किदांबी श्रीकांत और साइना नेहवाल को ऑल इंग्लैंड अभियान में मिला कठिन ड्रॉ

टेनिस स्टार पीवी सिंधु ऑल इंग्लैंड ओपन 2020 में वरीयता पाने वाली इकलौती खिलाड़ी है, जबकि किदांबी श्रीकांत और साइना नेहवाल को कठिन ड्रॉ मिला।

भारतीय के युवा खिलाड़ी लक्ष्य सेन (Lakshya Sen) ऑल इंग्लैंड ओपन (All England Open) में पहली बार हिस्सा ले रहे हैं और उनका पहला मुकाबला हांगकांग के ली च्युक इउ (Lee Cheuk Yiu) से होगा।

भारत की स्टार बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु (PV Sindhu), साइना नेहवाल ( Saina Nehwal) , किदांबी श्रीकांत (Kidambi Srikanth) सहित कई खिलाड़ी 11 मार्च से बर्मिंघम एरिना में शुरू हो रही ऑल इंग्लैंड ओपन के 2020 सीजन में भाग लेंगे। 121 साल पुराने इस टूर्नामेंट में तकरीबन 18 भारतीय खिलाड़ी 5 अलग- अलग कैटेगरी में शिरकत कर रहे हैं।

किदांबी श्रीकांत और समीर वर्मा का कठिन होगा अभियान

भारतीय खिलाड़ी 18 साल के युवा लक्ष्य सेन ( पहली बार टूर्नामेंट में खेलेंगे) सहित 7 खिलाड़ियों के साथ एकल वर्ग में हिस्सा ले रहे हैं। भारतीय पुरुष खिलाड़ियों को वरीयता अभी नहीं दी गई है।

विश्व के पूर्व नंबर वन खिलाड़ी किदांबी श्रीकांत का सामना तीसरी वरीयता प्राप्त चीन के चेन लांग (Chen Long) से होगा। फिलहाल रैंकिंग में 12वें स्थान पर काबिज श्रीकांत ने अपने करियर में चेन लंग के खिलाफ 8 बार मुकाबला खेला हैं, जिसमें उन्हें 6 बार हार का सामना करना पड़ा है। अब 11 मार्च को होने वाले मैच में वह अपने रिकॉर्ड को सुधारना चाहेंगे।

वहीं समीर वर्मा (Sameer Verma) का सामना शीर्ष वरीयता प्राप्त चीनी ताइपे के चाउ तिएन चेन (Chou Tien Chen) से होगा। इस खिलाड़ी का ये साल भले ही अच्छा नहीं रहा हो लेकिन अपने विरोधी के खिलाफ अच्छा रिकॉर्ड इस खिलाड़ी को जरूर हौंसला देगा।

वहीं दूसरे भारतीय खिलाड़ी एचएस प्रणॉय (HS Prannoy ) एकल मुकाबले में चीनी ताइपे के वांग त्ज़ु वी (Wang Tzu Wei) से भिड़ेंगे। इसके अलाव सौरभ वर्मा का सामना जापान के कांता सुनायनामा (Kanta Tsuneyama)से होगा। भारत के अनुभवी खिलाड़ी पारुपल्ली कश्यप इंडोनेशिया के शेसर हिरेन रुस्तवितो से टक्कर लेंगे।

वर्तमान में भारत के शीर्ष वरीयता प्राप्त खिलाड़ी बी साई प्रणीत (B Sai Praneeth) को भी चीन के झाओ जून पेंग (China’s Zhao Jun Peng) के खिलाफ मुश्किल मुकाबला खेलना है। रैंकिंग में 31वें नंबर पर काबिज इस खिलाड़ी ने प्रणीत के खिलाफ हुई पिछली भिड़ंत में सीधे सेटों में हराया था।

इसके अलावा 18 साल के लक्ष्य सेन का मुकाबला ली चेउक इयू (Lee Cheuk Yiu) से होगा, इस खिलाड़ी के लिए अच्छी बात ये है कि वह ली चेउ के खेल को प्रीमियर बैडमिंटन लीग (Premier Badminton League) में अच्छी तरह देख चुके हैं। वहीं इन दोनों की भिड़ंत साल 2018 में ऑस्ट्रेलियन ओपन (Australian Open) में भी हुई थी, जहां भारतीय खिलाड़ी का होर का सामना करना पड़ा था।

