साइप्रस ओपन: लगातार छठी बार शुभाकंर शर्मा ने हासिल किया कट

प्रतिभाशाली शुभांकर शर्मा ने बोगी फ़्री पहले राउंड के बाद दूसरे राउंड में ईगल लगाया, जबकि उनके हमवतन एसएसपी चौरसिया बाहर हो गए।

लेखक सैयद हुसैन ·

भारतीय गोल्फ़र शुभाकंर शर्मा (Shubhankar Sharma) ने शुक्रवार को पहले साइप्रस ओपन में दो राउंड के बाद प्रभावशाली नाइन-अंडर के साथ यूरोपियन टूर इवेंट का कट हासिल किया।

पाफ़ोस में खेले गए एपरोडाइट हिल्स साइप्रस ओपन गोल्फ टूर्नामेंट में शुभांकर शर्मा ने पहले राउंड में बिना किसी बोगी के 4-अंडर 67 का स्कोर हासिल किया, जिसमें उन्होंने 4 बर्डीज़ भी लगाई।

दूसरे दौर में 24 वर्षीय शर्मा ने पहले दो होल्स में दो बोगी गंवा दी थी, लेकिन आगे चलते हुए उन्होंने लाजवाब वापसी की। इसके बाद उन्होंने एक भी शॉट ड्रॉप नहीं किया और छठे होल के पार-फ़ाइव में ईगल लगाने के साथ-साथ पांच बर्डीज़ भी लगाई। शुभांकर शर्मा ने ये राउंड 5-अंडर 66 के साथ ख़त्म किया।

शर्मा ने प्रेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया (PTI) के साथ मैच के बाद कहा कि, “मुझे लगता है शुरुआत में दो बोगी गंवाने की वजह से मैंने ध्यान केंद्रित किया। इसने मेरी आंख खोल दी, लग रहा था मानो पहले दो होल में मैं सो रहा था।“

“हमने ख़ुद के लिए लक्ष्य तय किए हैं, पहले दो दिनों में हम 10-अंडर के साथ ख़त्म करना चाहते थे। हालांकि शुरुआत में जो हुआ, उसने मुझे झकझोर दिया था और उसी की वजह से मैंने दोबारा ध्यान केंद्रित किया।“

शुभांकर शर्मा संयुक्त तौर पर छठे स्थान पर रहे और उन्होंने यूरोपियन टूर में अपना लगातार छठा कट हासिल किया।

साइप्रस ओपन में खेलते हुए भारतीय गोल्फ़र शुभाकंर शर्मा

हालांकि शर्मा के हमवतन और अनुभवी एसएसपी चौरसिया (SSP Chawrasia) लगातार दूसरे इवेंट में कट हासिल करने से चूक गए।

42 वर्षीय चौरसिया ने शुरुआती राउंड इवेन-पार के साथ ख़त्म किया था, जिसमें दो बोगी भी शामिल थीं जिसकी वजह से उन्हें वापसी करना बेहद मुश्किल हो गया था। दूसरा राउंड भी उनके लिए निराशाजनक ही रहा जहां उन्होंने 4 बोगी गंवाई, हालांकि इसके बाद चौरसिया ने 5 बर्डीज़ भी लगाई। उन्होंने ये राउंड 1-अंडर 70 के स्कोर के साथ समाप्त किया।

चौरसिया दो राउंड के बाद वन-अंडर पर थे और लीडर बोर्ड पर वह T-83 पर रहे, जबकि कट हासिल करने के लिए 3-अंडर की दरकार थी। इस तरह से चौरसिया पिछले हफ़्ते हुए इटालियन ओपन के बाद लगातार दूसरी बार कट हासिल करने से चूक गए।

दो भारतीय गोल्फ़रों ने जहां अपने राउंड शुक्रवार को ख़त्म किए तो कई गोल्फ़र ने अपना राउंड ख़राब रोशनी की वजह से समाप्त नहीं किया। शनिवार को दोबारा इन मुक़ाबलों को शुरू किया गया।