जेवलिन थ्रोअर शिवपाल सिंह ने टोक्यो 2020 के लिए किया क्वालिफ़ाई

नीरज चोपड़ा के बाद 2020 ओलंपिक में स्थान बनाने वाले शिवपाल सिंह बने दूसरे भारतीय जेवलिन थ्रोअर

मंगलवार को दक्षिण अफ़्रीका के पोचेफ्सट्रूम में आयोजित ACNW लीग मीटिंग के दौरान भारतीय जेवलिन थ्रोअर शिवपाल सिंह (Shivpal Singh) ने 85.47 मीटर दूर भाला फेंकते हुए टोक्यो 2020 का टिकट हासिल कर लिया।

ऐसा करने वाले वह दूसरे भारतीय जेवलिन थ्रोअर बन गए हैं, इससे पहले इसी प्रतियोगिता में जनवरी में नीरज चोपड़ा (Neeraj Chopra) ने भी 2020 ओलंपिक में अपना स्थान पक्का किया था।

दिसंबर में हुए साउथ एशियन गेम्स में शिवपाल सिंह 85 मीटर का क्वालिफ़िकेशन मार्क हासिल करने से चूक गए थे, लेकिन इस बार उन्होंने आसानी के साथ इसे प्राप्त कर लिया।

इसमें कोई शक़ नहीं है कि एक के बाद एक कई क़ामयाबी हासिल करते हुए नीरज चोपड़ा भारतीय जेवलिन का चेहरा बन चुके हैं, लेकिन शिवपाल सिंह भी तेज़ी से अपनी पहचान बनाने में लगे हुए हैं।

पिछले साल ऑक्तूबर में हुए चीन के वुहान में मिलिट्री गेम्स के दौरान 83.33 मीटर की दूरी तय करते हुए 24 वर्षीय इस भारतीय ने स्वर्ण पदक भी हासिल किया था। हालांकि वह उनके सर्वश्रेष्ठ 86.23 मीटर के आस पास भी नहीं था।

इस भारतीय एथलीट ने 2019 में सुर्ख़ियां बटोरी थीं जब उन्होंने अपना व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए दोहा में आयोजित एशियन चैंपियनशिप में रजत पदक हासिल किया था।

ख़ून में ही है जेवलिन

इस खेल में शिवपाल अपने पिता और चाचा को देखकर ही आए थे, बचपन से उन्हें जेवलिन थ्रो में देखते हुए शिवपाल को भी इस खेल से लगाव हो गया था। उनके एक चाचा जो बाद में उनके ट्रेनर बन गए थे, जगमहोन सिंह, वह भी एक राष्ट्रीय चैंपियन रह चुके हैं।

दैनिक द हिन्दु से बातचीत करते हुए शिवपाल ने कहा था, ‘’मैं 14 साल का था, जब पहली बार जेवलिन में हाथ आज़माया था। उसके बाद मेरे चाचा जगमोहन ने मुझे क़रीब छ: सालों तक कोचिंग दी थी, और वह काफ़ी सख़्त थे।‘’

टोक्यो 2020 का टिकट पाने वाले चौथे भारतीय एथलीट

2020 ओलंपिक में जेवलिन फ़ील्ड एथलेटिक्स का हिस्सा होगा, और इसमें क्वालिफ़ाई करने वाले वह चौथे भारतीय एथलीट हैं।

उनसे पहले जेवलिन थ्रो में ही नीरज चोपड़ा क्वालिफ़ाई कर चुके हैं, जबकि रेस वॉकर केटी इरफ़ान (KT Irfan) और भावना जट (Bhawna Jat) ने भी स्थान पक्का कर लिया है। तो वहीं 4X400 मिक्स्ड रिले टीम में अविनाष साब्ले (Avinash Sable) भी पहले से ही टोक्यो 2020 का टिकट हासिल कर चुके हैं।

क्या आपको यह आर्टिकल पसंद आया? इसे अपने दोस्तों के साथ साझा करें!