सुमित नागल बेट-1 हल्क्स टेनिस चैंपियनशिप से हुए बाहर 

भारत के सर्वश्रेष्ठ रैंक वाले टेनिस खिलाड़ी सुमित नागल को ATP 250 इवेंट में मिओमिर केमैनोविक ने मात देते हुए बाहर का रास्ता दिखाया।

लेखक जतिन ऋषि राज ·

भारतीय सर्वश्रेष्ठ रैंक टेनिस खिलाड़ी सुमित नागल (Sumit Nagal) बेट-1हल्क्स चैंपियनशिप से बाहर हो गए हैं। सोमवार को सर्बिया के मिओमिर केमैनोविक (Miomir Kecmanović) के खिलाफ सुमित को 6-4, 6-7 (4), 1-6 से हार का सामना करना पड़ा।

वर्ल्ड नंबर 39 केमैनोविक के खिलाफ खेलते हुए भारतीय तेनिस्ट स्टार सुमित नागल ने पहला सेट अपने नाम किया लेकिन इसके बाद सर्बियाई खिलाड़ी ने वापसी करते हुए मुकाबले को अपने नाम किया।

मुख्य ड्रॉ में लकी लूज़र होने के नाते प्रवेश करने वाले सुमित ने अपने प्रतिद्वंदी की दूसरी ही सर्विस तोड़कर 2-0 की बढ़त हासिल कर ली थी। विश्व नंबर 130 नागल अच्छी लय में दिख रहे थे और उन्होंने चौथे गेम में एक और सर्विस ब्रेक कर मैच में बने रहने की कोशिश की।

भारतीय टेनिस खिलाड़ी सुमित नागल कोलोग्न में पहले राउंड में ही बाहर हो गए हैं। तस्वीर साभार टाटा ओपन महाराष्ट्र 

इसके बाद सर्बियाई खिलाड़ी ने ओपनिंग सेट में दो बार नागल की सर्विस तोड़कर वापसी करनी चाही लेकिन तब तक देर हो गई थी और उन्हें यह सेट गंवाना पड़ा।

दूसरे सेट में पिछली गलतियों को सुधारते हुए केमैनोविक ने खल को अपने कब्ज़े में किया और ओपनिंग गेम पर अपने नाम की मुहर लगा दी।

सुमित नागल ने भी खेल में कौशल दिखाते हुए कुछ अच्छे शॉट्स दिखाए और गेम को टाई ब्रेकर तक ले गए। हालांकि भारतीय खिलाड़ी को जीत नसीब नहीं हुई और अब मुकाबला फाइनल सेट में जा चुका था।

तीसरे सेट में केमैनोविक ने भारतीय सुमित नागल को ज़्यादा मौके नहीं दिए और अपना दबदबा कायम रखा और मुकाबले को अपने नाम कर लिया।

जीवोल्फ क्रेन ओपन

तो वहीं दूसरी ओर जीवोल्फ क्रेन ओपन, ATP चैलेंजर में भारत के प्रजनेश गुणेश्वरन (Prajnesh Gunneswaran) को ओपनिंग राउंड को जीतने के लिए कड़ी मशक्कत करनी पड़ी। जर्मनी के इस्मानिंग में खेलते हुए इस भारतीय टेनिस खिलाड़ी के हाथ एक दिलचस्प जीत लगी।

अर्जेंटीना के टॉमस मार्टिन एटचेरी (Tomas Martin Etcheverry) के खिलाफ खेलते हुए प्रजनेश गुणेश्वरन ने टाई ब्रेकर की मदद से पहले राउंड को 6-4, 3-6, 7-6 (3) से अपने नाम किया।

आज भारतीय टेनिस के लिए अच्छा दिन रहा क्योंकि इन दो मुकाबलों के बाद रामकुमार रामनथन (Ramkumar Ramanathan) ने मज़ेदार खेल दिखाते हुए क्वेंटिन हासि (Quentin Halys) को इस्मानिंग चैलेंजर में 7-6 (3), 6-3 से मात दी।