मार्को पेज़ॉली होंगे बेंगलुरु FC के नए हेड कोच

जर्मनी में जन्में इटली के पेज़ॉली टीम के साथ नए सीज़न में जुड़ेंगे जहां उनका पहला असाइनमेंट AFC कप के मुक़ाबले होंगे।

लेखक सैयद हुसैन ·

इंडियन सुपर लीग (ISL) की बेंगलुरु FC (Bengaluru FC) ने पूर्व इनट्रैक्ट फ़्रैंकफ़र्ट के टेक्निकल डायरेक्टर मार्कौ पेज़ॉली (Marco Pezzaiuoli) को अपने साथ जोड़ते हुए टीम का प्रमुख कोच बनाया है।

जर्मनी में जन्में इटली के पेज़ॉली टीम के साथ नए सीज़न में जुड़ेंगे जहां उनका पहला असाइनमेंट AFC कप के मुक़ाबले होंगे। इनकी शुरुआत 14 अप्रैल से होगी। पेज़ॉली स्पेन के कार्लोस क्वाडरेट (Carles Cuadrat) की जगह लेंगे जिन्हें टीम के ख़राब प्रदर्शन की वजह से बाहर कर दिया गया था।

सहायक कोच नौशाद मूसा (Noushad Moosa) जिन्हें अंतरिम कोच की ज़िम्मेदारी दी गई थी, वह इस सीज़न के अंत तक अपनी उसी भूमिका में नज़र आएँगे।

52 वर्षीय इस कोच के पास कई टीमों की ज़िम्मेदारी का अनुभव हासिल है जिसमें यूरोप और एशिया की भी कई टीमें शामिल है। उनके ऊपर अब ISL 2020-21 में टीम को निराशाजनक प्रदर्शन से उबारने की ज़िम्मेदारी होगी।

टीम मालिक पार्थ जिंदल (Parth Jindal) ने उनको कोच बनाने के फ़ैसले पर कहा कि, “मार्को के पास यूरोप और एशिया के कई क्लबों को कोचिंग देने का बेहतरीन अनुभव हासिल है। साथ ही साथ वह कुछ समय के लिए जर्मनी की एज ग्रुप वाली राष्ट्रीय टीम के कोच भी रह चुके हैं। मैंने उन्हें अपने साथ इसलिए जोड़ा है कि उनकी सोच बिल्कुल साइंस है कि कैसे इस टीम को उस मुक़ाम पर पहुँचाया जाए जिसकी बेंगलुरु एफ़सी हक़दार है।”

हालाँकि पेज़ॉली के कोचिंग करियर की शुरुआत कार्लसरुहर एससी (Karlsruher SC) के साथ बतौर यूथ डायरेक्टर हुई थी। जहां उन्होंने 2004 में टीम को एक के बाद एक दो घरेलू ख़िताब (के-लीग और के-लीग कप) दिलाए थे। 

इसके बाद पेज़ॉली का बुलावा जर्मनी से आया था जहां उन्हें  राष्ट्रीय अंडर-17 टीम के साथ जोड़ा गया था और उन्होंने मारियो गोत्ज़े (Mario Gotze), मार्क आंद्रे टेर स्टीगेन (Marc Andre ter Stegen) और बर्न्ड लेनो (Bernd Leno)जैसे खिलाड़ियों के साथ टीम को 2009 UEFA यूरोपियन अंडर-17 का चैंपियन बनाया था।

पेज़ॉली इसके बाद के सालों में भी राष्ट्रीय टीम के साथ जुड़े रहे और फिर 2011 में वह बुंदेसलीगा की टीएसजी हॉफ़ेनहीम के साथ सहायक कोच के तौर पर भी जुड़े।