ISL 2020-21 प्लेऑफ डेट की घोषणा, 13 मार्च को होगा चैंपियन का फैसला 

ATK मोहन बागान और मुंबई सिटी एफसी प्लेऑफ के लिए क्वालिफाई कर चुके हैं और बाकी 6 टीमें अभी भी क्वालिफाई करने के लिए मुक़ाबला कर रही हैं।

लेखक जतिन ऋषि राज ·

इंडियन सुपर लीग (Indian Super League – ISL) 2021 का प्लेऑफ का मंच 5 मार्च से सजने वाला है और 13 मार्च को खेला जाएगा इसका फाइनल।

फुटबॉल स्पोर्ट्स डेवलपमेंट लिमिटेड ने आईएसएल 2021 के पूरे प्लेऑफ का शेड्यूल बुधवार को जारी कर दिया है।

ISL 2021 के लीग फेज़ में 110 मुकाबले खेले जाने हैं और इसके बाद क्वालिफाई करने वाली टीमें प्लेऑफ के लिए रणनीति बनाती दिखेंगी। फर्स्ट लेग सेमीफाइनल से पहले सभी को 4 दिन का ब्रेक मिलेगा और इसी समय सभी टीमें कुछ अहम फैसलें लेंगी।

प्रतियोगिता में लीग फेज़ की टॉप 4 टीमें प्लेऑफ के लिए क्वालिफाई करती हैं। सेमीफाइनल 1 में टेबल टॉपर का सामना चौथे पायदान की टीम से होगा और वहीं दूसरे और तीसरे पायदान की टीम सेमीफाइनल 2 में एक दूसरे के आमने सामने होंगी।

दोनों सेमीफाइनल के विजेता पहुंचेंगे फाइनल में और यह मुकाबला 13 मार्च को खेला जाएगा। ग़ौरतलब है कि सेमीफाइनल के लिए दो वेन्यू का चुनाव किया गया है जिसमें से एक जीएमसी स्टेडियम है और दूसरा है जवाहर लाल नेहरु स्टेडियम।

फटोर्डा स्टेडियम तीसरी बार फाइनल की मेज़बानी करेगा।

इस सीज़न में “अवे गोल’ नियम को ख़ारिज कर दिया गया है। टीमों के एग्रीगेट गोल की गिनती की जाएगी और वही टीम फाइनल का सफ़र तय करेगी।

लीग की टॉप टीम हैं एटी के मोहन बागान जिसने 17 मुकाबलों में 36 अंक बटोरे हैं। वहीं दूसरे स्थान पर मुंबई सिटी एफसी 34 अंकों के साथ मौजूद है। यह दोनों टीमें सेमीफाइनल के लिए क्वालिफाई कर चुकी हैं।

हैदराबाद एफसी के खाते में 18 मुकाबलों के बाद कुल 27 अंक हैं और वहीं नॉर्थईस्ट एफसी ने 17 मुकाबलों में 26 अंक अपने नाम किया हैं। एफसी गोवा की बात की जाए तो 17 मुकाबले इस टीम ने भी खेले हैं और इन्होंने 24 अंक हासिल किए हैं। बेंगलुरु एफसी के हाथ आए 22 अंक और उन्होंने कुल 18 मुकाबले खेले हैं। जमशेदपुर फसी की झोली में 21 अंक हैं और उन्होंने भी 18 मुकाबले हैं और वहीं ईस्ट बंगाल ने 17 मुकाबलों में 17 अंक हासिल किए हैं। यह सभी टीमें प्लेऑफ की लड़ाई में बने हुए हैं।

चेन्नईयिन एफसी (18 अंक, 18 मुकाबले), केरला ब्लास्टर्स (16 अंक, 18 मुकाबले) और सबसे निचले स्थान पर मौजूद ओडिशा एफसी (9 अंक, 17 मुकाबलों) के साथ बाहर हो गए हैं।

लीग फेज़ के अंत तक टेबल को टॉप करने वाली टीम को शील्ड विजेता कहा जाएगा और वह अगले सीज़न होने वाले एएफसी चैंपियन लीग के ग्रुप स्टेज में क्वालिफाई कर लेंगे। वहीं ISL ट्रॉफी फाइनल जीतने वाली टीम को मिलेगी।

ISL 2020-21 प्लेऑफ और फाइनल का दिन

टीमों का चयन लीग स्टेज के आखिरी मुकाबले के बाद होगा।

5 मार्च, शुक्रवार

सेमीफाइनल 1 – पहला लेग

6 मार्च, शनिवार

सेमीफाइनल 2 – दूसरा लेग

8 मार्च, सोमवार

सेमीफाइनल 1 – दूसरा लेग

9 मार्च, मंगलवार

सेमीफाइनल 2 – दूसरा लेग

13 मार्च, शनिवार

फाइनल