एशियन गेम्स 2018 में भारतीय मिक्स रिले टीम का जीता गया रजत पदक स्वर्ण पदक में बदला

भारतीय टीम ने 2018 एशियाई खेलों में 4x400 मीटर मिक्स रिले इवेंट में बहरीन के बाद दूसरा स्थान हासिल किया था, इसके लिए उन्होंने 3: 15.71 का समय निकाला था।

एथलेटिक्स फेडरेशन ऑफ इंडिया (AFI) ने गुरुवार को 4x400 मीटर मिश्रित रिले इवेंट में भारत का प्रतिनिधित्व करने वाले मोहम्मद अनस (Mohammed Anas), एमआर पूवम्मा (M.R. Poovamma), हीमा दास (Hima Das), और अरोकिया राजीव (Arokia Rajiv) की चौकड़ी को गुरुवार को स्वर्ण पदक से सम्मानित किया गया।

एथलेटिक्स इंटिग्रिटी यूनिट को पता चला कि स्वर्ण पदक जीतने वाली टीम का हिस्सा रहीं बहरीन की *केमी एडेकोया  *(Kemi Adekoya) डोप टेस्ट में फेल हो गई हैं, जिसके बाद ये निर्णय लिया गया।

नतीजतन, बहरीन टीम को अब अयोग्य घोषित कर दिया गया है।

4x400 मीटर मिक्स रिले इवेंट 2018 में जकार्ता में एशियन गेम्स में हुआ था और भारतीय चौकड़ी 3: 15.71 के समय के साथ दूसरे स्थान पर रही।

एमआर पोवम्मा ने 2018 एशियाई खेलों में 4X400 मीटर महिलाओं के रिले इवेंट में स्वर्ण पदक जीता था
एमआर पोवम्मा ने 2018 एशियाई खेलों में 4X400 मीटर महिलाओं के रिले इवेंट में स्वर्ण पदक जीता थाएमआर पोवम्मा ने 2018 एशियाई खेलों में 4X400 मीटर महिलाओं के रिले इवेंट में स्वर्ण पदक जीता था

AFI के अध्‍यक्ष अदिले सुमारिवाला (Adille Sumariwalla) ने एक बयान में कहा, '' इस खबर से हमें और बेहतर करने की प्रेरणा मिली है, जिसका लक्ष्य अगले साल टोक्यो में होने वाले ओलंपिक खेलों में वैश्विक स्तर पर प्रदर्शन करना और वैश्विक स्तर पर अपनी पहचान बनाना है।’’

4x400 मीटर में दौड़ने वाली मिक्स रिले टीम विशेष रूप से प्रसन्न होगी कि उसने जकार्ता में हुए एशियन गेम्स में दो स्वर्ण और एक रजत पदक जीता है।

उन्होंने कहा, "हमें विश्वास है कि कोच गैलिना बुखारीना (Galina Bukharina) के मार्गदर्शन में रिले टीम अच्छा प्रदर्शन करेगी।"

मोहम्मद अनस ने भारत को जल्दी शुरुआत करने के लिए एक ठोस शुरुआत दी थी, जिसके बाद एमआर पोवम्मा दूसरी रीले को जल्दी पूरा करने में असमर्थ रहीं। हालाँकि, तीसरे चरण में हिमा दास ने उसकी भरपाई कर दी, जिसके बाद अरोकिया राजीव ने भारत के लिए रजत पदक सुनिश्चित करा दिया।

एडेकोया की अयोग्यता का मतलब ये भी था कि अनु राघवन (Anu Raghavan) 400 मीटर बाधा दौड़ के फाइनल में अपना सबसे तेज समय 56.77 सेकंड के बाद तीसरे स्थान पर आ जाएंगी और कांस्य पदक की दावेदार होंगी।

पूवम्मा को मिला डबल गोल्ड

इसक बाद कर्नाटक की एथलीट एमआर पूवम्मा के लिए सबसे बड़ी खुशख़बरी सामने आई, क्योंकि 2018 एशियाई खेलों में अब उनके दो स्वर्ण पदक हो गए हैं, क्योंकि उन्होंने महिलाओं की 4x400 मीटर रिले टीम के साथ भी गोल्ड मेडल जीता था।

एमआर पूवम्मा ने ओलंपिक चैनल से कहा, "ये सुनकर बहुत अच्छा लग रहा है कि हमारे पास अभी स्वर्ण पदक है।" लेकिन हमने जकार्ता में रेस जीती थी, ये बिल्कुल अलग एहसास था।’’

“मेरा मतलब है कि जब राष्ट्रगान बजता है और आप पोडियम पर खड़े होते हैं, तो आप दुनिया के सबसे ख़ुशनसीब इंसान होने की ख़ुशी महसूस करते हैं। लेकिन हां, गोल्ड मेडल की अलग ही बात होती है।’

30 वर्षीय ने कहा कि, "डोपिंग के साथ समस्या यह है कि परिणाम देर से आते हैं और यह सोना ऐसी चीज है जिसकी हम उम्मीद कर रहे थे।" 

एमआर पूवम्मा ने 2014 एशियाई खेलों में भी स्वर्ण और कांस्य पदक जीता था। भारत के एथलेटिक्स दल ने 20 पदक के साथ 2018 एशियाई खेलों के अभियान को समाप्त किया था।“

मोहम्मद अनस, वीके विस्मया (VK Vismaya), जिस्ना मैथ्यू (Jisna Mathew) और नोआ निर्मल टॉम (Noah Nirmal Tom) वाली भारत की मिक्स रिले टीम ने टोक्यो ओलंपिक के लिए भी अपनी जगह पक्की कर ली है और साथ ही 2019 AAAF विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप में दोहा में फाइनल के लिए क्वालिफाई कर लिया है।

क्या आपको यह आर्टिकल पसंद आया? इसे अपने दोस्तों के साथ साझा करें!