ओलंपिक खेलों के टाले जाने के बाद भारतीय कोच बनाएंगे नया शेड्यूल

ओलंपिक खेलों के टाले जाने के बाद भारतीय कोच अलग रणनीति अपनाएंगे। 

अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक कमेटी (International Olympic Committee – IOC) ने टोक्यो ओलंपिक खेलों इस साल स्थगित करते हुए अगले साल 2021 में कराने का फैसला किया है। यह फैसला कोरोना वायरस के कहर के चलते लिया गया है और अभी खिलाड़ी समेत दर्शकों को भी खेलों के महाकुंभ यानि ओलंपिक खेलों के लिए इंतज़ार करना होगा।

इस विषय पर भारतीय मेंस हॉकी टीम के कोच ग्राहम रीड का मानना है कि उन्हें अपनी टीम को और मज़बूत करने का समय मिल जाएगा। ऐसे में खिलाड़ियों के प्रदर्शन पर भी सकारात्मक असर पड़ेगा। ग्राहम रीड ने हॉकी इंडिया को बताया, “यह अच्छा है कि हमे तैयारी करने का एक और साल मिल गया है और युवा खिलाड़ियों के लिए यह अच्छी बात है। हम अपनी रणनीति पर दोबारा काम करेंगे और अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं के लिए खुद को मज़बूत बनाएंगे। मैं यह देखने के लिए उत्सुक हूं कि इस समय में टीम अपनी खूबियों को कैसे निखारती है।”

वहीं भारतीय महिला हॉकी टीम जो SAI कैम्पस में अभ्यास कर रही थी, उनका भी यही मानना है। महिला टीम के कोच सोर्ड मारिने  (Sjoerd Marijne) ने बताया, “इस खबर पर खिलाड़ियों की सोच पर ज़्यादा असर नहीं पड़ा है और अभी भी वे सब सकारात्मक हैं और वे इसी तरह काम करते रहेंगे। COVID-19 की स्थिति सुधरने पर ओलंपिक गेम्स के लिए हम हॉकी इंडिया के साथ दोबारा बैठ कर नए तरीके से शुरुआत करेंगे।”

एक साल की देरी बेहतर है - गोपीचंद

भारतीय बैडमिंटन टीम के कोच पुलेला गोपीचंद ने भी ESPN से बात करते हुए इस विषय पर कहा, “यह एक अभूतपूर्व समय है। एक साल बहुत लंबा समय होता है।”

गोपीचंद का मानना है कि ओलंपिक खेल अगर नवंबर में होते हैं तो खिलाड़ियों को रणनीति बदलनी पड़ती। लेकिन अब जब इसे 2021 में आयोजित किया जाएगा तो खिलाड़ियों को ताज़ा रणनीति बनाने की जरूरत नहीं है।”

अब जब ट्रेनिंग सेंटरों को भी बंद कर दिया है तो गोपीचंद ने खिलाड़ियों को वीडियो भेजने का निर्णय लिया है ताकि सभी खिलाड़ी खुद को अच्छे से ट्रेनिंग दे सकें। इस समय उनकी नज़र क्वालिफिकेशन के नए परिदृश्यों पर भी है। उन्होंने आगे बताते हुए कहा, “अभी नहीं पता कि क्वालिफिकेशन का क्या ज़रिया होगा और हमे कुछ भी पुख्ता जानकारी मिलने के बाद ही इसके बारे में ज़्यादा सोचना होगा।”

क्या आपको यह आर्टिकल पसंद आया? इसे अपने दोस्तों के साथ साझा करें!