रोजर फ़ेडरर के ट्विटर चैलेंज ने एक बार फिर लिएंडर पेस और महेश भूपति को लाया साथ

पूर्व टेनिस जोड़ी ने सोशल मीडिया पर एक दूसरे को पछाड़ने की कोशिश की और टेनिस बॉल से वॉली की अपनी काबिलियत दिखाई।

लेखक ओलंपिक चैनल ·

कुछ दिन पहले, टेनिस दिग्गज रोजर फेडरर (Roger Federer) ने अपने ट्विटर प्रोफाइल पर एक वीडियो डाला, जिसमें उन्होंने अपने प्रशंसकों से टेनिस बॉल को दीवार पर उछालने को कहा और इसके साथ ही उन्होंने वादा किया कि वह इसमें सुधार के सुझाव भी देंगे।

फेडरर के ट्वीट पर कई लोगों ने जवाब दिया, इस लिस्ट में भारतीय महान खिलाड़ी लिएंडर पेस (Leander Paes) और महेश भूपति (Mahesh Bhupathi) का नाम भी शामिल है। इसके साथ ही उन्होंने फेडरर के चैलेंज को ट्विस्ट के साथ पूरा किया।

46 वर्षीय लिएंडर पेस, जो इस संन्यास लेने वाले हैं, उन्होंने कैमरे पर बात करते हुए एक रैकेट के बजाय फ्राइंग पैन के साथ टेनिस बॉल को उछालते हुए खुद को रिकॉर्ड किया, इस प्रक्रिया में उन्होंने एक अलग चुनौती दी।

पेस के पूर्व जोड़ीदार और कुछ साल पहले ही संन्यास ले चुके महेश भूपति ने भी उनकी इस काबिलियत की तारीफ की। इसके अलावा डेविस कप में भारतीय टीम के नॉन-कैप्टन को पेस ने अपनी काबिलियत दिखाते हुए वीडियो पोस्ट करने का भी चैलेंज दिया

ऐसा लगता है कि महेश भूपति को बस थोड़े प्रोत्साहन की ही जरूरत थी और वे सामान के साथ आए और इसके बाद  कहानी में एक और मोड़ आया।

शानदार दिनों की यादें

महेश भूपति और लिएंडर पेस ने टीम के रूप में बहुत सफलता हासिल की है। इस भारतीय जोड़ी ने साल 1999 में फ्रेंच ओपन के साथ साथ विंबलडन ओपन  का खिताब भी जीता था। इसके अलावा यह पहली जोड़ी बनी थी जो सभी ग्रैंड स्लैम के फाइनल तक पहुंची थी।

यह जोड़ी साल 1995 से 2010 तक मेंस डबल्स की रैंकिंग में पहले स्थान पर काबिज रही, वहीं जब ये दोनों साथ खेले तो डेविस कप का एक भी मैच नहीं हारे।

उन दोनों के झगड़े के बाद अब सोशल मीडिया पर इन महान खिलाड़ियों के बीच बातचीत फैंस को राहत के साथ और बदलाव का संकेत दे रहा है। इसके अलावा उन यादगार दिनों को भी एक बार फिर से ताजा करता है। इससे पेस और भूपति के बीच दोस्ती की झलक भी दिखाई दे रही है।