शुभंकर शर्मा यूके में हीरो ओपन गोल्फ़ में कट हासिल करने से चूके

भारतीय गोल्फर ने बिर्मिंघम में दूसरे राउंड में 5 बोगी शॉट लगाने के बाद तीन बर्डी लगाकर वापसी करने में कामयाब रहे।

भारतीय गोल्फर शुभंकर शर्मा (Shubhankar Sharma) ने शुक्रवार को बिर्मिंघम में हो रहे हीरो ओपन के दूसरे राउंड में एक कठिन शुरुआत के बाद वापसी का अच्छा प्रयास किया, लेकिन वह वीकेंड के लिए कट हासिल करने में नाकामयाब रहे।

शर्मा ने फॉरेस्ट ऑफ आर्डेन मैरियट होटल एंड कंट्री क्लब गोल्फ कोर्स में इस दिन को 79 वें स्थान के साथ समाप्त किया।

24 वर्षीय भारतीय गोल्फर के लिए दिन की शुरुआत मिली-जुली रही। उन्होंने गुरुवार को ओपनिंग डे को 73वें स्थान के साथ शुरू करने के बाद 89वें स्थान पर रहते हुए समाप्त किया।

शुभंकर ने पहले पार-4 में एक बर्डी लगाया, लेकिन फिर पांच बोगी शॉट लगाकर वह रैंकिंग में नीचे चले गए। वह अगले छह होल में 9वें शॉट तक फिसलते गए और 10 वें, 11 वें शॉट उन्होंने वापसी की।

हालांकि, शुभंकर शर्मा पार-5 12वें शॉट के साथ अपने खेल को पूरी तरह बदल दिया और उन्होंने तीन बर्डी शॉट लगाए। इसको उन्होंने 18वें शॉट तक जारी रखा। आखिरी होल से पहले वाले होल में उन्होंने एक और बर्डी शॉट लगाया और इसी के साथ उन्होंने दिन में कुछ छह बर्डी शॉट लगाए।

टोक्यो ओलंपिक के लिए चुने जाने वाले 60 खिलाड़ियों में शामिल होने की उम्मीद कर रहे शुभंकर शर्मा
टोक्यो ओलंपिक के लिए चुने जाने वाले 60 खिलाड़ियों में शामिल होने की उम्मीद कर रहे शुभंकर शर्माटोक्यो ओलंपिक के लिए चुने जाने वाले 60 खिलाड़ियों में शामिल होने की उम्मीद कर रहे शुभंकर शर्मा

लेकिन उनका प्रदर्शन पर्याप्त साबित नहीं हुआ।

शुभंकर शर्मा ने पीटीआई को बताया, “मैंने अपना पूरा ज़ोर लगाया और आखिरी सात होल के लिए बहुत अच्छे शॉट खेले। लेकिन अंतर बहुत अधिक होने की वजह से इसे कवर करना बहुत मुश्किल था। मेरा असली खेल बाद में दिखा, लेकिन मुझे बहुत बड़े अंतर को खत्म करना था।”

उन्होंने आगे कहा, "तीन बर्डी के बाद, मैंने पार-5 17वें शॉट पर एक ईगल लगाने के बारे में सोचा, लेकिन दूसरा शॉट 6-आयरन का लगा और मैं सिर्फ एक बर्डी मार पाया। हवा भी काफी चल रही थी, यह दिन की शुरुआत के जैसे शांत नहीं थी। दो होल, 10वां और 11वां मेरे लिए काफी नुकसानदायक साबित हुआ। मैं दो दिन में उन होल में पांच शॉट लगाने से चूका हूं।

गोल्फ़ कोर्स पर वापसी

चंडीगढ़ का यह प्रोफेशनल गोल्फर मार्च में कतर मास्टर्स के बाद से चार महीनों में पहली बार एक गोल्फ टूर्नामेंट में प्रतिस्पर्धा कर रहे हैं।

हालांकि, भारतीय गोल्फर ने जून में लॉकडाउन के नियमों में राहत मिलने के बाद चंडीगढ़ गोल्फ कोर्स में अपने क्लब को फिर से शुरू कर दिया है, जो कोरोना वायरस (COVID-19) महामारी की वजह से बंद कर दिया गया था।

टूर्नामेंट में शीर्ष पर काबिज़ स्पैनियार्ड सेबेस्टियन गार्सिया रोड्रिगेज (Sebastian Garcia Rodriguez) ने अपने जोड़ीदार इंग्लिशमैन सैम हॉर्सफील्ड (Sam Horsfield) के साथ 13-अंडर के साथ अपने दिन को समाप्त किया।

आपको बता दें, हीरो ओपन में विजेता को दस लाख यूरो का पुरस्कार दिया जाता है और यह ‘यूके स्विंग’ के छह टूर्नामेंटों में से दूसरा है, जिसकी शुरुआत बेटफ्रेड ब्रिटिश मास्टर्स के साथ हुई है। इस टूर्नामेंट का अंत रविवार को होगा।

शुभंकर शर्मा यूरोपीय टूर में जीतने वाले सबसे कम उम्र के भारतीय गोल्फर हैं। 21 वर्षीय गोल्फर के तौर पर उन्होंने दिसंबर 2017 में जॉबबर्ग ओपन खिताब जीता था। उन्होंने कुछ महीने बाद एक और टूर खिताब भी अपने नाम किया था।

जब टोक्यो के लिए अगले साल कट ऑफ घोषित किया जाएगा तो वह ओलंपिक के लिए चयनित किए जाने वाले 60 गोल्फरों में शामिल होने का लक्ष्य रख रहे हैं।

क्या आपको यह आर्टिकल पसंद आया? इसे अपने दोस्तों के साथ साझा करें!