अमज्योत सिंह भारतीय बास्केटबॉल टीम के FIBA एशिया कप को लेकर हैं आश्वस्त 

भारतीय बास्केटबॉल टीम के ख़ास खिलाड़ी अमज्योत सिंह को लगता है कि अभी भी भारतीय टीम के पास इंडोनेशिया में होने वाले FIBA एशिया कप में क्वालिफाई करने का मौका है।

लेखक जतिन ऋषि राज ·

भारतीय बास्केटबॉल टीम (Indian basketball team) टीम को 2021 फीबा एशिया कप क्वालिफायर्स (2021 FIBA Asia Cup qualifiers) में मिली अच्छी शुरुआत अब कहीं न कहीं डगमगाती नज़र आ रही है।

बहरीन के खिलाफ 68-67 से मिली हार भारतीय टीम को खेमे में उथल पुथल मचाने के लिए काफी है। हालांकि ग्रुप डी में खेलते हुए इराक़ के खिलाफ भारतीय बास्केटबॉल टीम ने शानदार प्रदर्शन करते हुए 94-77 से जीत अपने खेमे में की और उससे पूरे देश का मनोबल मानों सातवें आसमान पर पहुंच गया। इसके बाद भारत के हाथ लगातार दो हार आई और वे लेबनान और बहरीन के खिलाफ रहीं और इसके चलते क्वालिफायर्स में टीम इंडिया की पकड़ कमज़ोर हो गई है।

इन हालातों से भारतीय बास्केटबॉल खिलाड़ी अमज्योत सिंह (Amjyot Singh) को ज़्यादा फर्क नहीं पड़ता।

FIBA.com को दिए इंटरव्यू में अमज्योत सिंह ने कहा “मेरा खुद पर और टीम पर पूरा विश्वास है क्योंकि हम पिछले एक महीने से बहुत मेहनत कर रहे हैं और हम उन चीज़ों पर कार्य कर रहे हैं जिनकी कमी हमे महसूस हुआ करती थी।”

“उम्मीद है कि हमारे युवा खिलाड़ी टीम में उर्जा और वरिष्ठ खिलाड़ी अनुभव लाएंगे। हम सही जा रहे हैं और अगर कोई भी इंजरी नहीं होती और सभी खिलाड़ी स्वस्थ होते हैं तो मुझे लगता है कि आने वाले मुकाबलों में हम कमाल का प्रदर्शन कर सकते हैं।”

फिलहाल भारतीय बास्केटबॉल टीम ग्रुप डी में तीसरे स्थान पर है और अब इनका मुकाबला 20 फरवरी को इराक के खिलाफ खेले जाएगा और उसके बाद लेबनान के खिलाफ भी यह टीम दो दो हाथ करती नज़र आएगी।

अब जब लेबनान और बहरीन को डायरेक्ट क्वालिफिकेशन मिल गई है तो ऐसे में इंडियन हूपस्टर्स को अच्छा खेल दिखाना होगा ताकि वे क्वालिफिकेशन के आखिरी राउंड तक अपना सफ़र तय कर सकें।

ग़ौरतलब है कि फाइनल राउंड में हर ग्रुप की तीसरे नंबर की टीम हिस्सा लेगी और उन 6 टीमों को तीन-तीन कर दो भागों में बांटा जाएगा। यह इवेंट इंडोनेशिया में 16 से 28 अगस्त तक खेला जाएगा।

हाल ही का नज़ारा देख कर भारतीय टीम का सफ़र आसान तो नहीं देखा जा रहा। इंजरी और कई अन्य कारणों की वजह से भारतीय बास्केटबॉल टीम के पास तजुर्बे की कमी दिखाई दे रही है। हालांकि ऐसे में भी अमज्योत सिंह टीम के सकारात्मक हिस्से को देख रहे हैं।

भारतीय बास्केटबॉल टीम में अमज्योत सिंह निभा रहे हैं सीनियर का रोल। तस्वीर साभार FIBA मीडिया 

अमज्योत सिंह ने बातचीत को आगे बढ़ाते हुए कहा “सब के साथ कप्तान से सुनहरी बात तो यह है कि हमारे पास युवा टीम है।” इस टीम में अमज्योत सिंह विशेष भृगुवंशी (Vishesh Bhriguvanshi) भी इस खेमे में अनुभव का पिटारा लाते हैं।

“हम अच्छा जा रहे हैं और वे सभी बेहतरीन टीमों के खिलाफ खेलने का अनुभव ले रहे हैं। हमारे युवा खिलाड़ियों को लेबनान और बहरीन जैसी टीमों के खिलाफ खेलने का अवसर मिल रहा है। अगर हम एक या दो मुकाबले जीत जाते तो हमारे लिए काफी अच्छा होता लेकिन आने वाले मुकाबलों के लिए हम अनुभव ले कर जा रहे हैं।”