नेशनल रेसलिंग: एशियन चैंपियन दिव्या काकरन को नेशनल रेसलिंग मीट में मिली हार 

COVID-19 से लड़ाई के बाद मैट पर वापसी कर रही भारतीय महिला रेसलर को सीनियर नेशनल रेसलिंग चैंपियनशिप के पहले दौर के ही मुक़ाबले में शिकस्त नसीब हुई। 

लेखक सैयद हुसैन ·

एशियन चैंपियन दिव्या काकरन (Divya Kakran) जो कुछ महीने पहले कोरोना वायरस (COVID-19) की चपेट में आ गईं थीं। उन्होंने रविवार को उत्तर प्रदेश में चल रही सीनियर नेशनल वुमेंस रेसलिंग चैंपियनशिप (Senior National Women's Wrestling Championships) के पहले दौर में 68 किग्रा भारवर्ग में वापसी की लेकिन उन्हें रजनी (Rajni) से हार का सामना करना पड़ा।

आगरा के होली लाइट सीनियर सेंकडरी स्कूल में आयोजित इस प्रतियोगिता में 22 वर्षीय दिव्या ने शुरुआत तो आक्रामक की थी लेकिन इसे बरकरार नहीं रख पाईं। रजनी ने अपने खेल में बदलाव लाया और फिर 8-6 से मुक़ाबला अपने नाम कर लिया।

हालाँकि इसके बाद अपने स्वर्ण पदक मैच में रजनी को अनिता शेरॉन (Anita Sheron) से हार मिली।

दिव्या काकरन लगातार अपने ऊपरी हिस्से में ताक़त के लिए जूझती रहीं और इसकी वजह से वह अपनी प्रतिद्वंदी को चुनौती नहीं दे पाईं।i

2018 एशियन गेम्स की कांस्य पदक विजेता ने हालाँकि हिम्मत नहीं हारी और लगातार रजनी को टक्कर देती रहीं। लेकिन आख़िरकार रजनी ने बेहतर मूव्स के साथ दिव्या को चारों खाने चित कर दिया।

दूसरी ओर एशियन चैंपियन सरिता मोर (Sarita Mor) ने 59 किग्रा भारवर्ग में अपने लाजवाब प्रदर्शन के साथ ख़िताब को सुरक्षित रखा।

जबकि विनेश फ़ोगाट (Vinesh Phogat) की अनुपस्थिति में महाराष्ट्र की नंदनी (Nandani) ने 53 किग्रा में गोल्ड मेडल हासिल किया, वहीं रेलवे की निशा (Nisha) ने 65 किग्रा और किरण (Kiran) ने 75 किग्रा में शीर्ष पर रहीं।