भारत को मिली 2020 एशियन बॉक्सिंग चैंपियनशिप की मेज़बानी

BFI ने किया ऐलान लेकिन शहर के नाम की घोषणा अभी बाक़ी, इसी साल नवंबर-दिसंबर में प्रतियोगिता के होने की उम्मीद 

सोमवार को बॉक्सिंग फ़ेडरेशन ऑफ़ इंडिया (BFI) ने इस बात की जानकारी दी कि 2020 एशियन बॉक्सिंग क्वालिफ़ायर्स की मेज़बानी भारत करेगा। BFI के अध्यक्ष अजय सिंह ने रिव्यू मीटिंग के दौरान ट्विटर पर सार्वजनिक तौर पर इसका ऐलान किया।

इसका मतलब ये हुआ कि नवंबर-दिसंबर में संभावित इस प्रतियोगिता की मेज़बानी का अधिकार BFI को मिल गया है।

प्रेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया (PTI) के साथ बातचीत करते हुए बॉक्सिंग फ़ेडरेशन ऑफ़ इंडिया के एग्ज़ेक्यूटिव डायरेक्टर आर के सचेती (R K Sacheti) ने कहा कि किस शहर में इसका आयोजन होगा इसपर अभी मुहर नहीं लगी है, लेकिन उन्हें इस बात का पूरा भरोसा है कि साल के अंत में ये प्रतियोगिता भारत में ही खेली जाएगी।

सचेती ने कहा, ‘’मैं जानता हूं कि अभी हालात बेहद गंभीर हैं, लेकिन हम सभी को उम्मीद है कि जून तक इस पर नियंत्रण पा लिया जाएगा। और फिर उसके बाद अगले तीन-चार महीनों में चीज़ें नियमित तरीके से पटरी पर लौट आएंगी।‘’

एशियन बॉक्सिंग चैंपियनशिप 2019 से पहले पुरुष और महिलाओं के दो अलग अलग इवेंट के तौर पर होते थे। भारत ने पुरुष इवेंट की मेज़बानी 1980 में की थी जब ये देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में हुआ था। जबकि महिलाओं की प्रतियोगिता की मेज़बानी पिछली बार भारत को 2003 में मिली थी और इसका आयोजन हरियाणा के हिसार में हुआ था।  

सचेती ने अपनी बातों को आगे बढ़ाते हुआ कहा कि, ‘’जनवरी में ही इस पर सहमति बन गई थी, लेकिन एशियन बॉक्सिंग कन्फ़ेडरेशन इसका औपचारिक ऐलान कोरोना वायरस (COVID-19) के थमने के बाद करेगा।‘’

भारतीय मुक्केबाज़ों के पास तैयारी का बेहतरीन मौक़ा

सचेती ने यह भी कहा कि BFI ओलंपिक बॉक्सिंग क्वालिफ़ायर्स की भी उम्मीद कर रहा था, लेकिन कोरोना वायरस के प्रकोप की वजह से उसे निलंबित करना पड़ा था

लेकिन जब ओलंपिक क्वालिफ़ायर्स का एशियन लेग महामारी की वजह से पूरी दुनिया में जारी लॉकडाउन से पहले ही हो चुका है तो ऐसे में BFI को पूरा भरोसा है कि एशियन चैंपियनशिप आयेजित की जाएगी। लेकिन शहर के नाम का ऐलान तभी होगा जब पूरी तरह से देश में जारी लॉकडाउन समाप्त हो जाएगा।

उन्होंने आगे कहा, ‘’अगर चीजें कहीं और भी शुरू हो सकती हैं तो फिर हम एशियन चैंपियनशिप भी कर सकते हैं। यही वजह है कि हम अभी शहर के नाम की घोषणा नहीं कर रहे हैं, उसपर आख़िरी फ़ैसला लॉकडाउन समाप्त होने के बाद ही लिया जाएगा।‘’

जॉर्डन की राजधानी अम्मान में हुए एशियन बॉक्सिंग ओलंपिक क्वालिफ़ायर्स में कुल 9 भारतीय मुक्केबाज़ों ने टोक्यो ओलंपिक का टिकट हासिल कर लिया है, जो भारतीय मुक्केबाज़ी इतिहास में सबसे ज़्यादा है।

अगर एशियन चैंपियनशिप बिना अड़चन के आयोजित हुई तो टोक्यो ओलंपिक से पहले भारतीय मुक्केबाज़ों के पास ख़ुद को तैयार करने का ये बेहतरीन अवसर होगा। ख़ास तौर से वे भारतीय मुक्केबाज़ जिनकी नज़र वर्ल्ड क्वालिफ़ायर्स के ज़रिए टोक्यो ओलंपिक में स्थान पक्का करने पर है।

क्या आपको यह आर्टिकल पसंद आया? इसे अपने दोस्तों के साथ साझा करें!