पीवी सिंधु और बी साई प्रणीत थाईलैंड ओपन के पहले दौर से हुए बाहर

पीवी सिंधु को पहले दौर में तीन-गेम तक चले कड़े मुक़ाबले में हार झेलनी पड़ी, बी साई प्रणीत का भी सफर थम गया, जबकि रंकीरेड्डी-पोनप्पा ने अपना पहला मुक़ाबला जीता।

लेखक विवेक कुमार सिंह ·

भारतीय बैडमिंटन दिग्गज पीवी सिंधु (PV Sindhu) को मंगलवार को योनेक्स थाईलैंड ओपन (Yonex Thailand Open) के शुरूआती दौर में ही हार का सामना करना पड़ा, जहां वो डेनमार्क की मिया ब्लिचफेल्ट (Mia Blichfeldt) से 21-16, 24-26, 13-21 से हार गईं।

रियो 2016 की रजत-पदक विजेता धीरे-धीरे अपनी लय में लौटती नज़र आईं, क्योंकि वो अपनी सर्व को सही तरीके से कर पा रही थीं और 23 वर्षीय ब्लिचफेल्ट के खिलाफ आक्रमण रवैये के साथ खेलीं।

जिसकी वजह से डेन को भी पीवी सिंधु के खिलाफ आक्रमक होना पड़ा, लेकिन भारतीय खिलाड़ी ने पहले ब्रेक पर जाने से पहले 11-7 की बढ़त हासिल कर ली थी।

पीवी सिंधु ने अपने प्रतिद्वंद्वी के खिलाफ कुछ क्रॉस-कोर्ट शॉट खेले और ब्लिचफेल्ट को गलती करने पर मजबूर किया , जबकि दूसरी ओर ब्लिचफेल्ट ने गेम में आगे निकलने के लिए पूरी कोशिश की और कई शानदार रिटर्न दिए लेकिन आखिरकार पीवी सिंधु ने ये गेम 21-16 से अपने नाम कर लिया।

दूसरा गेम भारतीय बैडमिंटन स्टार के लिए कठिन साबित हुआ। हालांकि शुरुआत में कड़ा मुकाबला हुआ, लेकिन पीवी सिंधु ने अपनी लंबी क्रॉस-कोर्ट रणनीति जारी रखने का फैसला किया, जिसका उन्हें ख़ामियाज़ा भुगतना पड़ा।

पीवी सिंधु ने अपने अनुभव का इस्तेमाल अपने प्रतिद्वंद्वी से आगे रहने के लिए किया, लेकिन ब्लिचफेल्ट इस गेम में ज्यादा बेहतर नजर आईं और मैच को निर्णायक गेम में ले जाने के लिए मजबूर कर दिया।

तीसरे गेम में ब्लिचफेल्ट ने अच्छी प्रदर्शन किया, उन्होंने पीवी सिंधु को डिफेंसिव होने के लिए मजबूर किया। जिससे भारतीय खिलाड़ी 11-6 से पीछे चली गईं।

डेन ने लगातार हमला करना जारी रखा और पीवी सिंधु उसका रिटर्न देने में असमर्थ थीं। इस तरह ब्लिचफेल्ट ने तीसरा गेम जीतकर मुक़ाबला भी अपने नाम कर लिया।

सिंधु ने मैच के बाद कहा, "मैं कह सकती हूं कि ये मेरा दिन नहीं था क्योंकि मैंने पहले गेम में अच्छा प्रदर्शन किया था। दूसरे गेम में मुझे इसे खत्म करना चाहिए था लेकिन मेरी तरफ से कुछ गलतियां हो गई थीं।"

पीवी सिंधु को योनेक्स थाईलैंड ओपन के शुरुआती दौर में मिया ब्लिचफेल्ट से मिली मात। फोटो साभार: BWF

बी साई प्रणीत भी पहले दौर में हारे

बी साई प्रणीत (B Sai Praneeth) को भी थाईलैंड ओपन में पहले राउंड में 21-16, 21-10 से हार का सामना करना पड़ा। पहले मुक़ाबले में उन्हें स्थानीय खिलाड़ी कांटाफोन वांगचारोएन (Kantaphon Wangcharoen) ने एकतरफ़ा मुक़ाबले में हराया।

साई प्रणीत मार्च के बाद पहली बार कोई प्रतिस्पर्धि मुक़ाबला खेल रहे थे। इस मैच में न उनका आक्रामक रुख दिखा और न ही वो कोर्ट में उतनी तेजी दिखा पाए। दूसरी ओर वांगचारोएन ने लगातार अंक जीतना जारी रखा और कई शानदार रिटर्न दिए।

साई प्रणीत ने दूसरे गेम में बेहतर प्रदर्शन किया, लेकिन वो वांगचरोने के शॉट्स और आक्रमक तेवर से पार नहीं पा सके और दूसरा गेम में गंवा बैठे।

सिंधु और साई प्रणीत दोनों को बैडमिंटन वर्ल्ड फेडरेशन (BWF) के COVID नियमों के अनुसार कोच के बिना ही यहां खेलना पड़ा। बैडमिंटन वर्ल्ड फेडरेशन (BWF) के COVID नियमों के अनुसार कोई भी सहायक स्टाफ खिलाड़ी के साथ नहीं जा सकता था अगर उनकी टीम में किसी का भी COVID टेस्ट पॉजिटिव आया है तो।

भारतीय कैंप में साइना नेहवाल (Saina Nehwal) और एचएस प्रणॉय (HS Prannoy) का पहले दिन ही COVID टेस्ट पॉजिटिव आया, जिससे उन्हें टूर्नामेंट से बाहर होना पड़ा, जबकि साइना के पति पारुपल्ली कश्यप (Parupalli Kashyap) को भी क्वारनटाइन में रहने के लिए कहा गया है।

बी साई प्रणीत को योनेक्स थाईलैंड ओपन के शुरुआती दौर में मिली हार।

रंकीरेड्डी और पोनप्पा की जीत के साथ शुरूआत

सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी (Satwiksairaj Rankireddy) और अश्विनी पोनप्पा (Ashwini Ponnappa) की मिश्रित युगल जोड़ी ने छठी वरीयता प्राप्त इंडोनेशियाई हाफिज फैजल (Hafiz Faizal) और ग्लोरिया एमानूएल विजाजा (Gloria Emanuelle Widjaja) के खिलाफ राउंड ऑफ 32 के मुक़ाबले को जीतकर शानदार शुरूआत की।

एक घंटे और 12 मिनट तक चले मुक़ाबले में रंकिरेड्डी-पोनप्पा ने 21-11, 27-29, 21-16 से जीत दर्ज की।

भारतीय बैडमिंटन की जोड़ी ड्रॉप शॉट और अपने स्मैश के साथ बेहतर नजर आ रही थी, हालांकि कभी-कभार दोनों के बीच गलतफहमी भी देखी गई। लेकिन इस मुक़ाबले को जीतकर ये जोड़ी अब प्री-क्वार्टर फाइनल में पहुंच गई है।

हालांकि अश्विनी पोनप्पा महिला युगल में चूक गईं, अपनी जोड़ीदार एन सिक्की रेड्डी (N Sikki Reddy) के साथ चौथी वरीयता प्राप्त किम सो योंग (Kim So Yeong) और कोंग ही योंग (Kong Hee Yong) की दक्षिण कोरियाई जोड़ी के खिलाफ कोर्ट में उतरीं, जहां वो 21-17,-21-7 से हार गईं।

भारतीय टीम के बारे में और अधिक अपडेट के लिए, हमारे थाईलैंड ओपन लाइव ब्लॉग को फॉलो करें