फ्रेंच ओपन क्वालिफ़ायर्स में सुमित नागल हारे तो प्रजनेश गुणेश्वरन को मिली जीत

भारत के शीर्ष रैंक टेनिस खिलाड़ी सुमित नागल फ्रेंच ओपन क्वालिफ़ायर्स के पहले राउंड में डस्टिन ब्राउन से हार गए, जबकि प्रजनेश गुणेश्वरन जीत के साथ अपने सफर को जारी रखने में कामयाब रहे।

लेखक रितेश जायसवाल ·

फ्रेंच ओपन क्वालिफ़ायर्स में भारतीय टेनिस खिलाड़ियों के लिए मिला-जुला दिन रहा, जहां एक ओर सुमित नागल (Sumit Nagal) अपने मुक़ाबले में हार गए, वहीं दूसरी ओर प्रजनेश गुणेश्वरन (Prajnesh Gunneswaran) सोमवार को मुख्य ड्रॉ में जगह बनाने के करीब पहुंच गए।

इस प्रतियोगिता में भारत के शीर्ष रैंक टेनिस खिलाड़ी सुमित नागल जर्मनी के अनुभवी खिलाड़ी डस्टिन ब्राउन (Dustin Brown) से सीधे सेटों में 6-7(4), 5-7 से अपने पहले राउंड का मैच हार गए। वहीं, प्रजनेश गुणेश्वरन ने तुर्की के सेम इल्केल (Cem Ilkel) पर 6-3, 6-1 की आसान जीत दर्ज की।

यूएस ओपन में एक सराहनीय प्रदर्शन के बाद फ्रेंच ओपन क्वालिफ़ायर्स में प्रवेश करने के साथ ही सुमित नागल अपने कारवां को जारी रखने की उम्मीद कर रहे थे। वे वहां पर ग्रैंड स्लैम का मुख्य ड्रॉ मैच जीतने वाले सात वर्षों में पहले भारतीय बन गए थे।

अपनी पसंदीदा मैदान पर खेलते हुए नागल ने अनुभवी डस्टिन ब्राउन के खिलाफ इस मैच को आसान समझा और उनकी शुरुआती सर्विस को ब्रेक कर दिया।

डस्टिन ब्राउन ने फ्रेंच ओपन क्वालिफ़ायर्स के शुरुआती राउंड में सुमित नागल को हराने के लिए अपने अनुभव पर भरोसा किया।

हालांकि, 2015 में विंबलडन में दूसरे राउंड में राफेल नडाल को हराने वाले ब्राउन को सर्विस के दौरान संघर्ष करते हुए देखा गया। इसीलिए नागल ने अपने प्रतिद्वंद्वी की दूसरी सर्विस को ब्रेक करते हुए बढ़त बनाने का लक्ष्य रखा।

लेकिन एकाग्रता में थोड़ी सी कमी के चलते सुमित नागल को आठवें गेम में जीत मिली। यह पल इस मैच में निर्णायक मोड़ साबित हुआ, क्योंकि ब्राउन एक घंटे के भीतर ही शुरुआती सेट को टाई-ब्रेकर में ले जाने में कामयाब रहे।

दूसरे सेट में दोनों खिलाड़ियों को काफी हद तक अपनी-अपनी सर्विस का बचाव करते हुए देख गया। 

जब ब्राउन सर्विस से जूझते हुए नज़र आए तो नागल ने सेट को सील करने का प्रयास किया। लेकिन जर्मनी के इस खिलाड़ी ने बारहवें गेम में अपनी सर्विस पर फिर से नियंत्रण बनाते हुए मैच को जीत लिया।

प्रजनेश गुणेश्वरन ने फ्रेंच ओपन क्वालिफायर के शुरुआती दौर के पहले मैच में जीत हासिल की।

प्रजनेश गुणेश्वरन का शानदार प्रदर्शन

इस बीच वर्ल्ड रैंकिंग में 141वें स्थान पर काबिज़ प्रजनेश गुन्नेश्वरन को इस तरह की परेशानी का सामना नहीं करना पड़ा। उन्होंने फ्रेंच ओपन क्वालिफ़ायर्स के शुरुआती दौर में अपना पहला मैच आसनी से जीत लिया।

हालांकि 25 वर्षीय सेम इल्केल ने दूसरे गेम में 2-0 से बढ़त बनाने के लिए सर्विस को ब्रेक करते हुए अपनी शुरुआत की, लेकिन गुणेश्वरन को इससे कुछ खास फर्क नहीं पड़ा।

पांचवें गेम में सर्विस को ब्रेक करने के साथ ही उन्होंने इल्केल की बराबरी कर ली। इसके बाद तोड़कर भारतीय टेनिस खिलाड़ी ने अगले चार गेम जीतते हुए शुरुआती सेट को केवल 40 मिनट में अपने नाम कर लिया।

दूसरे सेट में गुणेश्वरन शानदार नज़र आए, उन्होंने शुरुआती 5 गेम को जीतते हुए कुछ बेहतरीन शॉट दिखाए और जल्द ही मैच को अपने नाम कर लिया।

अब 30 वर्षीय गुणेश्वरन क्वालिफ़ायर्स के दूसरे दौर में ऑस्ट्रेलिया के अलेक्जेंडर वुकिक (Aleksandar Vukic) से भिड़ेंगे।