'ये ख़तरनाक मैच होगा', ईस्ट बंगाल के ख़िलाफ़ कोलकाता डर्बी से पहले ATK मोहन बागान काफ़ी सतर्क 

ISL 2020-21 के टेबल टॉपर्स अपने विजयरथ को कोलकाता डर्बी में भी जारी रखना चाहेगा जब उनके सामने ईस्ट बंगाल की चुनौती होगी।

लेखक सैयद हुसैन ·

शुक्रवार को सभी की नज़र इंडियन सुपर लीग (ISL) के मुक़ाबले पर होगी जहां गोवा के फ़ाटोरडा में स्थित जवाहर लाल नेहरू स्टेडियम में ईस्ट बंगाल (East Bengal) और एटीकी मोहन बागान (ATK Mohun Bagan) का सामना कोलकाता डर्बी (Kolkata Derby) में होगा।

कोलकाता डर्बी अपने सौवें वर्ष में प्रवेश कर रही है, पहली बार इन दो टीमों का सामना 1921 में कूच बेहार कप में हुआ था। हालांकि मोहन बागान का आईएसएल में एटीके के साथ विलय हो गया है और अब उनका नाम एटीके मोहन बागान है।

ये दूसरी बार है जब इस आईएसएल में ये दोनों टीमें एक दूसरे के ख़िलाफ़ आमने सामने होंगी। नवंबर में हुए पहले मुक़ाबले में बागान ने बंगाल को 2-0 से करारी शिकस्त दी थी

मुक़ाबला सिटी ऑफ़ जॉय यानी कोलकाता से बाहर हो रहा है और फ़ैन्स भी कोविड-19 की वजह से स्टेडियम में मौजूद नहीं होंगे, लेकिन इसके बावजूद कोलकाता डर्बी के रोमांच में कोई कमी नहीं आने वाली।

ISL 2020-21 मोहन बागान के लिए भी शानदार जा रहा है, उन्होंने मुंबई सिटी एफ़सी (Mumbai City FC) को पीछे छोड़ते हुए अब नंबर-1 की कुर्सी भी हासिल कर ली है।

यानी 17 मैचों में 36 अंकों वाली एटीके मोहन बागान के अंक ईस्ट बंगाल (17) के अंकों से दोगुने से भी ज़्यादा हैं।

एटीके मोहन बागान के रॉय कृष्णा शानदार रंग में हैं, इस सीज़न अब तक वह 13 गोल कर चुके हैं।

मैच से पहले एटीके मोहन बागान के मैनेजर एंटोनियो लोपेज़ हाबस (Antonio Lopez Habas) ने कहा, “खिलाड़ियों के खेलने का स्तर, उनपर दबाव दूसरे मैचों से अलग होता है। डर्बी बिल्कुल अलग होती है, आप एक जीत से पूरे सीज़न को बदल सकते हैं। ये हमारे लिए बेहद अहम मैच होगा।

ठीक इसी तरह ईस्ट बंगाल भी इस मैच में जीत के साथ टूर्नामेंट में उलटफेर करने की कोशिश करेगा।

एटीके के ठीक विपरित ईस्ट बंगाल के लिए अपने पहले आईएसएल सीज़न में काफ़ी मुश्किलों का सामना करना पड़ा है। शुरुआत बेहद निराशानजन रही थी जहां पहले 7 मैचों में उन्हें एक में भी जीत नहीं मिली थी। लिवरपूल के दिग्गज रोबी फ़ाउलर (Robbie Fowler) ने ऐसा हाल कभी सपने में भी नहीं सोचा होगा।

इस मुक़ाबले में निलंबन की वजह से रोबी फ़ाउलर नहीं नज़र आएंगे, लिहाज़ा ईस्ट बंगाल के लिए परेशानियां कम होने की बजाय बढ़ती जा रही हैं।

ईस्ट बंगाल के सहायक कोच टोनी ग्रांट (Tony Grant) का हौसला अभी भी बुलंद है, उन्होंने कहा कि “हम अब पहले से बेहतर हैं और खिलाड़ी आनंद ले रहे हैं।“

“इस डर्बी से हमारी काफ़ी पुरानी यादें जुड़ी हैं, मैं जानता हूं कि इस डर्बी की अहमियत कितनी ज़्यादा है। इस सीज़न की पहली डर्बी हमारे लिए अच्छी नहीं रही थी, लेकिन अब चीज़ें बदल गई हैं। मैं उम्मीद करता हूं कि हम हमारे फ़ैन्स को गर्व करने का पल देंगे।“

कोविड प्रोटोकॉल्स के मद्देनज़र ये मुक़ाबला ख़ाली स्टेडियम में खेला जाएगा। सभी की नज़रें लाइव एक्शन के लिए टीवी पर होंगी, जिसका मतलब है कि टीआरपी (TRP) ख़ूब छलांग लगाएगी।