एफसी गोवा vs मुंबई सिटी एफसी: आईएसएल का ये मुक़ाबला लोबेरा और बोमस के लिए स्पेशल क्यों है ?

आईएसएल 2020-21 सीज़न के लिए मिडफील्डर ह्यूगो बोमस और मुख्य कोच सर्जियो लोबेरा ने एफसी गोवा को छोड़कर मुंबई सिटी एफसी को ज्वाइन किया है।

लेखक विवेक कुमार सिंह ·

जब मुंबई सिटी एफसी (Mumbai City FC) इंडियन सुपर लीग (Indian Super League) में एफसी गोवा (FC Goa) के खिलाफ मैदान पर उतरती है, तो हमेशा  मुक़ाबला रोमांचक ही होता है, जिससे दोनों के बीच शानदार प्रतिद्वंदिता देखने को मिलती है। ऐसे में बुधवार शाम को फिर से एक रोमांचक मुक़ाबला देखने को मिलने वाला है।

मुंबई सिटी के मुख्य कोच सर्जियो लोबेरा (Sergio Lobera), मिडफील्डर ह्यूगो बोमस (Hugo Boumous) और डिफेंडर मंदार राव देसाई (Mandar Rao Desai) और मुर्तदा फॉल (Mourtada Fall) ने आईएसएल 2020-21 के लिए मुंबई सिटी एफसी के लिए साइन किया।

हालांकि, एफसी गोवा के साथ ढाई सत्र बिताने वाले फ्रांसीसी बोमस अपने पूर्व क्लब के साथ मुकाबले के बारे में ज्यादा नहीं सोच रहे हैं। जिसके लिए उन्होंने 42 मैच खेले और 16 गोल के साथ 17 असिस्ट अपने नाम किया।

उन्होंने कहा,”बेशक, मैं कल अपने पूर्व टीम के साथियों के खिलाफ खेलूंगा। मैं मुंबई के साथ मौजूदा सत्र पर ध्यान देना चाहता हूं और उनके साथ अच्छा करना चाहता हूं।”

तीन सीजन तक एफसी गोवा के शीर्ष खिलाड़ी रहे सर्जियो लोबेरा ने उनके साथ 2019 का सुपर कप जीता।

लोबेरा ने कहा, “ये मेरे लिए एक स्पेशल खेल है। हमने एक साथ बहुत कुछ हासिल किया और मैं एक युवा टीम के साथ खेला, जिनमें से कई भारत के लिए खेले। लेकिन कल, हमें जीतने के लिए अच्छी तरह से मुक़ाबला करने की आवश्यकता है।”

मुंबई सिटी एफसी ने अपने आईएसएल 2020-21 अभियान की शुरुआत नॉर्थईस्ट यूनाइटेड एफसी के खिलाफ 1-0 की हार के साथ की थी। इस मुक़ाबले में मुंबई सिटी को उनके प्रतिद्वंद्वियों के शानदार डिफेंस ने कोई गोल नहीं करने दिया।

उन्होंने अहमद जौह (Ahmed Jahouh) के बाहर जाने पर दूसरा हाफ सिर्फ 10 खिलाड़ियों के साथ खेला। हालांकि, लोबेरा ने महसूस किया कि खेल में कुछ सकारात्मक पहलू भी थे।

लोबेरा ने कहा, “हमने कोई शॉट टारगेट पर नहीं रखा था, लेकिन हमने सबसे ज्यादा पास खेला और फारुख चौधरी (Farukh Choudhary) और सार्थक गोलू (Sarthak Golui) दोनों ने मुक़ाबले में अच्छे मौके बनाए। मुझे अपने खिलाड़ियों पर गर्व है।”

लोबेरा ने कहा, "मुझे लगता है कि हमारे पास वो खिलाड़ी हैं जो मेरी शैली की तरह खेल सकते हैं और जाहिर है, मुझे ऐसा करने के लिए समय चाहिए। हमें पिछले गेम से सुधार करने और सीखने की जरूरत है।”

दूसरी ओर जौह को फिलहाल के लिए बिना किसी अनुशासनात्मक कार्रवाई के छोड़ दिया गया है। हालांकि, वो शनिवार को गेम से बाहर रहेंगे।