बोपन्ना-शापोवालोव का शानदार सफ़र इटालियन ओपन क्वार्टर-फ़ाइनल में थम गया

भारतीय-कनाडियाई जोड़ी ने आख़िरी लम्हों में मैच प्वाइंट तो बचाया लेकिन फ़्रेंच जोड़ी से पार नहीं पा सके।

लेखक सैयद हुसैन ·

भारत के रोहन बोपन्ना (Rohan Bopanna) और उनके कनाडियाई जोड़ीदार डेनिस शापोवालोव (Denis Shapovalov) शुक्रवार को इटालियन ओपन के क्वार्टर-फ़ाइनल में फ़्रांस के जेरेमी चार्डी (Jeremy Chardy) और फ़ैबरिस मार्टिन (Fabrice Martin) के हाथों कड़े मुक़ाबले में 6-4, 5-7, 7-10 से हार कर बाहर हो गए।

भारतीय-कनाडियाई इस ग़ैर वरीयता प्राप्त जोड़ी ने इस ATP 100 मास्टर्स इवेंट में आग़ाज़ शानदार अंदाज़ में किया था। बोपन्ना-शापोवालोव ने राउं ऑफ़ 32 में अर्जेंटीना और चिली के गुइडो पेला (Guido Pella) और क्रिश्चियन गैरिन (Christian Garin) को मात दी थी। इसके बाद राउंड ऑफ़ 16 में इस जोड़ी ने शीर्ष वरीयता प्राप्त और गत विजेता जोड़ी रोबर्ट फ़ाराह (Robert Farah) और जुआन सेबेस्तियन कैबल (Juan Sebastian Cabal) को टाई-ब्रेकर के ज़रिए 6-3, 3-6, 10-5 से हराते हुए क्वार्टर-फ़ाइनल में प्रवेश कर किया था।

क्वार्टर-फ़ाइनल में भी बोपन्ना-शापोवालोव ने शुरुआत बेहतरीन की थी और इस जोड़ी ने पहले ही गेम में मार्टिन-चार्डी की सर्विस ब्रेक करते हुए बढ़त बना ली थी।

हालांकि इसके बाद दोनों ही टीमों ने पहले सेट में अपनी अपनी सर्विस ज़ाया नहीं होने दी, लेकिन भारतीय-कनाडियाई जोड़ी को ये 6-4 से पहला सेट जीतने के लिए काफ़ी था।

चार्डी-मार्टिन की जोड़ी को अब दूसरे सेट में वापसी की सख़्त ज़रूरत थी और दूसरे ही गेम में उन्होंने बोपन्ना-शापोवालोव की सर्विस ब्रेक करते हुए बढ़त बना ली थी।

बोपन्ना एंड कपंनी ने तुरंत ही इसका बदला लेते हुए हिसाब बराबर कर दिया था लेकिन 12वें गेम में इस जोड़ी की सर्विस एक फिर टूटी और इस तरह दूसरा सेट फ़्रेंच जोड़ी के नाम 7-5 से गया।

रोहन बोपन्ना और डेनिस शापोवालोव को इटालियन ओपन के क्वार्टर-फ़ाइनल में मिली हार

अब मुक़ाबले का फ़ैसला टाई-ब्रेकर के ज़रिए होना था, यहां दूसरे सेट में मिली जीत से लबरेज़ फ्रेंच जोड़ी ने दूसरे ही सर्विस गेम में बोपन्ना-शापोवालोव की सर्विस तोड़ते हुए अहम बढ़त हासिल कर ली थी।

जैसे-जैसे खेल आगे बढ़ा बोपन्ना और उनके जोड़ीदार ने भी कड़ी टक्कर दी लेकिन इस दौरान चार बार मार्टिन-चार्डी ने सर्विस तोड़ी जबकि बोपन्ना-शापोवालोव ने तीन बार ही फ़्रेंच जोड़ी की सर्विस तोड़ पाए। जिसमें 16वें सर्व में एक मैच प्वाइंट सेव भी शामिल है, और आख़िरकार 7-10 से टाई-ब्रेकर में भारतीय-कनाडियाई जोड़ी को हार मिली।