sen) के COVID-19 टेस्ट में पॉजिटिव पाए जाने के बाद उन्हें मजबूरन टूर्नामेंट से बाहर होना पड़ा

2018 सारलोरक्स ओपन चैंपियन अजय जयराम और सुभंकर डे को भी सेन के साथ रहने के चलते इवेंट से बाहर होना पड़ा।

जयराम ने अपने पहले राउंड के मैच में मैक्सिम मोरील्स (Maxime Moreels) को हराया था। सेन और डे को अपने अभियान का आग़ाज़ करने से पहले ही बाहर होना पड़ा, क्योंकि उन्हें पहले दौर में बाई दी गई थी।

जर्मनी के अधिकारियों ने भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ियों को 10 नवंबर तक सेल्फ-आइसोलेशन में रहने के निर्देश दिए थे। जिसके बाद भारतीय खेल प्राधिकरण (SAI) ने अपनी इस यात्रा का खुद ही वहन करने वाले जयराम और डे की मदद के लिए अपने हाथ आगे बढ़ाए थे। 

हालांकि, तीनों खिलाड़ियों और डीके सेन को रविवार को हुए टेस्ट में नेगेटिव पाया गया और उसके एक दिन बाद उन्हें फ्रैंकफर्ट से घर वापस जाने की अनुमति दी गई। लक्ष्य सेन और उनके पिता ने बंगलुरु के लिए उड़ान भरी, जबकि अजय जयराम और सुभंकर डे ने दिल्ली के लिए उड़ान भरी।

डीके सेन ने PTI से कहा, “हम आज सुबह 5 बजे के आसपास बंगलुरु पहुंचे। हम सभी ठीक हैं और स्वस्थ हैं।”

यूरोप की यात्रा टली

लक्ष्य सेन, अज जयराम, और शुभंकर डे तीनों ही बैडमिंटन खिलाड़ियों ने BWF सीज़न के फिर से शुरू होने के बाद डेनमार्क ओपन से अपने खेल की शुरुआत की थी। इसके बाद वे जर्मनी में हुए सारलोरल्कस ओपन को खेलने के लिए पहुंचे थे।

19 वर्षीय सेन ने नवंबर के अंत तक प्रशिक्षण के लिए डेनमार्क और उसके बाद अगर संभव होता तो फ्रांस जाने की योजना बनाई थी। हालांकि, डीके सेन के कोरोना वायरस टेस्ट में पॉजिटिव पाए जाने के बाद इस पूरी योजना पर पानी फिर गया।

जयराम और डे के लिए सारलोरलक्स ओपन में इस साल कुछ महत्वपूर्ण रैंकिंग अंक और पुरस्कार राशि अर्जित करने का अंतिम मौका था।

अब वे सभी अगला टूर्नामेंट साल 2021 में खेल सकेंगे, जब BWF वर्ल्ड टूर थाईलैंड में एशियन लेग के साथ फिर से शुरू होगा।