खेलो इंडिया 2020 में महाराष्ट्र ने पदकों का शतक किया पूरा

महाराष्ट्र के 25 गोल्ड के बाद हरियाणा और दिल्ली का दबदबा कायम। 

लेखक जतिन ऋषि राज ·

खेलो इंडिया यूथ गेम्स में महाराष्ट्र ने अपना दबदबा कायम रखा। 2020 संस्करण की बात करें तो अब तक महाराष्ट्र के नाम 25 गोल्ड, 30 सिल्वर और 48 ब्रॉन्ज़ मेडल हैं।

रिद्मिक जिम्नास्टिक्स, अंडर-21 में अदीति ड़ान्डेकर ने गोल्ड अपने नाम किया तो वहीं कीर्ति भोईटे ने गर्ल्स 200 मीटर रेस और स्टेट्स 4x100 मीटर रिले में फतह हासिल की।

खेलो इंडिया के दौरान महारष्ट्र की अदीति ड़ान्डेकर। फोटो क्रेडिट KIYG मीडिया  

हरियाणा में मेडल की हरियाली

खेलों की बात की जाए तो हरियाणा भी कहां पीछे रहता है। कबड्डी के हवाले से हरियाणा ने 4 गोल्ड मेडल पर अपने नाम की मुहर लगाई और अब वे मेडल काउंट के दूसरे नंबर पर काबिज़ हैं।

कबड्डी के बाद आर्चरी और एथलेटिक्स में हरियाणा ने 3-3 गोल्ड मेडल हासिल कर खुद को एक सम्मानजनक स्थिति में डाला। इसके अलावा साइक्लिंग, जिम्नास्टिक्स और एथलेटिक्स के 500 मीटर, अंडर-17 वर्ग में 1-1 गोल्ड मेडल अपने नाम किए। आर्चरी में तो मेडल जीतने का सिलसिला थमा ही नहीं और इस राज्य ने तीरंदाज़ी में कुल 7 मेडल अपने नाम किए।एथलेटिक्स, जूडो, रिले में सफलता

एथलेटिक्स में तमिलनाडू की स्थिति भी मज़बूत रही, और उन्होंने 5 गोल्ड मेडल के साथ अपने कारवां को आगे बढ़ाया। इस संख्या में 3 मेडल ब्यॉज़ अंडर 21 लॉन्ग जम्प में आए। आर्टिस्टिक जिमनास्टिक्स के हवाले से बात करें तो उत्तर प्रदेश के गौरव कुमार व जम्मू और कश्मीर की बवलीन कौर ने अपने-अपने वर्गों में सबसे बड़ा स्थान हासिल किया। अंडर-17 की 1500 मीटर रेस में उत्तम यादव ने पोडियम का सबसे ऊपरी हिस्सा अपने हक में किया।

राजस्थान के माधवेंद्र सिंह ने ब्यॉज़ वर्ग के 110 मीटर में गोल्ड पर ठप्पा लगाया तो दिव्यांशु पुरी ने 81 किग्रा इवेंट में गोल्ड पर अपना हक जमाया।

जूडो इवेंट में गुजरात ने शानदार खेल दिखाते हुए 7 गोल्ड मेडल की चमक को अपने नाम किया। इसके अलावा रुषिराज ने अंडर-21, 10 मीटर एयर राइफल में अपनी धौंस जमाई और सबसे बड़ा मेडल जीता।

केरल की ऐंसी सोजन ने अपनी उम्दा फॉर्म को जारी रख अपने राज्य को तीसरे गोल्ड से नवाज़ा। गौरतलब है कि इस एथलीट ने 4x100 मीटर रिले की अगुवाई करते हुए यह कारनामा किया। मध्य प्रदेश की मुस्कान किरार ने आर्चरी के गर्ल्स अंडर-21 इवेंट और चिराग विद्यार्थी ने ब्यॉज़ के अंडर-17 इवेंट में गोल्ड मेडल पर अपना कब्ज़ा जमाया।