ISL: आपत्तिजनक टिप्पणियों के बाद ओडिशा एफसी ने हेड कोच स्टुअर्ट बैक्सटर को किया बर्खास्त

मुख्य कोच ने इंडियन सुपर लीग में रेफरी के मानक पर अपनी नाराजगी प्रदर्शित करने के लिए बलात्कार शब्द का इस्तेमाल किया था।

लेखक लक्ष्य शर्मा ·

ओडिशा एफसी के मुख्य कोच स्टुअर्ट बैक्सटर (Stuart Baxter) ने भारतीय सुपर लीग (Indian Super League) में खराब रेफरिंग पर सवाल उठाते हुए बलात्कार शब्द का इस्तेमल किया, जिसके बाद क्लब ने इन पर कारवाई करते हुए उन्हें तुरंत प्रभाव से बर्खास्त कर दिया।

इस फैसले के बारे में क्लब ने ट्वीटर पर लिखा कि “ओडिशा एफसी ने प्रमुख कोच, स्टुअर्ट बैक्सटर के अनुबंध को तत्काल प्रभाव से समाप्त करने का फैसला किया है। शेष सीज़न के लिए अंतरिम कोच की घोषणा जल्द ही की जाएगी।”

67 साल के बैक्सटर ने सोमवार को जमशेदपुर एफसी के खिलाफ 1-0 से हार के बाद इसका जिम्मेदार मैच ऑफिशियल को बताया था।

साउथ अफ्रीका के कोच रह चुके बैक्सटर ने आईएसएल डेब्यू से पहले कहा था कि ''आपको अपना रास्ता तय करने की जरूरत है और उन्होंने ऐसा नहीं किया। 

मैच के बाद ओडिशा के मुख्य कोच ने कहा था कि "मुझे नहीं पता कि हमे पेनल्टी कैसे मिलेगी। मेरे किसी खिलाडी को रेप करना होगा या फिर उसे पेनाल्टी मिलनी है तो उसका ही रेप हो जाए.' उनके इस बयान के बाद अब हल्ला मच गया है।"

क्लब ने इस मामले की गंभीरता को जल्दी ही समझा और इस पर एक्शन लिया। क्लब के मालिक रोहन शर्मा ने भी मुख्य कोच के इस बयान पर अपनी नाराजगी जताई।

रोहन शर्मा ने ट्वीटर पर कहा कि “मैं टिप्पणियों से बिल्कुल घृणित और पीड़ित हूं। मैंने कहा है कि ओडिशा एफसी 

सभी के लिए एक सुरक्षित स्थान है, और इस तरह के गंभीर क्राइम का जिक्र भी करना निंदनीय है। मैं अपनी ओर से और क्लब की तरफ से पूरी ईमानदारी से माफी मांगता हूं।"

14 मैचों के बाद ओडिशा एफसी आईएसएल अंक तालिका में सबसे नीचे है और शनिवार को उनका मुकाबला एटीके मोहन बागान (ATK Mohun Bagan) से होगा।

प्रमुख फोटो: आईएसएल मीडिया