रोजर फ़ेडरर हैं फ़ेवरेट लेकिन रोहन बोपन्ना जोड़ी बनाना चाहते हैं रफ़्तार से भरे राफ़ेल नडाल के साथ 

भारतीय टेनिस स्टार रोहन बोपन्ना ने टोक्यो ओलंपिक गेम्स में सानिया मिर्ज़ा के साथ खेलने की इच्छा जताई। 

भारतीय टेनिस के दिग्गज रोहन बोपन्ना (Rohan Bopanna) ने रोजर फ़ेडरर (Roger Federer) को अपना पसंदीदा टेनिस खिलाड़ी बताया है लेकिन अगर उन्हें किसी के साथ जोड़ी बनाकर खेलने का मौका मिलेगा तो वह होंगे राफेल नडाल (Rafael Nadal)।

बेंगलुरु में जन्मे इस टेनिस खिलाड़ी का सामना फेडरर से 2006 में जर्मनी में चल रहे गेरी वेबर ओपन (Gerry Weber Open) के दौरान हुआ था। हालांकि भारतीय रोहन बोपन्ना को इस मुकाबले में सीधे सेटों से हार का मुंह देखना पड़ा लेकिन उन्होंने अपनी कला और खेल से कोर्ट पर और प्रशंकों के दिलों पर अपनी छवि बना दी थी।

स्पोर्ट्सकीड़ा से बातचीत के दौरान इस भारतीय टेनिस स्टार ने कहा “फेडरर हमेशा मेरी पसंद रहेंगे, क्योंकि एक हाथ से बैकशॉट खेलना उनकी खासियत है। 2006 में मुझे उनके खिलाफ खेलने का मौका मिला था और तब से अब तक वह ऐसे खिलाड़ी हैं जिनसे मैंने बहुत कुछ सीखा है, न कि सिर्फ कोर्ट में लेकिन कोर्ट के बाहर भी।”

इस स्विस स्टार की तारीफ करते हुए रोहन ने कहा “जैसे वो खुद को रखते हैं उससे पता चलता है कि उनके दिल में हर टेनिस खिलाड़ी के लिए कितनी इज्ज़त है।''

अगर भारतीय टेनिस खिलाड़ियों की बात की जाए तो रोहन उन चार खिलाड़ियों में से के हैं जिनका सामना रोजर फेडरर से हुआ। गौरतलब है कि रोहन के अलावा बाकी तीन खिलाड़ियों के नाम हैं लिएंडर पेस (Leander Paes) सोमदेव देववर्मन (Somdev Devvarman) और सुमित नागल (Sumit Nagal)।

राफ़ेल नडाल के साथ जोड़ी बनाने की इच्छा

2017 फ्रेंच ओपन मिक्स्ड डबल्स के विजेता ने अपनी पसंद तो ज़ाहिर कर दी लेकिन पूछे जाने पर उन्होंने बताया कि वह राफेल नडाल को रोलैंड गारोस में अपना जोड़ीदार बनाकर खेलना चाहेंगे।

गौरतलब है कि रोहन बोपन्ना दाहिने हाथ के खिलाड़ी हैं और नडाल बाएं हाथ के और ऐसे में इन दोनों की जोड़ी कोर्ट पर बहुत अच्छी साबित हो सकती है।

नडाल, जो कि मेंस डबल्स की सर्वश्रेष्ठ रैंक पर काबिज़ है, उनके बारे में बोपन्ना ने आगे कहा “वह बाएं हाथ के खिलाड़ी हैं और डबल्स बेहतरीन तरीके से खेलते हैं। उन्हें खेल का एक अच्छा आभास है और उन्होंने डबल्स में ओलंपिक गोल्ड मेडल भी जीता है।”रोहन बोपन्ना ने रोजर फेडरर और राफेल नडाल के साथ अंतर्राष्ट्रीय प्रीमियर टेनिस लीग (ITPL) में इंडियन एसेस के लिए खेला टोक्यो 2020 में सानिया मिर्ज़ा के साथ खेलने का सपनाइसके बाद बोपन्ना ने टोक्यो 2020 में भी अपने खेलने पर रौशनी डाली। आपको बता दें कि रियो 2016 में मिक्स्ड डबल्स वर्ग में बोपन्ना की जोड़ीदार थीं सानिया मिर्ज़ा और इन दोनों ने सेमी-फाइनल तक का सफ़र तय किया था। यह जोड़ी ब्रॉन्ज़ मेडल मैच में रादेक स्तेपानेक (Radek Stepanek) और लुसी ह्रादेका (Lucie Hradecka) खिलाफ हार गई थी।

इस 40 वर्षीय खिलाड़ी को लगता है कि कोर्ट में अभी कुछ हासिल करना बाकी है और मौका मिलने पर टोक्यो गेम्स में वह इस जोड़ी को दोहराना चाहेंगे। भारतीय टेनिस स्टार रोहन बोपन्ना ने आगे कहा “अगर मुझे सानिया मिर्ज़ा के साथ खेलने का मौका मिलता है तो मैं ज़रूर इस मौके को देखूंगा। बिना कसी शक के यह बहुत अच्छा है। मेरे ख्याल में रियो 2016 में हमारा दौरा कठिन रहा था और हम दोनों के ही दिल टूटे थे। अगर हमे मौका मिलेगा तो हां हम वहां जाकर अपना सर्वश्रेष्ठ देंगे और मेडल जीतने की पूरी कोशिश करेंगे।”

क्या आपको यह आर्टिकल पसंद आया? इसे अपने दोस्तों के साथ साझा करें!