भारतीय टेनिस जोड़ी शरण और प्रशांथ ने लॉकडाउन के बाद जीता पहला ख़िताब

भारतीय टेनिस जोड़ी ने सर्रे के नेशनल टेनिस सेंटर में लॉन टेनिस एसोसिएशन ब्रिटिश टूर टाइटल पर जमाया कब्ज़ा।

भारतीय टेनिस जोड़ी दिविज शरण (Divij Sharan) और विजय सुन्दर प्रशांथ (Vijay Sundar Prashanth) ने कोरोना वायरस (COVID-19) के बाद अपना पहला खिताब जीता। गौरतलब है कि यह जीत उन्हें सर्रे में हुए लॉन टेनिस एसोसिएशन ब्रिटिश टूर में मिली।

फाइनल में ब्रिटिश जोड़ी रयान पेनिस्ट (Ryan Peniston) और डेविड स्टीवेंसन (David Stevenson) के खिलाफ खेलते हुए भारतीय जोड़ी ने 4-2, 4-1 से जीत को अपने हिस्से में डाला और सभी प्रशंसकों को ख़ुशियाँ मनाने का एक और मौका दे दिया।

भारतीय टेनिस जोड़ी दिविज शरण और विजय सुन्दर प्रशांथ को फाइनल तक पहुंचने में काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा लेकिन फाइनल मुकाबले में उन्होंने नपा तुला खेल दिखाया और हमेशा ही गेम पर अपना कंट्रोल रखा।

सपोर्टस्टार से बात करते हुए दिविज शरण ने कहा “टाइटल जीतना हमेशा अच्छा लगता है। विजय के साथ खेलना भी मुझे अच्छा लगता है और मैं उन्हें 20 साल से जानता हूं जब हम अंडर 14 में थे। आज हमने साइड भी बदली और उन्होंने डियूस कोर्ट से खेला।”

प्रतियोगिता में इस भारतीय जोड़ी का सामना माइकल शॉ (Michael Shaw) और बरनाबे स्मिथ (Barnaby Smith) से हुआ शरण/विजय ने 4-1, 1-4, 10-7 से अपने हक में रखा।

अब यह कारवाँ सेमीफाइनल तक पहुंच गया था और फ़िन मर्गेट (Finn Murgett) और जेम्स स्टोरी (James Story) के सामने भारतीय खिलाड़ियों ने ज़बरदस्त प्रदर्शन करते हुए 3-4 (6), 4-1, 10-5. से कोर्ट को अपने कब्ज़े में किया।

कोरोना वायरस के शुरूआती दिनों से ही दिविज शरण यूके में रह रहे थे और उनकी पत्नी सामंथा मर्रे शरण (Samantha Murray Sharan) (एक टेनिस खिला़ड़ी) ने भी इस खिलाड़ी को दोबारा कोर्ट पर वापसी करने में काफी मदद की।

ओलंपिक चैनल को दिविज ने बताया था कि “अब जब कोई टूर्नामेंट आगे है नहीं और ऐसे में कोर्ट पर जा कर टेनिस खेलते रहने में कोई समझदारी नहीं है। मैं यह सब इसलिए कर रहा हूं ताकि खुद को फिट रख सकूं। अगर सब दोबारा शुरू होने में एक महीना ही रहता है तो मैं पहले से ही तैयार रहूंगा।”

अगर भारतीय टेनिस स्टार दिविज शरण यूएस ओपन का हिस्सा नहीं होते हैं तो वह यूरोप में कुछ इवेंट खेल सकते हैं।
अगर भारतीय टेनिस स्टार दिविज शरण यूएस ओपन का हिस्सा नहीं होते हैं तो वह यूरोप में कुछ इवेंट खेल सकते हैं।अगर भारतीय टेनिस स्टार दिविज शरण यूएस ओपन का हिस्सा नहीं होते हैं तो वह यूरोप में कुछ इवेंट खेल सकते हैं।

फिलहाल माना जा रहा है कि यूएस ओपन तय समय यानी 31 अगस्त से शुरू होगा और दिविज भी जानते हैं कि ऐसा हुआ तो उनके पास भी बहुत कम समय रह जाएगा।

स्पोर्टस्टार के साथ बातचीत को आगे बढ़ाते हुए कहा “यूएस ओपन को लेकर अभी भी अनिश्चितता बनी हुई है। उन्हें इस महीने के अंत तक फाइनल चुनाव करना होगा। मेरे लिए यूएस ओपन में जगह बनानी एक चुनौती होगी क्योंकि इस बार ड्रॉ भी छोटा है।”

अगर भारतीय टेनिस स्टार दिविज शरण यूएस ओपन का हिस्सा नहीं होते हैं तो उन्हें यूरोप में कुछ इवेंट में भाग लेते हुआ देखा जा सकता है।

क्या आपको यह आर्टिकल पसंद आया? इसे अपने दोस्तों के साथ साझा करें!