थाईलैंड ओपन से पहले सबसे बेहतर स्थिति में रहना चाहते हैं किदांबी श्रीकांत  

सर्वश्रेष्ठ शटलर पहले से ही BWF 1000 सीरीज टूर्नामेंट में हिस्सा लेने के लिए बैंकॉक में हैं मौजूद

लेखक दिनेश चंद शर्मा ·

कोरोना महामारी के कारण एक साल खराब होने के बाद किदांबी नये साल में संकल्प लिया है कि आगामी व्यस्त अंतरराष्ट्रीय कैलेंडर के लिए फिट होने के लिए वो हर संभव कोशिश करेंगे।

घातक वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए विश्वभर में यात्राओं पर प्रतिबंध लगा दिए जाने के कारण कई टूर्नामेंट रद्द हो गए। यहां तक ​​कि प्रशिक्षण कोर्ट भी बंद कर दिये गए। इस कारण एथलीटों को महत्वपूर्ण समय, प्रशिक्षण से दूर रहकर घर के अंदर बिताना पड़ा।

बैडमिंटन खिलाड़ी ने कहा, "मैं शारीरिक रूप से फिट रहना चाहता हूं और सभी टूर्नामेंटों में अच्छा प्रदर्शन करना चाहता हूं। नए साल में शारीरिक रूप से बेहतर बने रहने का संकल्प लिया है। मुझे लगता है कि मैं अपनी शारीरिक फिटनेस पर काम करने और इसे बेहतर बनाने में कामयाब रहा।"

पिछले साल के अपने अनुभवों से वो समझ गये हैं कि कोई भी नया अनुबंध लेने से पहले कोई खतरा नहीं उठा सकते। इसलिए वो पहले ही बैंकॉक पहुंच गए और 12 जनवरी से शुरू होने वाले थाईलैंड ओपन में खेलने के लिए तैयार हैं।

उन्होंने पहला खिताब 2013 में थाईलैंड ओपन के फाइनल में स्थानीय पसंदीदा खिलाड़ी बून्सक पोंसाना पर जीत के साथ हासिल किया था। उन्होंने थाई खिलाड़ी को चुनौती देते हुए सीधे गेम में हराते हुए खिताब अपने नाम किया।

बैडमिंटन मैच के दौरान किदांबी श्रीकांत

वहीं, भारत की हॉकी टीम के कप्तान मनप्रीत सिंह ने भी 2021 में अपनी फिटनेस को लेकर लक्ष्य तय किए हैं।

मनप्रीत ने कहा, "इस साल मैं फिटनेस में गति और ताकत में सुधार करने का लक्ष्य हासिल करना चाहता हूं। जिससे फिटनेस और मानसिक स्वास्थ्य बना रहे। हालांकि सब कुछ वैसा नहीं हुआ जैसी मैंने योजना बनाई थी, लेकिन इस सब के बावजूद मैं फिटनेस रूटीन का पालन करने में कामयाब रहा।"

उन्होंने कहा, "परिस्थिति चाहे कितनी ही मुश्किल क्यों ना हो लेकिन सकारात्मक होने और धैर्य रखने से उसका कोई फर्क नहीं पड़ता, क्योंकि मैंने सीखा है कि आप सकारात्मक रहते हैं तो निश्चित रूप से हर परेशानी से बाहर निकलने का रास्ता तलाश कर लेते हैं।"

कोरोनो वायरस का नया स्ट्रेन मिलने और संक्रमितों की संख्या में इजाफा होने से दक्षिण अफ्रीका के लिए उनका निर्धारित दौरा रद्द कर दिया गया है। दक्षिण अफ्रीका की 'समर सीरीज़' के जरिए करीब एक साल बाद पुरुषों की हॉकी टीम अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिता में वापसी कर रही हैं। टूर्नामेंट 10-27 जनवरी तक केपटाउन में आयोजित होगा।