क़तर टोटल ओपन 2020 के शुरुआती दौर में हारकर सानिया मिर्ज़ा हुईं बाहर

भारतीय टेनिस स्टार सानिया मिर्ज़ा और उनकी जोड़ीदार कैरोलिन गार्सिया ने कुछ ब्रेक प्वाइंट हासिल किए लेकिन अपने इस लय को बरकरार नहीं रख पाईं। 

लेखक ओलंपिक चैनल ·

सोमवार को खलिफा इंटरनेशनल टेनिस एंड स्क्वैस कॉंप्लेक्स में खेले गए क़तर टोटल ओपन 2020 के एक मैच में वाइल्डकार्ड एंट्री पाने वाली सानिया मिर्ज़ा और कैरोलिन गार्सिया की जोड़ी काग्ला बुयुकाके और लॉरा सीजमंड की जोड़ी से 6-4, 7-5 से हार कर पहले दौर से ही बाहर हो गईं।

दुबई टेनिस चैंपियनशिप में महिला डबल्स के राउंड ऑफ 16 से बाहर होने के बाद सानिया मिर्ज़ा (Sania Mirza) और उनकी जोड़ीदार कैरोलिन गार्सिया (Caroline Garcia) को क़तर टोटल ओपन में राउंड ऑफ 32 के मुक़ाबले में भी पराजित होकर बाहर होना पड़ा।

इस मुक़ाबले में उन्होंने तुर्की की काग्ला बुयुकाके (Cagla Buyukakcay) और जर्मनी की लॉरा सीजमेंड (Laura Siegemund) की जोड़ी के खिलाफ उनका पहला सर्विस तोड़कर इस भारतीय-फ्रांस जोड़ी ने अच्छी शुरूआत की।

बुयुकाके और सीजमंड के पास अगले दोनो गेम में सानिया मिर्ज़ा और कैरोलिन गार्सिया की सर्विस को तोड़ने का मौका था, लेकिन दोनों ही मौकों पर भारतीय-फांसीसी जोड़ी ने ब्रेक-पॉइंट बचा लिए। हालांकि बुयुकाके और सीजमंड ने इस सेट में शानदार खेल दिखाया। उन्होंने आठवें गेम में वापसी की और मिर्जा और गार्सिया के खिलाफ पहला सेट 6-4 से अपने नाम कर लिया।

क़तर टोटल ओपन 2020 में सानिया मिर्ज़ा और उनकी जोड़ीदार कैरोलीन गार्सिया की जोड़ी दूसरे दौर में जगह बनाने में रही असफल

दूसरे सेट की शुरुआत भी पहले सेट की तरह हुई, जहां मिर्जा और गार्सिया की जोड़ी ने पहले गेम में ही बुयुकाके और सीजमंड की सर्विस तोड़ दी।

हालांकि पहले सेट के विपरीत मिर्जा और गार्सिया ने दूसरे गेम में 3-0 की बढ़त बना ली, जिसके लिए उन्हें बुयुकाके और मेजमंड की तीसरे गेम में सर्विस तोड़नी पड़ी और अपनी सर्विस बचानी पड़ी।

अब सानिया मिर्ज़ा और कैरोलिन गार्सिया दूसरे सेट को जीतने और सुपर टाईब्रेक में मैच को पहुंचाने की कोशिश में लग गई, लेकिन बुयुकाके और सीजमंड ने ऐसा होने नहीं दिया।इसके बजाय, जर्मन-तुर्की जोड़ी ने वापसी करते हुए लगातार दो सर्विस तोड़कर इस सेट में 4-3 की बढ़त बना ली।

मिर्जा और गार्सिया ने अपने अगले दो सर्विस गेम को संभालने में कामयाबी हासिल की, लेकिन 5-6 से पीछड़ने के बाद वो मैच से बाहर होती दिखी। वो खेल को ड्यूज करने में तो सफल रहीं लेकिन बुयुकाके और सीजमंड के खिलाफ इस मैच में सीधे सेटों में खुद को हार से नहीं बचा पाईं।

अपने बेटे के जन्म के बाद टेनिस सर्किट में वापसी के बाद क़तर टोटल ओपन मिर्जा का चौथा टूर्नामेंट था। उन्होंने अपने पहले होबार्ट इंटरनेशनल (Hobart International) टूर्नामेंट में जीत के साथ कोर्ट पर वापसी की और टोक्यो ओलंपिक से पहले जितना संभव हो सकेगा खेलने की कोशिश करेंगी।