पोलैंड में सफलता के बाद अब जापान में फतह करने के लिए तैयार हैं साथियान

भारतीय टेबल टेनिस दिग्गज साथियान गणानाशेखरन जापानी टी-लीग में खेलने वाले पहले भारतीय बनेंगे।

लेखक जतिन ऋषि राज ·

कोरोना वायरस (COVID-19) की वजह से लगभग 7 महीनों से घर बैठने के बाद साथियान गणानाशेखरन (Sathiyan Gnanasekaran) पोलैंड के बाद अब जापान की धरती पर स्पर्धा करने के लिए तैयार हैं।

साथियान ने सोकोलो एसए जारोस्लाव (Sokolow S.A Jaroslaw) के लिए पोलिश सुपर लीग में 4 मुकाबले खेले हैं और उन्होंने चारों में जीत भी हासिल की है। अब उनके सामने एक और चुनौती है जिसे पार पाने के लिए वह एक दम तैयार हैं।

ग़ौरतलब है कि साथियान जापानी टी-लीग में खेलने वाले पहले भारतीय टेबल टेनिस खिलाड़ी बनेंगे और इस प्रतियोगिता में वह अगले महीने से खेलते दिखाई देंगे।

साथियान ने इस विषय में टाइम्स ऑफ़ इंडिया से बात करते हुए कहा “यह विश्व की सबसे प्रसिद्ध लीग है और इसमें टॉप 10 और टॉप 20 लगातार स्पर्धा करते हैं। ऐसे में हो सकता है कि में इस प्रतियोगिता में जब भी खेलूं तो एक अंडरडॉग कहलाया जाऊं।”

लॉकडाउन की वजह से भले ही भारतीय टेबल टेनिस स्टार साथियान गणानाशेखरन दूर रहे हों लेकिन उन्होंने अपनी ट्रेनिंग में कोई कमी नहीं आने दी है। वह अपने घर में ही एक रोबोट के साथ अभ्यास किया करते थे ताकि वह अपने खेल को और बेहतर कर सकें।

अब जब पोलिश सुपरलीग में वह जीत के साथ आगे आ रहे हैं तो ऐसे में उनकी लय देखते ही बनेगी और इस प्रतियोगिता में भी वह अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद कर सकते हैं।

“शुरुआती दौर में मैं थोड़ा रस्टी महसूस कर रहा था लेकिन पहली जीत के बाद मुझे लय मिल गई थी।”

उन्होंने बातचीत को आगे बढ़ाते हुए कहा “मेरे आख़िरी दो मुकाबले बेहतर थे और मैंने लगभग हर चाल सही चली थी। मैं खुद से और ज़्यादा उम्मीद कर रहा था और मैं अपनी योजनाओं को बख़ूबी काम में भी लाया।

विश्व नंबर 32 के खिलाड़ी साथियान गणानाशेखरन शुक्रवार को अपने घर चेन्नई के लिए रवाना हो गए हैं और जापान जाने से पहले उन्हें 14 दिन के क्वारंटाइन में रहना होगा इसके बाद ओकायामा रिवेट्स (Okayama Rivets) के लिए वह 12 मुकाबले खेलते नज़र आएंगे।