महिला हॉकीः भारतीय जूनियर टीम ने चिली की सीनियर टीम को 3-2 से दी मात  

भारतीय टीम ने चिली की सीनियर टीम के खिलाफ तीन गोल करते हुए लगातार तीसरी जीत दर्ज की  

लेखक दिनेश चंद शर्मा ·

भारत की जूनियर महिला हॉकी टीम ने सैंटियागो में जल्द ही तीसरी सफलता हासिल करते हुए चिली की सीनियर टीम को 3-2 से पराजित किया।

दीपिका, संगीता कुमारी और लालरंडिकी के गोलों की बदौलत भारत की तीसरी जीत सुनिश्चित हुई। पहले क्वार्टर में मुकाबला दोनों टीमों के बीच बराबरी की टक्कर के साथ शुरू हुआ। हालांकि, मेजबान टीम ने पहल करते हुए एक पेनल्टी कॉर्नर हासिल किया, लेकिन भारत के डिफेंडर खिलाड़ियों ने चिली की टीम को गोल करने का मौका नहीं दिया।

दूसरे क्वार्टर में चिली ने मुकाबले में अपना प्रभुत्व जारी रखते हुए एक और पेनल्टी कार्नर हासिल किया और इस बार उन्होंने कोई गलती नहीं की। हाफ टाइम में भारतीय खिलाड़ी एक गोल से पिछड़ते हुए ड्रेसिंग रूम में पहुंचे।

तीसरे क्वार्टर में भारतीय टीम ने मजबूती के साथ वापसी की और चिली के डिफेंस को तोड़ते हुए पेनल्टी कॉर्नर हासिल किया। दीपिका के गोल की बदौलत भारत ने मैच में वापसी करते हुए स्कोर को बराबरी पर ला दिया।

भारतीय टीम ने चिली पर लगातार दबाव बनाया, नतीजतन टीम को एक और पेनल्टी कॉर्नर मिला। इस बार संगीता ने गोल करते हुए पहली बार मैच में भारत को आगे कर दिया।

भारत को तीसरा गोल दिलाने के लिए लालरंडिकी ने तेज चाल के साथ शॉट लगाये। अंतिम क्वार्टर में चिली टीम दो गोल की तलाश में सतर्कता के साथ आगे बढ़ी। काफी देर बाद मेजबान टीम ने मैच में वापसी की और सिमोने अवेली ने 56वें मिनट में टीम का दूसरा गोल दागा।

मैच के अंतिम समय में यह भारतीय टीम के लिए चिंता की बात थी, लेकिन उन्होंने आक्रमण का सामना करते हुए चिली की सीनियर टीम पर एक शानदार जीत दर्ज की। भारतीय मानक समय के अनुसार दोनों टीमें शुक्रवार सुबह एक बार फिर आमने-सामने होंगी।