ATK मोहन बागान ने पहले ISL ‘कोलकाता डर्बी’ में ईस्ट बंगाल को दी मात

रॉय कृष्णा, मनवीर सिंह ने एक-एक गोल मार कर रॉबी फाउलर द्वारा कोचिंग दी जा रही टीम को ईस्ट बंगाल के खिलाफ जीत दर्ज करवाई।

लेखक जतिन ऋषि राज ·

इंडियन सुपर लीग 2020 (Indian Super League – ISL) का महामेला शुरू हो चुका है और ATK मोहन बागान (ATK Mohun Bagan) ने ठीक वैसा ही खेल दिखाया जिसके लिए वह जानी जाती है। ईस्ट बंगाल (East Bengal) के खिलाफ इस ‘कोलकाता डर्बी’ (Kolkata Derby) में ATK ने शानदार प्रदर्शन दिखाते हुए 2-0 से जीत अपने पक्ष में की।

तिलक मैदान में हुए इस घमासान मुकाबले का इंतज़ार सभी को था औररॉय कृष्णा (Roy Krishna) ने 49वें मिनट में गोल कर अपनी टीम को बढ़त दिला दी। टीम के लय में आने के बाद मनवीर सिंह (Manvir Singh) ने भी 85वें मिनट में जलवा दिखाया और गेंद को गोल के पार पहुंचाया।

बाकी टीमों ने ISL 2020 की शुरुआत पिछले सप्ताह ही कर दी थी लेकिन ईस्ट बंगाल का इस संस्करण का यह पहला मुकाबला था। मुकाबला शुरू होने के बाद रॉबी फाउलर (Robbie Fowler) द्वारा कोचिंग की जा रही टीम ने अच्छा खेल दिखाया और अपना दबदबा बना शुरू किया।

मैटी स्टीनमैन (Matti Steinmann) की कोशिशें भी काम आईं और उन्होंने खेल को अपने खेमे में लाने में सफल भी हुए। इस मुहिम में उनका साथ एंथनी पिल्किंगटन (Anthony Pilkington) और जैक्स मागोमा (Jacques Maghoma) ने बखूबी निभाया।

स्टीनमैन मानों शांत दिमाग से अपने खेल को आगे बढ़ा रहे थे और बॉल का पोज़ेशन अपने पास रखने की सभी तकनीकों को आज़माते हुए भी दिखाई दे रहे थे।

रॉय कृष्णा ने ATK मोहन को 49वें मिनट बढ़त दिलाई। तस्वीर साभार: ISL मीडिया

खेल चल रहा था और पिल्किंगटन को पेनल्टी एरिया में गेंद मिली और उन्होंने अपना भरपूर कौशल दिखाया। इसके बाद नोर्विक सिटी के इस खिलाड़ी ने प्रीतम कोटाल (Pritam Kotal) को चकमा दिया लेकिन सही समय पर टिरी (Tiri) ने बीच में आ कर अपने प्रतिद्वंदी को गोल दागने से रोक दिया। पहले हाफ में ईस्ट बंगाल ने अपना अच्छा दबदबा बनाया और यह मूव उनमे से एक था।

इसके बाद पिल्किंगटन ने दौड़ लगाई और लाइन के बीच में खेलने लगे। इस बीच बलवंत सिंह (Balwant Singh) ने अपने खेल से डिफेंडरों को व्यस्त रखा और रणनीति वाला खेल दिखाया।

मागोमा मानो ईस्ट बंगाल को बढ़त देने ही वाले थे लेकिन वह मूव मुक्कमल न हो पाया। इसके बाद स्टीनमैन ने भारतीय फुटबॉलर नारायण दास (Narayan Das) के लिए गेंद बनाई और बागान के खेमे में मानों हलचल मच गई। हालांकि नारायण दास इस मूव को गोल में तब्दील करने में नाकाम रहे लेकिन ऐसे में ईस्ट बंगाल के खिलाड़ियों का जुनून साफ़ दिखाई दे रहा था।

इसके बाद बागान ने भी आक्रामक खेल खेलना शुरू किया और अपने लिए परस्पर मौके बनाते चले गए।

जेवियर हर्नांडेज़ (Javier Hernandez) ने ईस्ट बंगाल के लिए मानो अपना जलवा दिखाना शुरू कर दिया और गोल की तरफ एक शानदार शॉट मार दिया। गोलकीपर देबजीत मजुमदार (Debjit Majumder) भी ने इस हमले को रोका और अपनी टीम के लिए एक मज़बूत कड़ी साबित हो गए।

इस बार ATK मोहन बागान गोल मारने में तो असफल रहे लेकिन इससे उनकी टीम में आत्मविश्वास ज़रूर आ गया जिसका फायदा उन्हें सेकंड हाफ में मिला। इसके बाद रॉय कृष्णा और डेविड विलियम्स (David Williams) की जोड़ी ने तूफ़ान मचाना शुरू किया।

लगभग ईस्ट बंगाल के गोल से 40 कदम दूर से डेविड विलियम्स को थ्रू बॉल मिली और उन्होंने चतुराई से रॉय कृष्णा को असिस्ट किया। इस शानदार रणनीति की बदौलत कृष्णा ने मुकाबले का पहला गोल दागा और अपनी टीम को 1-0 की बढ़त हासिल कराई।

ईस्ट बंगाल ने भी हार नहीं मानी और लय को एक बार फिर अपने खेमे में लाने की कोशिश की। पिल्किंगटन और मागोमा ने शानदार खेल दिखाया और अरिंदम भट्टाचारजा (Arindam Bhattacharja) से कड़े सवाल पूछे। हालांकि वह गोल तो न दाग सके लेकिन उनके खेल से दर्शकों को उम्मीदें ज़रूर मिली। ATK मोहन बागन ने भी देर नहीं की और मौका मिलते ही एक और गोल कर मुकाबले को 2-0 से जीत लिया।

हवा में आती गेंद को मनवीर सिंह ने हाफ लाइन से अपने पास रखा और आगे बढ़ते चले गए। मौका मिलते ही मनवीर ने अपने बाएं पैर से गेंद को गोल पोस्ट की तरफ मारा और उन्हें सफलता भी मिली।