टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालिफाई करना महज़ एक औपचारिकता: साथियान

अपनी रैंकिंग की बदौलत साथियान गणानाशेखरन के लिए ओलंपिक खेलों में क्वालिफाई करना बेहद आसान हो गया है।

लेखक जतिन ऋषि राज ·

भारतीय टेबल टेनिस स्टार साथियान गणानाशेखरन को खुद पर विश्वास है कि वह टोक्यो के जरिए अपना ओलंपिक डेब्यू ज़रूर करेंगे। हालांकि COVID-19 की वजह से खेल जगत की सभी गतिविधियों को रोक दिया गया है।

पुरुष एकल की बात करें तो साथियान फिलहाल 31वें स्थान पर काबिज़ हैं, जो कि भारतीय खेमे के लिए एक उम्दा ख़बर है और ओलंपिक खेलों में क्वालिफाई करने के लिए पर्याप्त रैंक है।

टाइम्स ऑफ़ इंडिया को दिए इंटरव्यू के दौरान साथियान ने कहा, “मेरी रैंकिंग को देख क्वालिफिकेशन महज़ एक औपचारिकता रह जाती है। अगर ओलंपिक खेल समय पर होते हैं तो शरत अचंत कमल और मैं इसका हिस्सा ज़रूर होंगे।”

कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप की वजह से टेबल टेनिस समेत सभी खेलों की प्रतियोगिताओं को 30 अप्रैल तक के लिए स्थगित कर दिया गया है। ऐसे में भारतीय टेबल टेनिस स्टार साथियान के लिए चीज़ों का अंदाजा लगाना थोड़ा मुश्किल है।

उन्होंने आगे कहा, “हमें अभी इंतज़ार कर देखना होगा कि आगे क्या होता है। एक महीने के बाद ही चीज़ों की पुष्टि की जा सकेगी। इस समय किसी भी नतीजे पर पहुंचना जल्दबाज़ी होगी।”

साथियान गणानाशेखरन फिलहाल विश्व में 31वीं रैंक पर काबिज़ हैं 

साथियान की सफलताओं की बात करें तो वह तब चर्चा में आए जब उन्होंने ITTF रैंकिंग में शीर्ष 25 खिलाड़ियों में अपनी जगह बनाई। गौरतलब है कि ऐसा करने वाले वह पहले भारतीय टेबल टेनिस खिलाड़ी बने।

साथियान ने कहा, “मैंने ओलंपिक खेलों में कभी शिरकत नहीं की है। यह मेरा पहला पहला अनुभव होगा और इसे लेकर में सकरात्मक सोच रहा हूं कि जब भी खेल शुरू होंगे मेरा नाम इसमें शामिल होगा।”

कोरोना के समय कौन है साथियान के मनोरंजन साथी

इस समय की स्थिति के हिसाब से खिलाड़ी सोशल मीडिया के ज़रिए अपना मनोरंजन कर रहे हैं या फिर वह अपने-अपने पसंदीदा टीवी कार्यक्रमों का लुत्फ़ उठा रहे हैं। साथियान ने बताया कि इस समय उनका मनपसंद कार्यक्रम क्या है। उन्होंने कहा, “फिलहाल मैं अपनी मां के साथ नेटफ्लिक्स पर वे सभी कार्यक्रमों को खत्म कर रहा हूं जो मैं पहले से देख रहा था। इस समय में मैं अपने फैंस के साथ बातचीत भी कर रहा हूं। अगले दो महीनों में कोई भी प्रतियोगिता नहीं है और मेरे लिए यह अंतराल अभी तक सबसे लंबा अंतराल है।”

हालांकि इस भारतीय टेबल टेनिस खिलाड़ी के लिए यह समय केवल मनोरंजन का ही नहीं है बल्कि वे अपने खेल पर भी ध्यान दे रहे हैं। उन्होंने बतया, “मैंने अपने मुकाबलों को रिकॉर्ड किया है और मैं ज़्यादा से ज़्यादा खुद के वीडियो ही देख रहा हूं। मैंने अपने कोच से भी बात करनी शुरू कर दी है और भविष्य की रणनीति पर हम लोग काम कर रहे हैं।”