इंडिविजुअल वर्ल्ड कप में दीपक पुनिया और गौरव बालियन की नज़र ब्रॉन्ज़ मेडल पर

इंडिविजुअल वर्ल्ड कप में भारतीय पहलवान दीपक पुनिया 86 किग्रा और गौरव बालियान 79 किग्रा भारवर्ग में खेल रहे थे। अब दोनों ही रेसलर ब्रॉन्ज़ मेडल के लिए लड़ेंगे।

लेखक जतिन ऋषि राज ·

बेलग्रेड में चल रहे इंडिविजुअल वर्ल्ड कप में भारतीय पहलवान दीपक पुनिया और गौरव बालियान शुक्रवार को ब्रॉन्ज़ मेडल मुकाबले के लिए पसीना बहाते दिखेंगे।

गुरुवार को भारतीय युवा पहलवानों ने ज़बरदस्त खेल का प्रदर्शन किया लेकिन फाइनल में जगह बनाने में नाकामयाब रहे।

दीपक पुनिया (Deepak Punia) का सामना रूसी पहलवान डौरन कुरुग्लिव (Dauren Kurugliev) से हुआ और इस मुकाबले में उन्हें 4-0 से शिकस्त का सामना भी करना पड़ा। वहीं 79 किग्रा भारवर्ग में शिरकत करते हुए गौरव बालियान रूस के ही अखम्मद उस्मानोव (Akhmed Usmanov) के खिलाफ मैट पर उतरे। इस मुकाबले में भारतीय रेसलर को 10-0 (तकनीकी श्रेष्ठता) से हार को स्वीकारना पड़ा।

2019 चैंपियनशिप के सिल्वर मेडल विजेता दीपक पुनिया ने अपने सेमीफाइनल मुकाबले की शुरुआत अच्छी की और अपने प्रतिद्वंदी को बांधे रखा। पूर्व यूरोपियन चैंपियन डौरन कुरुग्लिव अपने डिफ़ेंस को खेल में लाए और भारतीय एथलीट से कुछ कड़े सवाल पूछे।

इसके बाद मानों दीपक को लय पकड़ना मुश्किल हो रहा था और उसी समय रूसी पहलवान ने डबल लेग अटैक की मदद से उन्हें मैट पर गिरा दिया।

टेकडाउन के ज़रिए डौरन कुरुग्लिव ने 4 अंक हासिल किए और ऐसे उन्हें भारतीय खिलाड़ी पर जीत हासिल हुई।

वहीं 79 किग्रा में लड़ रहे गौरव बालियान (Gourav Baliyan) को अखम्मद उस्मानोव ने 10-0 से पस्त कर मुकाबले को अपने नाम किया।

निष्क्रिय तरीके से खेल की शुरुआत करने वाले भारतीय गौरव बालियान से जल्द ही त्रुटियां देखी गईं जिसका खामियाज़ा उन्हें पूरे मुकाबले में भुगतना पड़ा। इतना ही नहीं रूसी खिलाड़ी ने बालियान को टेकडाउन भी दिए जिस वजह स यून्हे कुछ अतिरिक्त अंक भी मिले।

पूरे मुकाबले की बात की जाए तो कुछ मौकों पर भारतीय रेसलर ने भी उम्दा खेल दिखाया। समय आने पर अटैक भी किया और अखम्मद उस्मानोव को आसानी से अंक नहीं लेने दिए।

राहुल अवारे की हार

2019 वर्ल्ड रेसलिंग चैंपियनशिप में ब्रॉन्ज़ मेडल जीत चुके राहुल अवारे क्वार्टरफाइनल तक का सफ़र तय कर चुके थे और 61 किग्रा फ्रीस्टाइल भारवर्ग में खेल रहे थे।

इंडिविजुअल वर्ल्ड कप में राहुल अवारे क्राईटिरिया के चलते हार का सामना करना पड़ा। तस्वीर साभार: UWW

इस मुकाबले में अर्जेंटीना के पहलवान अगस्टिन डेस्ट्रिबेट्स (Agustin Destribats) से ज़्यादा मज़बूत भारतीय पहलवान था लेकिन इससे मुकाबले पर ज़्यादा फर्क नहीं पड़ा। हर समय अगस्टिन डेस्ट्रिबेट्स ने अंकों को बराबर रखा और आखिरी में उन्हें क्राईटिरिया के चलते विजयी घोषित किया गया और ऐसे उन्होंने सेमीफाइनल तक का सफर तय किया।

पहले राउंड में पैन अमेरिकी चैंपियनशिप में दो बार ब्रॉन्ज़ मेडल जीत चुके अगस्टिन डेस्ट्रिबेट्स और राहुल अवारे के बीच अच्छा मुकाबला देखा गया।

दोनों ही पहलवानों ने बराबर अंक हासिल किए लेकिन अगस्टिन डेस्ट्रिबेट्स ने आखिरी अंक हासिल कर खुद को क्राईटिरिया के तहत विजय घोषित कराया।

इसी बीच हेवीवेट रेसलर सत्यव्रत कादियान (Satywart Kadian) 97 किग्रा भारवर्ग में खेलते हुए आगे जाने में असफल रहे इंडिविजुअल वर्ल्ड कप में जर्मनी के एर्टुगरुल अगाका (Ertugrul Agca) से सामना हुआ और उन्होंने इस मुकाबले को 4-1 से गंवा दिया।