आईएसएसएफ वर्ल्ड कप शॉटगन में भारत को मिली निराशा

कायनान चेनाई और पृथ्वीराज टोंडाइमान के खराब प्रदर्शन की वजह से फिनलैंड में हो रहे आईएसएसएफ वर्ल्ड कप शॉटगन फाइनल से भारत बाहर हो गया है।

लेखक रितेश जायसवाल ·

भारतीय निशानेबाज़ों ने फिनलैंड के लाहटी में चल रहे आईएसएसएफ विश्व कप शॉटगन में शनिवार को उम्मीद से खराब प्रदर्शन किया। कायनान चेनाई और पृथ्वीराज टोंडाइमान दोनों ही निशानेबाज़ पुरुषों की ट्रैप स्पर्धा के क्वालीफाइंग दौर को पार करने में असफल रहे।

रियो ओलंपिक 2016 में भारत की ओर से प्रतिभागिता करने वाले कायनान 125 में से 114 अंक हासिल करके 23वें स्थान पर रहे।

निराशाजनक रहे परिणाम

पृथ्वीराज से सभी को काफी अधिक उम्मीदें थी। लेकिन यह दिन निराशाजनक रहा और वह भी क्वालिफाई करने में नाकाम रहे। 157 निशानेबाज़ों के बीच हो रहे मुकाबले में वह 113 अंक हासिल करते हुए 29वें स्थान पर रहे।

हालांकि पृथ्वीराज ने शुक्रवार तक शुरुआती दौर में रहते हुए भारत की उम्मीदों को ज़िंदा रखा था। लेकिन अपने चौथे राउंड में उन्हें 20 अंक के साथ नीचे खिसकते हुए देखा गया।

इसके बाद अगले राउंड में उनके 24 अंक हासिल करने के बावजूद वह क्वालिफाई करने में असफल रहे। उन्होंने प्रतियोगिता में अपने सारे राउंड 22, 25, 22, 20 और 24 अंकों के स्कोर के साथ खत्म किया।

बंदूक का स्टॉक टूटने से बाहर हुए संधू

इस प्रतियोगिता में तीसरे भारतीय निशानेबाज़ पूर्व विश्व चैंपियन मानवजीत संधू को बंदूक की स्टॉक टूटने की वजह से बाहर होना पड़ा और इस कारण वह आगे का सफर जारी नहीं रख सके।

भारतीय निशानेबाज़ों के पास अब टोक्यो 2020 ओलंपिक खेलों के लिए जाने के लिए नवंबर में दोहा में होने वाले एशियाई चैंपियनशिप के जरिए क्वालिफाई करने का आखिरी मौका मिलेगा। हालांकि, मिश्रित ट्रैप इवेंट और स्कीट प्रतियोगिताएं लाहटी में हो रहे विश्व कप में जारी रहेंगी।