रेसलर दीपक पुनिया, रवि कुमार इंडिविजुअल वर्ल्ड कप में भारत का करेंगे नेतृत्व

2019 वर्ल्ड चैंपियनशिप के सिल्वर मेडल विजेता दीपक पुनिया ओलंपि कड़ी स्पर्धा कर खुद को लय में लाने की कोशिश करेंगे।

लेखक जतिन ऋषि राज ·

रेसलिंग में ओलंपिक कोटा जीतने वाले भारतीय रेलर दीपक पुनिया (Deepak Punia) और रवि कुमार (Ravi Kumar) बेलग्रेड, सर्बिया में होने वाले इंडिविजुअल वर्ल्ड कप (Individual World Cup) में शिरकत करते हुए नज़र दिखेंगे। यह प्रतियोगिता 12 दिसंबर से खेली जाएगी।

कई बड़े पहलवानों के शामिल न होने से रेसलिंग फेडरेशन ऑफ़ इंडिया (Wrestling Federation of India – WFI) ने कई और नामों को आगे किया है ताकि भारतीय खेमा भी मज़बूत हो सके और 2020 वर्ल्ड मीट के रद्द हो जाने की वजह से इन पहलवानों के लिए खेलना भी आसान हो जाएगा।

2019 वर्ल्ड चैंपियनशिप के 86 किग्रा भारवर्ग (फ्रीस्टाइल) में सिल्वर मेडल जीतने वाले दीपक पुनिया और 57 किग्रा भारवर्ग (फ्रीस्टाइल) में ब्रॉन्ज़ मेडल पर अपना नाम लिखने वाले रवि कुमार के लिए ओलंपिक ईयर में कुछ ऐसी स्पर्धाओं से वाकिफ होना बेहद फायदेमंद हो सकता है।

इसी बीच गौरव बालियान (Gourav Baliyan), सत्यव्रत कादियान (Satyawart Kadian - 97kg) और सुमित मलिक (Sumit Malik - 125kg) इस स्पर्धा में अच्छा प्रदर्शन कर अगले साल होने वाले नेशनल ओलंपिक ट्रायल्स के इए अपनी लय पकड़ना चाहेंगे।

मुकाबले में दाव लगाते नेशनल चैंपियन सत्यव्रत कादियान 

साक्षी मलिक को मिली जगह, बजरंग पुनिया और विनेश फोगाट नहीं बनेंगे हिस्सा

24 खिलाड़ियों के दल में 2019 वर्ल्ड्स ब्रॉन्ज़ मेडल विजेता राहुल अवारे (Rahul Aware - 61kg), और रियो गेम्स में ब्रॉन्ज़ जीतने वाली साक्षी मलिक (Sakshi Malik - 65kg) को भी शामिल किया गया है।

62 किग्रा भारवर्ग में साक्षी भारत में दूसरी सर्वश्रेष्ठ पहलवान हैं। 62 किग्रा भारवर्ग ओलंपिक गेम्स में खेला जाता है और इस श्रेणी में सोनम मलिक ने पिछले कुछ सालों में बहुत से कीर्तिमानों को हासिल किया है।

ऐसे में साक्षी मलिक के इरादे नहीं झुकें हैं और वह इस स्पर्धा की मदद से मैट पर कुछ अहम समय भी बिताने वाली हैं। बेलग्रेड का यह इवेंट ग्रीको रोमन श्रेणी के साथ शुरू होगा और इसे 12-14 दिसंबर तक खेला जाएगा। इसके बाद महिला इवेंट का भी आयोजन किया जाएगा जो कि 14-16 दिसंबर तक होगा। पुरुष फ्रीस्टाइल का आयोजन 16 दिसंबर को जाएगा।

कोरोना वायरस की वजह से अंतरराष्ट्रीय यातायात पेचीदा हो चुका है तो ऐसे में भारतीय रेसलिंग टीम गुटों में ट्रेवल करेगी और वह ग्रीको रोमन पहलवानों के साथ 9 दिसंबर क रवाना होंगे। वहीं महिला पहलवान 12 दिसंबर को उड़ान भरेंगी।

भारतीय दिग्गज पहलवान बजरंग पुनिया (Bajrang Punia) और विनेश फोगाट (Vinesh Phogat) ने इस इवेंट से अपना नाम वापस ले लिया है। हालांकि 4 दिसंबर से पुनिया यूएसए की ज़मीन पर होंगे।

2019 एशियन चैंपियनशिप में सिल्वर मेडल विजेता गुरप्रीत सिंह (Gurpreet Singh) नरसिंह यादव (Narsingh Yadav) और 2018 कॉमनवेल्थ गेम्स में ब्रॉन्ज़ मेडल विजेता दिव्या काकरण (Divya Kakran) कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं और इसी वजह से उन्हें बेलग्रेड में होने वाली प्रतियोगिता से बाहर होना पड़ा। 

इंडिविजुअल वर्ड कप के इए भारतीय कुश्ती का स्क्वाड

पुरुष: Freestyle: रवि कुमार (Ravi Kumar - 57 किग्रा), राहुल अवारे (Rahul Aware - 61 किग्रा), नवीन (Naveen - 70 किग्रा), गौरव बालियान (Gourav Baliyan - 79 किग्रा), दीपक पुनिया (Deepak Punia - 86 किग्रा), सत्यव्रत कादियान (Satyawart Kadian - 97 किग्रा), सुमित मलिक (Sumit Malik - 125 किग्रा)।

ग्रीको-रोमन: अर्जुन हलकुर्की (Arjun Halakurki - 55 किग्रा), ग्यानेन्द्र (Gyanender – 60 किग्रा), सचिन राणा (Sachin Rana – 63 किग्रा), आशू (Ashu (67 किग्रा), आदित्य कुंडू (Aditya Kundu – 72 किग्रा), साजन (Sajan – 77 किग्रा), सुनील कुमार (Sunil Kumar - 87 किग्रा), हरदीप (Hardeep – 97 किग्रा), नवीन (Naveen – 130 किग्रा)

महिला: निर्मला देवी (Nirmala Devi – 50 किग्रा), पिंकी (Pinki – 55 किग्रा), अंशू (Anshu – 57 किग्रा), सरिता (Sarita – 59 किग्रा), सोनम मलिक (Sonam Malik – 62 किग्रा), साक्षी मलिक (Sakshi Malik – 65 किग्रा), गुर्शरण प्रीत कौर (Gursharan Preet Kaur - 72kg), किरण (Kiran - 76kg)।