अनिर्बान लाहिड़ी ने PGA टूर को दोबारा शुरू करने और ख़ासतौर से उसकी प्लानिंग को लेकर तारीफ़ की

भारतीय गोल्फ़र ने उन दिशानिर्देशों का भी ख़ुलासा किया जो 11 जून को गोल्फ़ टूर के फिर से शुरू होने पर अपनाए जाएंगे।

टेक्सास के कोलोनिअल कंट्री क्लब में चार्ल्स श्वाब चैलेंज के साथ जब PGA टूर (पेशेवर गोल्फ टूर का आयोजक) फिर से शुरू होगा, तब भारत के शीर्ष गोल्फरों में से एक अनिर्बान लाहिड़ी (Anirban Lahiri) को न चाहते हुए भी हैदराबाद में अपने माता-पिता के घर से ही इस टूर्नामेंट को देखकर संतोष करना होगा।

कोरोना वायरस (COVID-19) महामारी की वजह से 90 दिनों के विराम के बाद PGA टूर 11 जून को फिर से शुरू करना सुनिश्चित किया गया है, लेकिन मार्च से भारत में सरकार द्वारा लगाए गए यात्रा प्रतिबंधों की वजह से उन्हें देश में ही रहना होगा।

हालांकि, भारतीय गोल्फर ने PGA टूर को फिर से शुरू करने के लिए उसके द्वारा किए गए प्रयासों और उपायों पर काफी चर्चा की।

WION वेबसाइट के साथ एक विशेष साक्षात्कार में उन्होंने कहा, “इतना सक्रिय होने और खिलाड़ियों के लिए उचित शेड्यूल बनाने के लिए PGA टूर को सलाम। पीजीए कुछ प्रमुख खेल संगठनों में से एक है, जिसने खेल को फिर से शुरू करने और खेले जाने के लिए एक विस्तृत योजना तैयार की है।”

गोल्फ़ के लाइव प्रदर्शन से ख़ुश

अनिर्बान लाहिड़ी बीते तीन वर्षों से पीजीए प्लेयर एडवाइज़री काउंसिल का हिस्सा रहे हैं और खिलाड़ियों का खयाल रखने की टूर की प्रतिबद्धता से काफी प्रभावित हुए हैं।

उन्होंने कहा, "मैं निर्णय लेने की प्रक्रिया में किसी न किसी रूप में शामिल रहा हूं और पीजीए टूर के लिए यह बहुत कठिन समय रहा है। यह देखना अच्छा है कि कम से कम गोल्फ में ही सही, पर स्थिति के सामान्य होने के संकेत तो मिले हैं।”

एक प्रतियोगी होने के तौर पर अनिर्बान लाहिड़ी पीजीए और एशियाई टूर के प्रतिष्ठित कोर्सेस में वापसी करने के लिए आतुर हैं और इसके लिए अपनी योजना बना रहे हैं।

लेकिन अभी के लिए उनके भीतर छिपे हुए इस खेल के प्रशंसक टूर की वापसी को लेकर काफी उत्साहित है।

अनिर्बान लाहिड़ी गोल्फ के लाइव प्रदर्शन से उत्साहित
अनिर्बान लाहिड़ी गोल्फ के लाइव प्रदर्शन से उत्साहितअनिर्बान लाहिड़ी गोल्फ के लाइव प्रदर्शन से उत्साहित

उन्होंने कहा, “मैं निराश हूं कि मैं टूर की शुरुआत से उसका हिस्सा नहीं बन पा रहा हूं, लेकिन मुझे खुशी है कि मुझे फिर से कुछ लाइव गोल्फ टूर्नामेंट देखने को मिलेंगे।”

जहां गोल्फ का खेल फिर से शुरू होने के लिए तैयार है, वहीं दुनिया के कई शीर्ष गोल्फर उनसे संबंधित देशों में लगे यात्रा प्रतिबंधों की वजह से हिस्सा नहीं ले पाएंगे और उन्हें अपने-अपने घरों में बैठकर ही गोल्फ का आनन्द लेना होगा। 

हालांकि, पीजीए टूर पहले ही घोषणा कर चुका है कि वर्तमान सत्र के बाकी टूर्नामेंटों में हिस्सा लेने की पात्रता रखने वाले गोल्फरों का 2020-21 सत्र के लिए भी खेलने का दर्जा बरकरार रहेगा। पीजीए के इस कदम को अनिर्बान लाहिड़ी और अदिति अशोक दोनों गोल्फरों ने सराहा है।

क्या आपको यह आर्टिकल पसंद आया? इसे अपने दोस्तों के साथ साझा करें!