20 नवंबर से गोवा में ISL 2020-21 सीज़न का होगा आयोजन 

ISL में मोहन बागान और ईस्ट बंगाल की टीमें जुड़ने से इस प्रतियोगिता का रोमांच चरम पर होगा।

लेखक जतिन ऋषि राज ·

इंडियन सुपर लीग सीज़न 2020-21 गोवा में 20 नवंबर से शुरू होगा। बुधवार को भारत की इस लीग ने घोषणा कर इस ख़बर की जानकारी दी। कोरोना वायरस (COVID-19) के बाद बड़े स्तर पर होने वाली वली यह पहली प्रतियोगिता है और हम उम्मीद करते हैं कि सभी खिलाड़ी और उनके प्रशंसक इसका पूरी तरह लुत्फ़ उठा सकें।

ISL के हवाले से बात करें तो यह लीग 2014 में शुरू हुई थी और अब यह अपने 7वें संस्करण के लिए तैयार हैं। 

ISL 2020-21 इसके बाद बायो-बबल के तहत गोवा में खेला जाएगा और सभी को एहतियात बरतते हुए ही आगे बढ़ना होगा।इस संस्करण के लिए 3 वेन्यू को चुना गया है जिसमें फटोर्डा के जवाहरलाल नेहरु स्टेडियम, वास्को में तिलक मैदान और बम्बोलिम में GMC एथलेटिक स्टेडियम शामिल हैं।

अभी तक यही माना जा रहा है कि पूरी प्रतियोगिता बिना लाइव दर्शकों के खेली जाएगी और सभी खिलाड़ियों की सुरक्षा को प्राथमिकता दी जाएगी। वहीं इस लीग में मोहन बागान और ईस्ट बंगाल जैसी बड़ी टीमें भी हिस्सा लेंगी।

2019-20 I-League की विजेता मोहन बागान डिफेंडिंग चैंपियन ATK के साथ मिल गई है और वह ISL 2020-21 में ATK मोहन बागान (ATK Mohun Bagan) के रूप में खेलेगी।

वहीं ईस्ट बंगाल लीग में 11वीं टीम की हेसियत से उतरेगी और एससी ईस्ट बंगाल के नाम से अपना प्रमाण पेश करेगी। ग़ौरतलब है कि ईस्ट एससी बंगाल के कोच लिवरपूल के रोब्बी फाउलर (Robby Fowler) होंगे। ईस्ट बंगाल और मोहन बागान के बीच की भिडंत सबसे ज़्यादा रोमांचक होने वाली है और करोड़ों लोग इनसे अच्छे मुकाबले की उम्मीद लगाए बैठेंगे। यह कहना गलत नहीं होगा कि यह मुकाबला एतोहासिक बनेगा जब वह टीमें मैदान पर उतरेंगी जिन्होंने 100 सालों से अपना वर्चस्व बनाया हुआ है।

वहीं मुंबई एफसी सिटी फुटबॉल ग्रुप के साथ आई यह टीम मैनचेस्टर सिटी के मालिकों के अंदर आ गई है। यह फेरबदल पिछले सीज़न के बीच में हुआ था।

बेंगलुरु एफसी, केरेला ब्लास्टर्स एफ़सी, ओडिशा एफसी, जमशेदपुर एफसी, नार्थईस्ट यूनाइटेड एफसी, चेन्नईयिन एफसी, हैदराबाद एफसी और एफसी गोवा बाकी की 8 टीमें हैं जो इस ताज के लिए स्पर्धा करती दिखेंगी।

एक ही शहर में प्रतियोगिता का आयोजन होने के बावजूद भी इसका फॉर्मेट नहीं बदलेगा। हर टीम अपने प्रतिद्वंदी के साथ अवे और होम फॉर्मेट के तहत खेलेंगे। लीग की 4 सर्वश्रेष्ठ टीमें प्लेऑफ खेलने के लिए आगे जाएंगी।

फिलहाल 11 टीमें गोवा पहुंच चुकी हैं, और प्रतियोगिता की तैयारी में लगी हुई हैं। टूर्नामेंट का शेड्यूल और फिक्सचर अभी आने बाकी हैं।