बड़ी सर्विस के साथ ऑस्ट्रेलियन ओपन को यादगार बनाने के लिए बेताब हैं सुमित नागल

मेलबर्न पार्क के लिए सुमित नागल को वाइल्ड कार्ड एंट्री मिली है। उनके करियर का ये तीसरा ग्रैंड स्लैम होगा।

लेखक सैयद हुसैन ·

सुमित नागल (Sumit Nagal) की नज़र 8 फ़रवरी से शुरू हो रहे साल के पहले ग्रैंड स्लैम ऑस्ट्रेलियन ओपन को यादगार बनाने पर है।

23 वर्षीय इस भारतीय टेनिस खिलाड़ी को आदत है कुछ हैरतअगेज़ नतीजे और सभी को चौंकाने वाले परिणाम की, फिर चाहे 2019 में अपने पहले ग्रैंड स्लैम में दिग्गज रोजर फ़ेडरर (Roger Federer) के ख़िलाफ़ पहला सेट जीतना हो। या फिर पिछले सात सालों में किसी ग्रैंड स्लैम मेन ड्रॉ का सिंगल्स मुक़ाबला जीतने वाला भारतीय खिलाड़ी बनना हो।

ऑस्ट्रेलियन ओपन नागल के करियर का तीसरा ग्रैंड स्लैम होगा, जहां विश्व रैंकिंग में 138वें नंबर के इस खिलाड़ी को वाइल्ड कार्ड एंड्री मिली है।

हालांकि मेलबर्न पार्क का इतिहास सुमित नागल के पक्ष में नहीं है, 2018 और 2020 में हुए ग्रैंड स्लैम में वह दोनों ही बार पहले क्वालिफ़ाइंग राउंड में हार गए थे। लेकिन ये भारतीय मानता है कि अब सब कुछ बदल गया है।

द हिन्दु के साथ बातचीत में नागल ने कहा, “ऑस्ट्रेलिया में कभी भी नतीजे मेरे पक्ष में नहीं गए हैं, इसलिए मैं चाहता हूं कि इस बार यादगार बनाया जाए।“

“जब भी मैंने यहां जूनियर या क्वालिफ़ायर खेला है, तो मैं कभी पूरी तरह फ़िट नहीं रहा कभी मानसिक तौर से तो कभी शारीरिक तौर पर। लेकिन इस बार मैं पूरी तरह फ़िट हूं और अच्छा करने की उम्मीद है।“

2016 से लेकर अब तक नागल ने जितनी बार ऑस्ट्रेलिया में खेला है, हर बार नतीजे उनके ख़िलाफ़ गए हैं। लेकिन हरियाणा के झज्जर के रहने वाले सुमित उन सारी चीज़ों को इस बार पीछे छोड़ देना चाहते हैं।

“दो साल पहले की तुलना में अब मैं ज़्यादा बेहतर सर्विस कर रहा हूं, मैं फ़ोरहैंड का ज़्यादा अच्छा इस्तेमाल कर रहा हूं और मेरा बैकहैंड भी बेहतर है। मैंने अपनी सर्विस पर बहुत मेहनत की है। मैं बहुत ज़्यादा लंबा और ताक़तवर नही हूं इसलिए मेरी सर्विस अच्छी होना ज़रूरी है और आक्रामक रिटर्न भी होना चाहिए। पिछले साल चोट की वजह से मुझे एक मैच छोड़ना भी पड़ा था, इसलिए मैं अपने शरीर पर ध्यान दे रहा हूं।“

इस बार सुमित नागल ऑस्ट्रेलिया में अपने अभियान का आग़ाज़ मर्रे रिवर ओपन ATP 250 (Murray River Open ATP 250) के साथ करने जा रहे हैं। सोमवार को पहले राउंड के मुक़ाबले में उनका सामना लिथुआना के रिकार्डस बेरकिंस (Ricardas Berankis) से होगा।