टेबल टेनिस के दिग्गज खिलाड़ी शरत कमल ने एलीट एथलीटों के लिए चेन्नई में आयोजित किया एक मिनी कैंप

भारतीय दिग्गज TT खिलाड़ी अचंता शरत कमल ने चेन्नई में आने वाले सत्र के लिए अपनी तैयारी जारी रखने के लिए देश भर के 10 एलीट खिलाड़ियों को इकट्ठा किया है।

लेखक विवेक कुमार सिंह ·

आने वाले कुछ दिनों में कोई टेबल टेनिस इवेंट नहीं होने के कारण भारत के दिग्गज टेबल टेनिस खिलाड़ी अचंता शरत कमल (Achanta Sharath Kamal) ने चेन्नई में एलीट एथलीटों के लिए एक मिनी कैंप आयोजित करने का फैसला किया है। अपनी ट्रेनिंग को जारी रखने के लिए उन्होंने ये कदम उठाया है।

8 दिसंबर को हरियाणा के सोनीपत में कोर टेबल टेनिस खिलाड़ियों के लिए नेशनल कैंप का आयोजित किया गया था। इसके बाद अब फरवरी के अंतिम सप्ताह में इवेंट आयोजित होनी है। इसी को ध्यान में रखते हुए शरत कमल ने चेन्नई में ट्रेनिंग सत्र को आयोजित करने का फैसला किया, जिससे ये बचा हुआ समय वो अपने आप को बेहतर बनाने में लगा सकें।

शरत कमल ने हिंदुस्तान टाइम्स को बताया, “हमने लंबे ब्रेक के बाद नेशनल कैंप में बहुत सी चीजों को बेहतर किया, दीवाली से पहले फुटवर्क, तकनीक, मूवमेंट और फंडामेंटल और फाउंडेशन पर हमारा ज्यादा फोकस था, दीवाली के बाद हमने अपनी सर्विस में सुधार किया।”

उन्होंने कहा, “यहां हम मैच खेलने पर ज्यादा ध्यान देंगे। जब आपके पास ट्रेनिंग करने के लिए खिलाड़ियों का एक अच्छा समूह होता है, तो आपको ग़लतियों से छुटकारा पाने, मैच ज़ोन में रहने, रणनीति बनाने और ऐसी कई चीज़ों को हासिल करने की आवश्यकता होती है।”

इस ट्रेनिंग सेशन की निगरानी शरथ कमल के पिता और द्रोणाचार्य अवार्डी ए श्रीनिवास राव (A Srinivasa Rao), उनके चाचा और अनुभवी कोच मुरलीधर राव (Murlidhar Rao) और भाई राजनाथ कमल (Rajath Kamal) करेंगे। इस ट्रेनिंग सेशन में शीर्ष खिलाड़ी शरत कमल, अंडर -21 नंबर-1 खिलाड़ी मानव ठक्कर (Manav Thakkar), मानुष शाह (Manush Shah), अर्जुन घोष (Arjun Ghosh), एंथनी अमलराज (Anthony Amalraj) और विश्वा दीनदयालन (Vishwa Deenadayalan), जैसे खिलाड़ी होंगे।

दुनिया के 32वें नंबर के खिलाड़ी ने कहा, "ये स्थानीय खिलाड़ियों सहित लगभग 10 खिलाड़ियों का एक ग्रुप होगा, इसलिए यहां अभ्यास करने के लिए पर्याप्त संख्या में खिलाड़ी हैं।"

“दिन में हमें ट्रेनिंग करने की अनुमति लेने के लिए स्थानीय अधिकारियों के साथ बात-चित करनी पड़ी है। मैंने TOPS (टारगेट ओलंपिक पोडियम स्कीम) के अधिकारियों से अपनी रिकवरी के लिए भी कहा है। मैंने एक कैंप के अधिकांश पहलुओं को आजमाया और कवर किया है। हमारे पास अन्य खिलाड़ियों के कोचों का भी साथ होगा।”

जहां सभी खिलाड़ियों का ध्यान ओलंपिक के लिए टिकट हासिल करने पर लगा है। ऐसे में शरत कमल ने कहा कि देश में मौजूदा कोरोना वायरस (COVID-19) स्थिति के बावजूद एक और कैंप के लिए चेन्नई में एथलीटों बुलाने में ज्यादा मुश्किल नहीं हुई।

38 वर्षीय ने कहा, "वास्तव में उन खिलाड़ियों ने ही मुझे विश्वास दिलाते हुए कहा, भइया, शिविर अच्छा हो गया, चलो एक बार और करें। मानुष शाह यहां रहने के दौरान अपने कॉलेज की परीक्षा भी देंगे।”

पूर्व राष्ट्रमंडल चैंपियन ने ये भी कहा कि उन्होंने एथलीटों के लिए एक स्टैंडर ओपरेशन प्रोसीजर का चार्ट बनाया था, जिसमें बाहर घूमने-फिरने और कमरे में भोजन करने जैसी चीजों को विशेष रूप से ध्यान में रखा गया था।

शरत कमल ने कहा, “मैंने उनसे अपने कमरों से बहुत अधिक बाहर न निकलने और रेस्तरां या सुपरमार्केट न जाने के लिए कहा है। मैं उन्हें खेल के अलावा, हमेशा मास्क पहनने के लिए भी कह रहा हूं। हमें प्रोटोकॉल बनाए रखना होगा और सावधानी बरतनी होगी।”

मिनी कैंप जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम के टेबल टेनिस हॉल में 13 जनवरी तक चलेगा, जिसमें चेन्नई में स्थित फिटनेस सेंटर स्पोर्ट्स डायनामिक्स जिम एथलीटों की मदद करेगा।