कतर ओपन में भारतीय टेबल टेनिस का अभियान ख़त्म

भारत की आखिरी उम्मीद साथियान गणानाशेखरन और एंथोनी अमलराज कोई करिश्मा नहीं दिखा पाए और हार के साथ टूर्नामेंट से बाहर हो गए

भारतीय टेबल टेनिस के फैंस के लिए आज का दिन उम्मीदों के अनुरुप नहीं रहा क्योंकि कतर ओपन (Qatar Open) में साथियान गणानाशेखरन (Sathiyan Gnanasekaran) और एंथनी अमलराज (Anthony Amalraj) को एकल मुकाबलों में हार का सामना करना पड़ा। इससे पहले उन्हें मेंस डबल्स में शिकस्त झेलनी पड़ी थी।

बुधवार को मेंस डबल्स में सीधे गेम में मैच जीता था, लेकिन गुरुवार को उन्हें कुछ इसी तरह हार सामना भी करना पड़ा। साथियान गणानाशेखरन और एंथोनी अमलराज को हांगकांग की हो कवान किट (Ho Kwan Kit) और चुन तिंग वोंग (Chun Ting Wong) की जोड़ी के हाथों हार झेलनी पड़ी।

भारतीय टेबल टेनिस की जोड़ी ने शुरुआत में विरोधियों को परेशान किया लेकिन उन्हें 9-11 के करीबी स्कोर से हार मिली। इसके बाद तो दोनों भारतीय खिलाड़ियों ने सरेंडर ही कर दिया। ना तो उनकी सर्विस अच्छी थी और ना ही रिटर्न।

साथियान गणानाशेखरन और एंथोनी अमलराज को समझ में नहीं आ रहा था कि वह अपने विरोधी के हमले का जवाब कैसे दे। इसके बाद तो उन्होंने जैसे हार ही मान ली और अंत में उन्हें 9-11, 3-11, 4-11 से हार झेलनी पड़ी। इस भारतीय जोड़ी ने केवल 14 मिनट में ही घुटने टेक दिए।

हांगकांग की जोड़ी हो कवान किट और चुन तिंग वोंग के लिए मैच काफी अच्छा साबित हुआ। इसके साथ ही इन्होंने हंगरी ओपन में सेमीफाइनल में साथियान गणानाशेखरन  से अपनी हार का बदला ले लिया। उस टूर्नामेंट में साथियान गणानाशेखरन ने शरत कमल (Achanta Sharath Kamal) के साथ मिलकर सिल्वर पदक जीता था।

हांगकांग की जोड़ी का अब अगला मुकाबला शुक्रवार को क्वार्टर फाइनल मुकाबले में शुंसुके तोगामी (Shunsuke Togami) और युकिया उडा (Yukiya Uda) के खिलाफ होगा

एंथनी अमलराज क़तर ओपन में हारने वाले आख़िरी भारतीय पैडलर रहे। तस्वीर साभार: ITTF
एंथनी अमलराज क़तर ओपन में हारने वाले आख़िरी भारतीय पैडलर रहे। तस्वीर साभार: ITTFएंथनी अमलराज क़तर ओपन में हारने वाले आख़िरी भारतीय पैडलर रहे। तस्वीर साभार: ITTF

एंथनी अमलराज का एकल में सफर थमा

एंथनी अमलराज भारत के इकलौते टेबल टेनिस खिलाड़ी है, जिन्होंने एकल के ड्रॉ में जगह बनाई लेकिन वह उसका फायदा नहीं उठा पाए। इस खिलाड़ी का सफर राउंड 32 में ही थम गया। जहां उन्हें ब्राजील की नंबर 7 रैंकिंग पर काबिज ह्यूगो कैल्डेरानो (Hugo Calderano*)* के खिलाफ 10-12, 4-11, 4-11, 6-11 से हार का सामना करना पड़ा।

इस भारतीय खिलाड़ी ने शुरुआत में तो विरोधी को कड़ी टक्कर दी। जंहा एक वक्त 5-8 से पिछड़ने के गेम बराबरी पर ला खड़ा किया लेकिन इसके बावजूद उन्हें पहला गेम 10-12 से गंवाना पड़ा।

इसके बाद तो एंथोनी  ने जैसे हार ही मान ली हो, पूरे मुकाबले के दौरान वह संघर्ष ही करते रहे और अंत में उन्हे हार का मुंह देखना पड़ा। अब कैल्डेरानो का अगला मुकाबला प्री-क्वार्टर में फ्रांस के साइमन गौज़ी (Simon Gauzy) के खिलाफ होगा

क्या आपको यह आर्टिकल पसंद आया? इसे अपने दोस्तों के साथ साझा करें!