बी साई प्रणीत के लिए करियर की पहली बड़ी उपलब्धि 2010 BWF वर्ल्ड जूनियर चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीतना था।
बी साई प्रणीत के लिए करियर की पहली बड़ी उपलब्धि 2010 BWF वर्ल्ड जूनियर चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीतना था।बी साई प्रणीत के लिए करियर की पहली बड़ी उपलब्धि 2010 BWF वर्ल्ड जूनियर चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीतना था।

अकाने यामागुची से होगा साइना नेहवाल का सामना

भारतीय बैडमिंटन की दिग्गज खिलाड़ी साइना नेहवाल की 2020 सीजन की शुरुआत बेहद खराब रही। इस स्टार खिलाड़ी ने इस साल अब तक जिन 4 टूर्नामेंट में हिस्सा लिया है, उसमें वह क्वार्टर फाइनल से आगे बढ़ने में नाकाम रही हैं।

इस खिलाड़ी के लिए परेशानी की बात ये भी है कि उनका ऑल इंग्लैंड ओपन का अभियान आगाज तीसरी वरीयता प्राप्त जपान की अकाने यामागुची (Akane Yamaguchi) के खिलाफ होगा। साइना नेहवाल को जापान की इस खिलाड़ी के खिलाफ 10 में से 8 बार हार का सामना करना पड़ा है।

भारत की एकमात्र वरीयता प्राप्त खिलाड़ी पीवी सिंधु ऑल इंग्लैंड ओपन में अपने अभियान की शुरुआत अमेरिका की बेईवान झांग (Beiwen Zhang) के खिलाफ होगी। इस अमेरिकी खिलाड़ी और पीवी सिंधु के बीच टक्कर हमेशा ही रोमांचक रही है। इन दोनों के बीच कुल 9 मुकाबलें हुए हैं, जिनमें से 5 सिंधु ने और 4 बेईवान ने जीते हैं।

अश्विनी पोनप्पा और एन सिक्की रेड्डी का सामना ऑस्ट्रेलिया के सिलिसाना मापसा और ग्रोन्या सोमरविले से होगा
अश्विनी पोनप्पा और एन सिक्की रेड्डी का सामना ऑस्ट्रेलिया के सिलिसाना मापसा और ग्रोन्या सोमरविले से होगाअश्विनी पोनप्पा और एन सिक्की रेड्डी का सामना ऑस्ट्रेलिया के सिलिसाना मापसा और ग्रोन्या सोमरविले से होगा

शीर्ष वरीयता जोड़ी से रणकीरेड्डी- शेट्टी का सामना

सात्विकसाईराज रणकीरेड्डी (Satwiksairaj Rankireddy) और चिराग शेट्टी (Chirag Shetty) की जोड़ी पुरुष युगल में भारत का प्रतिनिधित्व करेगी। इस जोड़ी का पहला मुकाबला मार्कस फर्नाल्डी गिडोन (Marcus Fernaldi Gideo) और केविन संजाया सुकामुल्जो (Kevin Sanjaya Sukamuljo) की इंडोनेशियाई जोड़ी से होगा। इन दोनों टीमों की आखिरी भिड़ंत साल 2019 के चीन ओपन के सेमीफाइनल में हुई थी। जहां भारतीय जोड़ी को करारी हार का सामना करना पड़ा था।

वहीं महिला युगल में अश्विनी पोनप्पा (ashwini ponnappa) और एन सिक्की रेड्डी (N Sikki Reddy) का सामना ऑस्ट्रेलिया की सेतयाना मापसा (Setyana Mapasa) और ग्रोन्या सोमरविल (Gronya Somerville) की जोड़ी से होगा। अश्विनी पोनप्पा इसके अलावा मिश्रित युगल में सत्विकसाईराज रणकीरेड्डी के साथ खेलेंगी, जहां उनका सामना चीनी ताइपे की ली जेह-हुइ (Lee Jhe-Huei) और हसु य चिंग (Hsu Ya Ching) से होगा।

क्या आपको यह आर्टिकल पसंद आया? इसे अपने दोस्तों के साथ साझा करें!