पुलेला गोपीचंद को है ओलंपिक क्वालिफ़िकेशन के लिए BWF की कट-ऑफ़ तारीख़ का इंतज़ार

इस अवधि के दौरान BWF इंडिया ओपन, मलेशिया ओपन और सिंगापुर ओपन जैसे बड़े टूर्नामेंट शामिल थे।

भारतीय बैडमिंटन कोच पुलेला गोपी चंद (Indian badminton coach Pullela Gopi Chand) ने बैडमिंटन वर्ल्ड फेडरेशन (BWF) के 16 मार्च से 12 अप्रैल तक सभी इवेंट को स्थगित करने के निर्णय को स्वीकार किया है, वहीं, विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कोरोना वायरस (Coronavirus) को  महामारी घोषित किया है।

पुलेला गोपीचंद ने स्टार स्पोर्ट्स से बात करते हुए कहा, "यह एक अच्छा निर्णय है। इससे खिलाड़ियों, अधिकारियों और दर्शकों के स्वास्थ्य खतरे को नज़रअंदाज़ नहीं किया जा सकता है।" उन्होंने आगे कहा, "जब पूरी दुनिया बहुत सारे प्रतिबंधों को झेल रही है तो बैडमिंटन वर्ल्ड फेडरेशन अपने इवेंट के साथ आगे कैसे बढ़ सकता है।"  

ओलंपिक क्वालिफिकेशन की प्रक्रिया अभी साफ नहीं है

इस एक महीने के निलंबन की अवधि में BWF इंडिया ओपन (सुपर 500), मलेशिया ओपन (सुपर 750) और सिंगापुर ओपन (सुपर 500) जैसे बड़े टूर्नामेंट थे। वहीं, विश्व बैडमिंटन महासंघ ने कहा है कि वे आने वाले दिनों में ओलंपिक क्वालिफिकेशन प्वाइंट्स के नियमों के कारण और अपडेट मुहैया कराएंगे। वहीं, इस पर पुेलला गोपीचंद ने अपनी चिंता व्यक्त की और कहा, "हमें कट-ऑफ तारीख और टूर्नामेंट खिलाड़ियों की संख्या जानने की जरूरत है और खासतौर से जो भारत के महत्वाकांक्षी खिलाड़ी हैं। जिससे खेलों के लिए कटौती करने के लिए खेल सकें।"

भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ियों ने ओलंपिक के लिए क्वालीफाई किया

भारतीय बैडमिंटन दल ने अभी तक तीन स्पर्धाओं में महिला एकल (Women’s singles), पुरुष एकल (Men’s singles)और पुरुष युगल (Men’s doubles) में क्वालीफाई किया है। जहां पीवी सिंधु (PV Sindhu) ने ओलंपिक टोक्यो 2020 (Olympic Tokyo 2020) में महिलाओं की एकल स्पर्धा में अपना स्थान सुनिश्चित कर लिया है। जो वर्तमान में टोक्यो बैडमिंटन वर्ल्ड फेडरेशन ओलंपिक क्वालिफिकेशन की टेबल में सातवें स्थान पर हैं। वहीं, बी साई प्रणीत (B Sai Praneeth) ग्वारवहें स्थान पर हैं।

ऑल इंग्लैंड ओपन में नोज़ोमी ओकुहारा से हारीं पीवी सिंधु
ऑल इंग्लैंड ओपन में नोज़ोमी ओकुहारा से हारीं पीवी सिंधुऑल इंग्लैंड ओपन में नोज़ोमी ओकुहारा से हारीं पीवी सिंधु

ऑल इंग्लैंड ओपन में भारत के प्रदर्शन से गोपीचंद हैं नाखुश

BWF टूर्नामेंट स्थगित होने से पहले भारत का आखिरी टूर्नामेंट ऑल इंग्लैंड ओपन (All England Open) था, जिसमें जापान के नोजोमी ओकुहारा (Japan’s Nozomi Okuhara) द्वारा पीवी सिंधु को क्वार्टर फाइनल बाहर होते देखा गया था।

वहीं, पीवी सिंधु के अलावा कोई भी भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी तीसरे दौर में नहीं पहुंच सका है। साइना नेहवाल (Saina Nehwal)और किदांबी श्रीकांत (Kidambi Srikanth) पहले राउंड में बाहर हो गए, लेकिन दूसरे दौर में लक्ष्य सेन (Lakshya Sen) और अश्विनी पोनप्पा (Ashwini Ponnappa)और एन. सिक्की रेड्डी (N. Sikki Reddy) की महिला जोड़ी बाहर हो गई थी। वहीं, बर्मिंघम में भारत के प्रदर्शन के सवाल पर पूर्व ऑल-इंग्लैंड चैंपियन (former All-England champion) ने कहा कि वह एक इवेंट में बाहर होने पर "निराश" थे, जहां उन्हें 12,000 अंक मिले थे।

क्या आपको यह आर्टिकल पसंद आया? इसे अपने दोस्तों के साथ साझा करें!