बाला देवी का यूरोपियन क्लब से जुड़ना अगली पीढ़ी को करेगा प्रेरित: आशालता देवी

बाला देवी यूरोप में रेंजर्स वूमेन के साथ कॉन्ट्रैक्ट साइन करने वाली पहली भारतीय महिला बन गई हैं और उनकी साथी खिलाड़ी आशालता देवी को लगता है कि यह एक बहुत बड़ी प्रेरणा बनेगी।

लेखक रितेश जायसवाल ·

भारतीय फुटबॉल वूमेंस टीम की कप्तान आशालता देवी (Ashalata Devi) को लगता है कि बाला देवी के यूरोपियन क्लब के साथ जुड़ने से फ़ुटबॉल की अगली पीढ़ी पर इसका भारी असर पड़ेगा।

स्ट्राइकर बाला देवी (Bala Devi) जब जनवरी में रेंजर्स वूमेन एफसी में गईं तो वह एक यूरोपीय क्लब के साथ फुल-टाइम प्रोफेशनल कॉन्ट्रैक्ट को साइन करने वाली पहली भारतीय महिला फुटबॉलर बन गईं। यह क्लब स्कॉटिश महिला प्रीमियर लीग में खेलता है, जो स्कॉटलैंड में शीर्ष स्तर का माना जाता है।

आशालता देवी ने ऑल इंडिया फुटबॉल फेडरेशन (AIFF) से कहा, “बाला दीदी रेंजर्स के लिए खेल रही हैं, जो कि एक बहुत बड़ी बात है, क्योंकि यह हमें विदेश में मिलने वाले मौकों और अगली पीढ़ी के लिए खेलने के कई रास्तों को दर्शाती है।”

भारतीय फुटबॉल टीम की संरक्षक अदिति चौहान (Aditi Chauhan) इससे पहले यूरोप में पढ़ाई के दौरान सेमी-प्रोफेशनल टीम वेस्ट हैम लेडीज के साथ भी खेल चुकी हैं।

आशालता देवी ने आगे कहा, “मुझे लगता है कि युवा विदेशी क्लबों के साथ अवसर भी हासिल कर सकते हैं। शीर्ष क्लब के लिए खेलना हर किसी का सपना होता है और इसलिए हर कोई कड़ी मेहनत करेगा और खेल के लिए पूरी तरह से समर्पित रहेगा। निकट भविष्य में इसका असर युवाओं पर काफी अधिक पड़ेगा।

भारत में महिलाओं के फुटबॉल के विकास को बढ़ावा देने वाला एक अन्य कारक यह है कि देश 2021 में फीफा अंडर-17 महिला विश्व कप और 2022 में एएफसी महिला एशियाई कप की मेज़बानी करने के लिए भी पूरी तरह से तैयार है।

मेज़बान होने की वजह से भारतीय फुटबॉल वूमेंस टीम 19 साल के बाद एशियाई कप में खेलेगी और अनुभवी डिफेंडर आशालता देवी एक अच्छा प्रदर्शन करने पर ध्यान केंद्रित कर रही हैं।

उन्होंने कहा, “मेरा देश और राष्ट्रीय टीम हमेशा मेरा पहला फोकस होता है। इसलिए मैं अपने अनुभवों को सबसे पहले अपने सभी जूनियर्स के साथ साझा करना चाहती हूं, क्योंकि यह उन्हें बेहतर तरीके से आगे बढ़ने में मदद करेगा।”

"अगर मुझे विदेशों में खेलने का अवसर मिलता है तो मैं निश्चित रूप से जाऊंगी, लेकिन मेरा ध्यान अब एएफसी एशियन कप पर है।"