खेलो इंडिया और BRICS गेम्स 2021 में एक साथ ही आयोजित होंगे

किरेन रिजिजू खेलो इंडिया गेम्स की लोकप्रियता को एक नए मुक़ाम पर ले जाना चाहते हैं और इसी सिलसिले में उन्होंने अगले साल BRICS राष्ट्र के साथ ही इसे आयोजित करना चाहते हैं।

लेखक सैयद हुसैन ·

भारतीय खेल मंत्रालय ने इस बात का ऐलान किया है कि अगले साल होने वाला खेलो इंडिया गेम्स और BRICS गेम्स का आयोजन एक साथ ही किया जाएगा।

मंगलवार को BRICS राष्ट्र के खेल मंत्रियों के साथ हुई बैठक में इस बात पर मुहर लगी, इस ऑनलाइन बैठक में ब्राज़ील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ़्रीका के खेल मंत्री उपस्थित थे।

भारतीय खेल मंत्री किरेन रिजिजू ने कहा, “देश के अलग अलग हिस्सों से खिलाड़ी खेलो इंडिया गेम्स में एक साथ एक मंच पर आते हैं, और इस बार उनके पास BRICS गेम्स को भी क़रीब से देखना का मौक़ा होगा।“

“युवा खिलाड़ियों के लिए ये अनोखी पहल मनोबल और हौसला बढ़ाने वाली होगी।“

किरेन रिजिजू ने ख़ुलासा किया कि अगले साल BRICS गेम्स की मेज़बानी भारत करेगा।

पिछले कुछ सालों में खेलो इंडिया गेम्स और खेलो इंडिया यूनिवर्सिटी गेम्स ने काफ़ी क़ामयाबी हासिल की है। रिजिजू उसी मंच की लोकप्रियता का फ़ायदा उठाते हुए इस अनोखे खेल संस्कृति का आयोजन BRICS गेम्स के तहत भारत में करना चाहते हैं।

“2021 में खेलो इंडिया गेम्स के दौरान हम BRICS राष्ट्र को आमंत्रित करेंगे कि वे अपने प्राचीन पारंपरिक खेल संस्कृति की झलक खेलो इंडिया गेम्स के उद्घाटन और समापन समारोह के दौरान दिखाएं।“

2009 में गठित, BRICS एक क्षेत्रीय सहकारी संगठन है जिसमें तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था वाले पांच देश शामिल हैं। ये राष्ट्र औपचारिक शिखर सम्मेलन में सालाना मिलते हैं।

BRICS गेम्स का गठन 2016 में भारत के गोवा में 8वें BRICS शिखर सम्मेलन में किया गया था। जबकि इसके अगले वर्ष चीन के ग्वांग्झू में BRICS गेम्स के पहले संस्करण का आयोजन हुआ था।

खेलो इंडिया एक राष्ट्रीय ज़मीनी स्तर का कार्यक्रम है जिस मंच के ज़रिए स्कूल और विश्वविद्यालय के छात्र अपनी खेल प्रतिभा का हुनर सभी के सामने रखते हैं। इसका आयोजन सबसे पहले साल 2018 में हुआ था।