डेनमार्क ओपन के क्वार्टर-फाइनल में पहुंचे किदाम्बी श्रीकांत

भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी ने भले ही मैच की शुरुआत धीमी की, लेकिन उन्होंने जल्द ही अपने कनाडियाई प्रतिद्वंदी को सीधे सेटों में हराकर जीत हासिल कर ली।

लेखक रितेश जायसवाल ·

भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी किदांबी श्रीकांत (Kidambi Srikanth) ने कनाडा के शटलर जेसन एंथोनी हो-श्यू (Jason Anthony Ho-Shue) को गुरुवार को ओडिन्स में चल रहे टूर्नामेंट में 21-15, 21-14 से हराकर डेनमार्क ओपन 2020 के एकल क्वार्टर-फाइनल में जगह बना ली है।

BWF सुपर 750 टूर्नामेंट में पांचवीं वरीयता प्राप्त श्रीकांत और 2017 में इस इवेंट के पूर्व चैंपियन का अगले दौर में वियतनाम में जन्मे आयरिश खिलाड़ी नहत गुयेन (Nhat Nguyen) और चीनी ताइपे के चाउ टिएन चेन (Chou Tien Chen) के बीच मुक़ाबला होगा। गुयेन इस टूर्नामेंट में दूसरी वरीयता प्राप्त खिलाड़ी हैं।

पहले दौर में एक अन्य भारतीय शटलर शुभंकर डे को बाहर कर चुके 22 वर्षीय कनाडियाई बैडमिंटन खिलाड़ी के खिलाफ श्रीकांत ने एक अस्थायी शुरुआत की, लेकिन जल्द ही अपने पसंदीदा क्रॉस कोर्ट स्मैश से हो-शु को परेशान करते हुए उन्होंने मुक़ाबले पर अपनी पकड़ बना ली।

मैच के पहले मध्य अंतराल में भारतीय खिलाड़ी ने 11-8 की बढ़त बना ली। इसके बाद श्रीकांत का आत्मविश्वास काफी बढ़ता हुआ देखा गया। अपने खेल में और अधिक बदलाव लाकर ड्रॉप शॉट्स और आक्रामक ब्लॉक शॉट्स का उपयोग करते हुए उन्होंने अच्छा प्रभाव डाला और पहला गेम 21-15 से जीत लिया।

दूसरे गेम में हो-शु को काफी मुश्किल में देखा गया। लेकिन उन्होंने श्रीकांत को लंबी रैलियों में उलझाने की कोशिश और कुछ गलतियां करने पर मजबूर करने का प्रयास किया। हालाँकि पूर्व विश्व नंबर-1 खिलाड़ी ने अपने अनुभव का एक बार फिर से उपयोग करते हुए सेट के मध्य में तीन अंकों का लाभ उठाया।

खेल के फिर से शुरू होने के बाद श्रीकांत ने अपनी गति को बढ़ाया और दूसरे सेट को आराम से 21-14 के अंतर से अपने नाम कर लिया।

श्रीकांत ने इससे पहले इंग्लैंड के टोबी पेंटी (Toby Penty) को हराकर हो-शू के खिलाफ दूसरे दौर के मुकाबले को तय किया था।