ISL: मुंबई सिटी एफसी कोच सर्जियो लोबेरा ने कहा, यह वक्त मिशन इंडिया का है!

स्पेन का यह खिलाड़ी अपने अटैकिंग फुटबॉल के लिए जाना जाता है और अपनी टीम में भारतीय खिलाड़ियों के स्तर को बेहतर करने के लिए विदेशी खिलाड़ियों को शामिल करना चाहते हैं।

लेखक रितेश जायसवाल ·

खुद की प्रतिभा को साबित कर चुके विदेशी खिलाड़ियों से भरी हुई टीम मुंबई सिटी एफसी के मुख्य कोच सर्जियो लोबेरा (Sergio Lobera) का कहना है कि वह आगामी भारतीय सुपर लीग (ISL) सीज़न में ‘भारतीय खिलाड़ियों के स्तर में सुधार’ लाने के उद्देश्य को ध्यान में रखते हुए काम करेंगे।

मंगलवार को एक वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस में बोलते हुए इस स्पैनिश खिलाड़ी ने आशा व्यक्त की है कि टीम द्वारा भर्ती किए गए अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी उनकी मिशन इंडिया खोज में मददगार साबित होंगे।

उन्होंने कहा, “हमें सभी दिशाओं में काम करने की आवश्यकता है। हमारे पास वास्तव में कुछ अच्छे खिलाड़ी हैं, जिनके पास अद्भुत करियर है और वे हमारे इस उद्देश्य में मदद कर सकते हैं। लेकिन सबसे महत्वपूर्ण काम भारतीय फुटबॉल खिलाड़ियों के स्तर को बढ़ाना है।”

“एक कोच के तौर पर मुझे विदेशी खिलाड़ियों की मदद की ज़रूरत है। भारत में खेलना आसान नहीं है। आपको जल्दी से अनुकूल होने की आवश्यकता होती है। मेरा मानना है कि विदेशी खिलाड़ी भारत के खिलाड़ियों के स्तर को ऊपर उठाने में हमारी मदद करेंगे।”

“अगर आपके भारतीय खिलाड़ी अच्छे नहीं हैं तो ट्रॉफी जीतना असंभव है। और जब तक विदेशी खिलाड़ी उनके काम करने के तरीके को नहीं समझेंगे और भारतीय खिलाड़ियों के आत्मविश्वास और कौशल को बेहतर बनाने में मदद करने के तरीके को नहीं समझेंगे, तब तक भारतीयों को सुधारना असंभव है। एक कोच के रूप में मुझे यह सुनिश्चित करने की आवश्यकता है कि विदेशी खिलाड़ी मैदान पर और उसके बाहर दोनों तरह से प्रभावी रहें।

सर्जियो लोबेरा इस सीज़न में टीम की गुणवत्ता में सुधार लाने के लिए अपने विदेशी खिलाड़ियों की मदद लेंगे। तस्वीर साभार: MCFC मीडिया

मुंबई सिटी एफसी के साथ पहले निकोलस एनेलका (Nicolas Anelka), सुनील छेत्री (Sunil Chhetri) और डिएगो फोर्लान (Diego Forlan) जैसे कुछ बड़े नाम वाले खिलाड़ी रह चुके हैं। लेकिन इन सितारों के बावजूद टीम अब तक छह संस्करणों में से किसी में भी आईएसएल के फाइनल में पहुंचने में असमर्थ रही है। 

हालांकि, स्पैनियार्ड को आईएसएल में टीम के इतिहास से कोई फर्क नहीं पड़ता है।

मुंबई सिटी एफसी के हेड कोच ने कहा, “मुझे लगता है कि आप अपने अतीत की वजह अपने आज को नहीं प्रभावित करने दे सकते हैं। केवल एक चीज है जो आपके भविष्य को प्रभावित करेगी, वह वही है जो आप वर्तमान में करते हैं।”

जब मैंने यह चुनौती स्वीकार की, तो मुझे पता था कि मैं खुद में क्या कर रहा हूं। खिलाड़ी जानते हैं कि वे कहां हैं। हम उस चुनौती को जानते हैं जो हमने अपने हाथों में ली है। और हम इसके लिए काम करने की योजना बना रहे हैं।”

लोबेरा की योजना

मुंबई सिटी एफसी के कोच लोबेरा ने कहा, "फुटबॉल की मेरी शैली वही रहेगी। मैं अपने दर्शन में विश्वास करता हूं और मैं अपनी शैली में विश्वास करता हूं। हमें 90 मिनट के दौरान खेल का आनंद लेने की जरूरत है और मुझे लगता है कि फुटबॉल में आक्रामक होना बहुत जरूरी है।”

“इसके अलावा हमें अटैक और डिफेंस के बीच संतुलन बनाने की आवश्यकता है। खेल की शैली होना बहुत महत्वपूर्ण है और हम कैसे जीतते हैं यह मेरे लिए बहुत महत्वपूर्ण है। मेरे लिए सबसे महत्वपूर्ण चीज खेल जीतना और खूबसूरती से जीतना है।”

मुंबई सिटी एफसी 21 नवंबर को नॉर्थईस्ट यूनाइटेड के खिलाफ अपने आईएसएल 2020-21 अभियान की शुरुआत करेगी।