पूर्व भारतीय क्रिकेट कप्तान कपिल देव हार्ट अटैक के चलते एन्जीओप्लास्टी की प्रक्रिया से गुज़रे

कपिल देव को दुर्भाग्यवश हार्ट अटैक का सामना करना पड़ा, हालांकि खबर यह आ रही है कि वह एन्जीओप्लास्टी की प्रक्रिया से गुजरने के बाद वह एकदम सुरक्षित हैं।

लेखक जतिन ऋषि राज ·

हार्ट अटैक के चलते पूर्व भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान कपिल देव (Kapil Dev) एन्जीओप्लास्टी सर्जरी के लिए नई दिल्ली के अस्पताल में दाखिल हैं।

उनके पुराने साथी मदन लाल (Madan Lal) ने ट्वीट कर बताया कि फिलहाल कपिल देव की तबियत ठीक है और वह जल्द ही घर जा सकेंगे।

खेल जगत के बहुत से सदस्यों ने कपिल देव को जल्द ही ठीक होने की शुभकामनाएँ दी हैं।

61 वर्षीय कपिल देव अपने ज़माने के सर्वश्रेष्ठ ऑल राउंडर रह चुके हैं और भारतीय क्रिकेट के इतिहास में सबसे बड़ा योगदान उन्हीं का है। पहली बार क्रिकेट वर्ल्ड कप जीतने वली भारतीय टीम की कप्तानी भी कपिल देव ने ही की थी।

1978 में भारत के लिए डेब्यू करने वाले कपिल देव 131 टेस्ट और 225 एकदिवसीय मुकाबलों का हिस्सा रहे हैं। उन्होंने अपने करियर में 5,248 रन बनाए हैं और साथ ही उनके हिस्से 434 विकेट भी हैं। टेस्ट में भारत के लिए सबसे ज़्यादा विकेट लेने का रिकॉर्ड भी पहले कपिल के ही नाम था लेकिन अब उसके हकदार अनिल कुंबले (Anil Kumble) हैं।

कपिल देव की बल्लेबाज़ी से सब तब दंग रह गए जब हारे हुए मुकाबले को उन्होंने जीत में बदल दिया। यह इनिंग कपिल ने 1983 वर्ल्ड कप के दौरान ज़िम्बाब्वे के खिलाफ खेली थी। उस समय भारत का स्कोर 17 पर 5 विकेट था और उसके बाद कपिल ने इस मुकाबले में 175 रनों की धुआंधार पारी खेल कर सभी के दिल तो जीते ही लेकिन विश्व कप जीतने का आत्मविश्वास भी उन्होंने ही अपने खिलाड़ियों को दिया।

कपिल देव और उनकी टीम की उस ऐतिहासिक जीत पर ‘83’ नामक फिल्म बनने जा रही है और इसमें कपिल देव की भूमिका रणवीर सिंह (Ranveer Singh) निभाते नज़र आएंगे।

1994 में रिटायरमेंट के बाद कपिल ने कोच और हिंदी कमेंटेटर की भूमिका भी निभाई है। ‘हरियाणा हरिकेन’ के नाम से जाने जाने वाले कपिल देव ने गोल्फ को भी अपनाया है और पिछले साल पुणे में उन्होंने एक एमेचुअर प्रतियगिता में भी हिस्सा लिया था।

पूर्व क्रिकेटर मुरली कार्तिक के (Murali Kartik) साथ कपिल देव ने गोल्फ का एक चैरिटी मुकाबला भी खेला था। इस मुकाबले में भारतीय गोल्फर गगनजीत भुल्लर (Gaganjeet Bhullar), शुभांकर शर्मा (Shubhankar Sharma) ने भी हिस्सा लिया था और इस इससे कमाई गई राशी कोरोना वायरस रीलीफ फंड में जाएगी।