करणदीप कोचर ने जीता अपना पहला प्रोफ़ेशनल गोल्फ़ ख़िताब

एसएसपी चौरसिया के भांजे सुनीत चौरसिया ने फ़ाइनल राउंड में कोर्स रिकॉर्ड तोड़ डाला, लेकिन इसके बाद भी वह चंडीगढ़ गोल्फ़ क्लब में हुए PGTI इवेंट में दूसरे स्थान पर रहे।

लेखक सैयद हुसैन ·

गुरुवार को चंडीगढ़ गोल्फ़ क्लब में आयोजित PGTI प्लेयर्स चैंपियनशिप में करणदीप कोचर (Karandeep Kochhar) ने 18-अंडर 270 (66-68-67-69) के स्कोर के साथ ख़िताब पर कब्ज़ा जमाया।

PGTI टूर पर कोचर की ये दूसरी जीत है, इससे पहले उन्होंने 2016 में भी ख़िताब अपने नाम किया था लेकिन तब वह एक एम्योचोर गोल्फ़र थे। कोचर ने 2017 से प्रोफ़ेशनल गोल्फ़ में करियर बनाया है।

चंडीगढ़ से आने वाले कोचर ने दूसरे राउंड में ही बढ़त बना ली थी, चौथे राउंड में उन्होंने 16वें और 17वें होल्स पर बर्डीज़ लगाते हुए जीत अपने नाम कर ली। उन्होंने सुनीत चौरसिया (Sunit Chawrasia) को शिकस्त देकर ख़िताब जीता जो दूसरे स्थान पर रहे।

जीत के बाद उत्साहित कोचर ने कहा, “मुझे इस जीत का एक अर्से से इंतज़ार था, इससे पहले भी मैं कई बार जीत के क़रीब पहुंचा था लेकिन तब क़ामयाबी नहीं मिली थी। आख़िरकार अंतिम बाधा पार करने के बाद राहत महसूस कर रहा हूं और वह भी अपने घरेलू सरज़मीं पर।“

“मेरा प्रदर्शन इस पूरे सप्ताह निरंतर था और इस दौरान मेरे नाम सिर्फ़ दो बोगी रही। लिहाज़ा ये काफ़ी सुखद प्रदर्शन रहा।“

फ़ाइनल राउंड में करणदीप कोचर को इस सीज़न यूरोपियन टूर में खेलने वाले एसएसपी चौरसिया (SSP Chawrasia) के भांजे सुनीत चौरसिया से काफ़ी कठिन चुनौती मिल रही थी।

21 वर्षीय कोचर ने फ़ाइनल राउंड में 4 स्ट्रोक्स से आगे थे, लेकिन सुनीत ने इस अंतर को 10-अंडर 62 के स्कोर के साथ काफ़ी कम कर दिया था। सुनीत का ये प्रदर्शन एक कोर्स रिकॉर्ड भी रहा। हालांकि कोचर 3-अंडर 69 के साथ अपना करियर बेस्ट प्रदर्शन भी किया और ख़िताब पर भी अपने नाम की मुहर लगा दी।

पिछले PGTI इवेंट का ख़िताब जीतने वाले अक्षय शर्मा (Akshay Sharma) 14-अंडर 274 के स्कोर के साथ तीसरे पायदान पर रहे। जबकि मेरिट लिस्ट में उदय माणे (Uday Mane) एक बार फिर शीर्ष पर रहे।

ये प्लेयर्स चैंपियनशिप 2020-21 सीज़न की पांचवीं प्रतियोगिता थी, जो आधिकारिक तौर पर ऑफ़िशियल वर्ल्ड गोल्फ़ रैंकिंग (OWGR) के अंतर्गत है।

इस बार कोरोना वायरस (COVID-19) की वजह से इसे दो अलग-अलग स्थानों पर आयोजित कराया गया। हरियाणा के पंचकुला गोल्फ़ क्लब और चंडीगढ़ गोल्फ़ क्लब की दूसरी एक दूसरे से 12 किलोमीटर है।

आधे गोल्फ़रों ने पहला राउंड पंचकुला में खेला जबकि बाकियों ने चंडीगढ़ में प्रतिस्पर्धा की। इसी तरह दूसरे दौर में भी गोल्फ़रों ने अपने-अपने स्थान बदले, जबकि तीसरा और चौथा राउंड चंडीगढ़ में आयोजित हुआ।

PGTI इवेंट में अगली प्रतियोगिता जीव मिल्खा सिंह इन्विटेशनल चैंपियनशिप होगी जो अब 3 दिसंबर से आयोजित की जाएगी।