ISL 2020-21 में ATK मोहन बागान ने बेंगलुरु एफसी के विजयी रथ को रोका

डेविड विलियम्स ने 33वें मिनट में गोल करके ATK मोहन बागान को ISL 2020-21 में सुनील छेत्री की टीम बेंगलुरु एफसी के खिलाफ जीत दिलाई।

लेखक जतिन ऋषि राज ·

इंडियन सुपर लीग (Indian Super League) में सबसे दिलचस्प मुकाबलों में से एक मुकाबला रहा एटीके मोहन बागान (ATK Mohun Bagan) बनाम बेंगलुरु एफसी (Bengaluru FC)। सोमवार को गोवा के फटोर्डा स्टेडियम में हुई इस भिड़ंत में ATK मोहन बागान ने 2018-19 इंडियन सुपर लीग की विजेता को 1-0 से रहा दिया।

ऑस्ट्रेलियन स्ट्राइकर डेविड विलियम्स (David Williams) ने पिछले साल खिताबी जीत के लिए रॉय कृष्णा (Roy Krishna) के साथ कमाल की साझेदारी की थी और इस मुकाबले में भी उन्होंने ही गोल मारा था। इस मैच का गोल 33वें मिनट में आया और यह विलियम्स के लिए ISL 2020-21 का पहला गोल भी साबित हुआ।

ग़ौर फरमाने की बात तो यह है कि विलियम्स ने आज तक ISL के इतिहास में 8 गोल किए हैं और उनकी ओर से 4 गोल बेंगलुरु एफसी के खिलाफ हुए हैं।

ATK मोहन बागान फाइव मैन डिफ़ेंस के साथ आगे बढ़ रही थी और कप्तसंदेश झिंगन (Sandesh Jhingan) और सुभाशीष बोस (Subhashish Bose) ने सुनील छेत्री (Sunil Chhetri) और उनके साथियों को रोके रखा और बेंगलुरु एफसी को गोल करने से भी वंचित रखा।

इस जीत ने ATK मोहन बागान को टेबल पर दूसरे नंबर पर विराजमान कर दिया है और इस समय इस टीम के और मुंबई सिटी एफसी (Mumbai City FC) दोनों के पास 16 अंक हैं। मुंबई सिटी एफसी टेबल के शीर्ष स्थान पर इसलिए हैं क्योंकि उन्होंने इस टीम के मुकाबले ज़्यादा गोल मारे है।

डेविड विलियम्स के गोल ने ISL 2020-21 में बेंगलुरु एफसी के विजयी रथ को रोका। तस्वीर साभार: ISL मीडिया

इस गेम से पहले ATKMB ने कभी भी पहले हाफ में गोल नहीं किया था लेकिन रणनीति में फेर बदल करने के बाद उनके लिए यह कार्य भी मुमकिन हो गया। इतना ही नहीं बल्कि उनके हेड कोच एंटोनियो लोपेज़ हाबास (Antonio Lopez Habas) अपने खिलाड़ियों की तकनीक से वाकिफ हैं और बेहद प्रसन्न भी।

पोस्ट मैच कांफेरेस के हवाले से कोच हाबास के बोल कुछ इस प्रकार हैं “हमने उन्हें पहले 45 मिनट दबाव में रखा। आखिरी मैच के मुकाबले हमने इस बार अलग रणनीति अपनाई थी।“

“मुझे लगता है मेरी टीम का प्रदर्शन बेहतरीन था। हमे बेंगलुरु एफसी को इज्ज़त बक्शनी पड़ी क्योंकि वह एक मज़बूत टीम है और उन्हें हराना आसान नहीं है। वह सेट-पीसेस के मामले में खतरनाक हैं। आज की बात की जाए तो टीम का व्यक्तित्व जीत को दर्शाता है।“

पिछले 7 में से 6 मुकाबले जीतने वाली बेंगलुरु एफसी का विजयी रथ भी रुका।“ ग़ौरतलब है कि इस टीम ने लगातार 6 मुकाबले जीते थे और कल रात इनकी इस सीज़न की पहली आहार आई थी।“ बेंगलुरु एफसी के कार्ल्स क्वाड्रात (Carles Cuadrat) ने इस मुकाबले के लिए कुछ बदलाव भी किए थे ताकि उनके सीनियर खिलाड़ियों को आराम का अतिरिक्त समय मिल सकें। ATK मोहन बागान के खिलाफ बेंगलुरु का मुकाबला उनके लिए 18 दिनों में 5वां मुकाबला साबित हुआ।

मुकाबले के बाद कार्ल्स क्वाड्रात ने कहा “यह मुश्किल दिसंबर रहा है। ऐसे में मैंने ताज़ा और नए खिलाड़ियों को खिलाने का सोचा। इसी वजह से मैंने उदांता सि (Udanta Singh), डेशोर्न ब्राउन (Deshorn Brown) और राहुल भेके (Rahul Bheke) को मौका दिया था।

“मुकाबले के दौरान हम प्रतिस्पर्धात्मक थे और मैं हर खिलाड़ी से खुश हूं क्योंकि वे 95वें मिनट तक गोल करने की कोशिश कर रहे थे।”

बेंगलुरु एफसी अब 6 दिन के ब्रेक पर है और उनका अगला मुकाबले 28 दिसंबर को जमशेदपुर एफसी (Jamshedpur FC) के खिलाफ।

मुख्य तस्वीर: ISL मीडिया