IOA ने खेल निकायों को टोक्यो ओलंपिक और आगे की योजना बनाने के लिए की गुज़ारिश 

गवर्निंग बॉडी ने परिस्थितियों के मद्देनज़र खेल निकायों को फ़ाइनेंशियल छूट भी देने की बात कही है।

लेखक ओलंपिक चैनल ·

टोक्यो 2020 अब आधिकारिक तौर पर 23 जुलाई 2021 से शुरू होगा, जिसके बाद भारतीय ओलंपिक संघ (IOA) ने देश के राष्ट्रीय खेल महासंघों (NSF) से तैयारी शुरू करने के लिए अनुरोध किया है। 

अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक समिति के सदस्य और IOA  के अध्यक्ष नरिंदर बत्रा (Narinder Batra) ने प्रेस विज्ञप्ति में कहा, "सभी ओलंपिक खेल NSF से अनुरोध है कि वे टोक्यो 2021 और पेरिस 2024 की तैयारियों के लिए अपनी योजना शुरू कर दें।" 

इससे पहले, IOA ने स्थगन की खबर पर संतोष व्यक्त किया था, जिसमें गवर्निंग बॉडी के महासचिव राजीव मेहता (Rajeev Mehta) ने कहा था, "IOA और NSFs इस फैसले का स्वागत करते हैं और टोक्यो 2020 गेम्स के लिए नई तारीखों का समर्थन करते हैं।" 

मेहता ने NSF से अपने संबंधित एथलीटों के टोक्यो 2020 की तैयारी के लिए ट्रेनिंग प्लान तैयार करने का भी अनुरोध किया।

भारतीय पुरुष और महिला हॉकी टीम को मिलाकर कुल 70 से अधिक भारतीय एथलीटों ने टोक्यो 2020 के लिए क्वालिफाई किया है। 

ना कोई दस्तावेज़? ना कोई दिक्कत 

2015 के बाद से IOA अपने सदस्य राष्ट्रीय खेल महासंघों और राज्य ओलंपिक संघों (SOAs) को आर्थिक रूप से सहायता कर रहा है, जिसमें शुरुआत में 3 लाख रुपये दिए जाते थे, जिसे बढ़ाकर अब छह लाख कर दिया गया है।

अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक समिति के सदस्य और IOA के अध्यक्ष नरिंदर बत्रा चाहते हैं कि स्पोर्टिंग बॉडी 2021 में होने वाले टोक्यो ओलंपिक में पूरी तैयारी के साथ जाए।

IOA ने अपने NSF और SOAs को 2018-19 के वित्तीय वर्ष के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करना जारी रखा है जिन्होंने आवश्यक दस्तावेज़ प्रस्तुत किए हैं। 

हालाँकि, 2021 की तैयारी और उससे आगे और कोरोना वायरस (COVID-19) महामारी के कारण बनी परिस्थितियों के मद्देनज़र, NSF पर खर्च करने के प्रयासों के तहत, IOC उन सदस्यों को भी अनुदान जारी करेगा, जो अभी तक आवश्यक दस्तावेज़ जमा नहीं कर पाए हैं।

एक आधिकारिक बयान में इस कदम को स्पष्ट करते हुए बत्रा ने कहा, "ये देखा गया है कि अभी तक कुछ NSF / SOAs ने अनुदान के लिए अपने आवश्यक दस्तावेज़ प्रस्तुत नहीं किए हैं।"

"जैसा कि पूरे देश में COVID-19 के प्रकोप के कारण लॉकडाउन जारी है, IOA के साथ जुड़े हुए हम लोग समझते हैं कि आवश्यक दस्तावेज़ जमा करने में आपको समय लगेगा।"